विकास दुबे का दाहिना हाथ व 50 हजार रुपए का इनामी अपराधी अमर दुबे साहसिक मुठभेड़ में ढेर 
July 8, 2020 • Mr Arun Mishra

लखनऊ (का उ सम्पादन)। दिनांक 08-07-2020 की सुबह जनपद हमीरपुर के मौदहा थानाक्षेत्र में एसटीएफ टीम तथा स्थानीय पुलिस के साथ हुई एक साहसिक मुठभेड़ के दौरान पांच लाख रुपए के इनामी अपराधी विकास दुबे गैंग का शातिर अपराधी व मु0अ0सं0 192/2020 धारा 147/148/149/302/307/394/120बी भादवि व 7 सी0एल0ए0 एक्ट थाना चौबेपुर जनपद कानपुर नगर में वांछित व 50 हजार रुपए के पुरस्कार घोषित कुख्यात अपराधी अमर दुबे घायल हो गया, जिसकी इलाज के दौरान मृत्यु हो गयी। जनपद कानपुर नगर के थाना चौबेपुर पर पंजीकृत मु0अ0सं0 191/2020 धारा 147, 148, 149, 504, 323, 364, 342, 307 भादव व 07 सीएलए एक्ट में वांछित अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु दिनांक 2 व 3-07-2020 को जनपद कानपुर नगर के चौबैपुर थानान्तर्गत बिकरू गांव में तत्कालीन क्षेत्राधिकारी बिल्हौर श्री देवेन्द्र मिश्र के नेतृत्व में भय दोहन करने वाले हिस्ट्रीशीटर, गिरोहबन्द वांछित दुर्दान्त अपराधी विकास दुबे पुत्र राजकुमार दुबे निवासी बिकरू के घर दबिश देने हेतु पुलिस टीम गयी थी। कार्यवाही के दौरान पूर्व नियोजित योजना के अनुसार अपराधी विकास दुबे और उसके साथियों द्वारा छतों से मोर्चा लेकर पुलिस बल पर घात लगाकर ताबड़तोड फायरिंग की गयी जिसमें तत्कालीन क्षेत्राधिकारी बिल्हौर श्री देवेन्द्र मिश्र एवं उनके हमराह तीन उ0नि0 व चार आरक्षी शहीद हो गये थे तथा 06 पुलिसकर्मी घायल हो गये थे। अभियुक्तों द्वारा पुलिस टीम की एक ए0के0-47 रायफल व 01 अदद इन्सास रायफल, 01 अदद 9 MM ग्लाक पिस्टल व 02 अदद 09 MM पिस्टल मय कारतूस के लूट लिया गया था। इस सम्बन्ध में थाना चौबेपुर पर मु0अ0स0 192/20 धारा 147,148,149,302,307,394 भादवि0 व 7 सीएलए एक्ट बनाम 1. विकास दुबे पुत्र रामकुमार दुबे व अमर दुबे पुत्र संजीव दुबे निवासी गण ग्राम बिकरू थाना चौबेपुर जिला कानपुर नगर सहित कुल 21 ज्ञात व 60-70 अज्ञात बदमाशों के विरुद्ध पंजीकृत हुआ था। इस दुर्दान्त अपराधी एवं उसके गिरोह के अपराधियों के विरूद्ध कार्यवाही एवं गिरफ्तारी हेतु पुलिस महानिरीक्षक, एस0टी0एफ0, उ0प्र0 एवं पुलिस उपमहानिरीक्षक, एस0टी0एफ0, उ0प्र0 द्वारा एस0टी0एफ0 मुख्यालय एवं फील्ड इकाईयों में कई टीमें गठित कर कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया था। जिस पर एसटीएफ टीमों द्वारा उक्त अपराधियों के सम्बन्ध में अभिसूचना संकलन की कार्यवाही प्रारम्भ की गई तथा अभिसूचना तन्त्र को सक्रिय किया गया। इसी क्रम में गठित टीमों द्वारा जनपद उन्नाव, कानपुर नगर व आस पास के जनपदों एवं विभिन्न प्रान्तों में इन अपराधियों की सरगरमी से तलाश की जा रही थी। इसी दौरान उपरोक्त घटना के वांछित कर्तिकेय मिश्र उर्फ प्रभात की तलाश में हरिनगर फरीदाबाद स्थित मकान में दबिश दी गयी जहां मुठभेड़ के बाद कार्तिकेय उर्फ प्रभात, अंकुर मिश्र तथा श्रवण मिश्र को गिरफ्तार कर पुलिस से लूटी गयी 9 एमएम की 02 अदद सरकारी पिस्टल व 02 अदद अवैध पिस्टल तथा 44 जिन्दा कारतूस बरामद किया गया। इस सम्बन्ध में थाना खेड़ीपुल, फरिदाबाद मं मु0अ0सं0 215/2020 धारा 186, 212, 307, 253, 379, 411 भादवि व 25 आर्म्स एक्ट का अभियोग हरियाणा पुलिस द्वारा पंजीकृत कराया गया। एनसीआर में उक्त अपराधियों की गिरफ्तारी में लगायी गयी एसटीएफ टीम द्वारा इनसे विस्तृत पूछताछ की गयी। अभिसूचना संकलन के दौरान सूचना प्राप्त हुई कि उक्त घटना में वांछित व 50 हजार रुपए का इनामी अपराधी अमर दुबे जनपद हमीरपुर के मौदहा थानान्तर्गत अरतरा गांव में कहीं छिपा हुआ है। इस सूचना के सत्यापन एवं गिरफ्तारी हेतु एस0टी0एफ0 मुख्यालय से उ0नि0 एस0टी0एफ0 सत्यप्रकाश सिंह के नेतृत्व में मुख्य आरक्षी अरविन्द कुमार, मुख्य आरक्षी विनोद कुमार, आरक्षी राम सिंह, आरक्षी कमान्डो राजीव सिंह व आरक्षी चालक मुन्ना लाल की एक टीम गठित कर जनपद हमीरपुर रवाना किया गया। जनपद हमीरपुर के थाना मौदहा पहुंचकर जनपदीय पुलिस से सूचना साझा करते हुए प्रभारी निरीक्षक मनोज कुमार शुक्ला के साथ उनके हमराही उ0नि0 प्रमोद कुमार सिंह, का0 पंकज कुमार, का0 कप्तान सिंह को साथ लेकर अरतरा गांव की तरफ चल दिये, नेशनल रोड पर जल संस्थान मौदहा के नल कूप से कुछ दूर पहले ही हमराही मुखबिर खास ने पीटू बैग लिए हुए हाइवे की तरफ जाते हुए एक व्यक्ति की ओर इशारा करते हुए बताया कि यही वांछित अभियुक्त अमर दुबे है, जिसे आप लोग खोज रहे हैं, यह बताकर इशारा करके मुखबिर वापस चला गया। एस0टी0एफ0 व पुलिस टीम अपने अपने वाहनों को पीछे छोड़कर उक्त व्यक्ति की ओर बढ़ी कि उक्त व्यक्ति ने अपना पिटू बैग जमीन पर रखकर पुलिस टीम को निशाना बनाकर जान से मारने की नीयत से फायर करना शुरू कर दिया, जिससे उ0नि0 सत्य प्रकाश सिंह के पहने हुए बुलेट प्रूफ जैकेट पर गोली लगी। इस पर एस0टी0एफ0 टीम द्वारा उक्त अभियुक्त को आत्मसमर्पण करने को कहा तो अभियुक्त अमर दुबे पुलिस पार्टी को भद्दी भद्दी गाली देते हुए पुनः फायर करने लगा। जवाबी फायरिंग में अपराधी की फायरिंग रेन्ज में घुसकर गिरफ्तारी का प्रयास किया, जिसमें एक गोली आरक्षी कमान्डो राजीव कुमार सिंह की दाहिनी भुजा को चोटिल करते हुए निकल गयी। कवरिंग फायरिंग में अपराधी अमर दुबे घायल होकर जमीन पर गिर गया। जिसे तत्काल सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मौदहा भेजा गया जहां चिकित्सक ने परीक्षणोपरान्त मृत घोषित कर दिया।

अभियुक्त अमर दुबे का अपराधिक इतिहास:

1- मु0अ0सं0 65/2020 147, 148, 386, 323, 504, 506 भादवि थाना चौबेपुर, जनपद कानपुर नगर

2- 191/2020 147,148, 504, 323, 364, 342, 307 भादवि थाना चौबेपुर, कानपुर नगर

3- 192/2020 147, 148, 149, 302, 307, 394 भादवि व 7 सीएल ए एक्ट थाना चौबेपुर, कानपुर नगर

उक्त पुलिस मुठभेड़ के सम्बन्ध में थाना मौदहा, हमीरपुर पर मु0अ0सं0 281/2020 धारा 307, 504 भादवि व मु0अ0सं0 282/2020 धारा 3/35 आर्म्स  एक्ट का अभियोग पंजीकृत कराया गया है। अग्रिम वैधानिक कार्यवाही स्थानीय पुलिस द्वारा की जा रही है।

अभियुक्त का विवरण:

अमर दुबे पुत्र संजीव दुबे नि0 ग्राम बिकरू, थाना चौबेपुर, जनपद कानपुर नगर।

बरामदगीः

1- 01 अदद 32 बोर अवैध कन्ट्री मेड पिस्टल।

2- 01 अदद अवैध तमन्चा 315 बोर।

3- 05 अदद जिन्दा कारतूस 315 बोर।

4- 04 अदद खोखा कारतूस 32 बोर।

5- 02 अदद जिन्दा कारतूस 32 बोर।

6- 07 अदद खोखा कारतूस 9 एमएम।

घटनास्थल का दिनांक समय / स्थान:-

दिनांक 08-07-2020 समयः 06.30 जनपद हमीरपुर के मौदहा थाना क्षेत्र