1000 राशन पैकों से लदी गाड़ियों को जिलाधिकारी ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना
April 19, 2020 • Mr Arun Mishra

कानपुर (का उ सम्पादन)। फीडिंग इंडिया कानपुर, कानपुर परिवर्तन फोरम और फिक्की फ्लो कानपुर द्वारा जरूरतमंदों के लिए तैयार किये 1000 राशन पैकों को प्रातः साढ़े 9 बजे, जिलाधिकारी ब्रह्मदेव तिवारी ने अपने आवास से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। ये वितरण लॉकडाउन की समाप्ति तक जारी रहेगा। फीडिंग इंडिया कानपुर के संस्थापक साहिब सेठी, कानपुर परिवर्तन फोरम के संस्थापक अनिल गुप्ता और फिक्की फ्लो कानपुर की अध्यक्ष अनुराधा वार्शणे और आरती गुप्ता मौजूद रहे। पिछले 15 दिनों में इन संस्थाओं ने मिलकर 10 हज़ार से ज़्यादा राशन पैकेट शहर के 120 से ज़्यादा इलाकों में बाँटे है। इनके द्वारा काकादेव, कल्याणपुर, पनकी, रनिया, गुजैनी, नौबस्ता, जाजमऊ, शुक्लागंज व उन्नाव जैसे इलाकों में जरूरतमंदों के घरों तक राशन पहुँचाया। वे पूरे शहर में 100 टन से अधिक अनाज भी वितरित कर चुके हैं। इन संस्थाओं ने लॉकडाउन समाप्त होने तक जरूरतमंदों को राशन पहुँचाने का बीड़ा उठाया है। राशन के पैकेट्स के अलावा इन्होने 10 हज़ार से अधिक पैकेट ताजा पका भोजन भी वितरित किया है। फीडिंग इंडिया के साहिब सेठी ने बताया कि मा प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी और मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ के राष्ट्र के प्रति सेवा भाव का संकल्प सभी नौजवानों को प्रेरित करता है। पुलिस विभाग द्वारा मिले समर्थन और तत्परता के कारण इन संस्थाओं ने बस्तियों में उचित दूरी एवं अनुशासन के साथ वितरण को अंजाम दिया है। वितरण के समय टीम के अन्य वालंटियर्स गौरांग, प्रखर, शाह जी, विकास भी मौजूद रहे। ड्राइव के दौरान सभी आवश्यक सावधानियां जैसे कि मास्क, दस्ताने, टोपी, चश्मा, सेनिटाइज़र आदि का उपयोग किया गया।  राशन को कम से कम 4 फिट की दूरी बनाते हुए घरों के सामने रखा गया।  यह वितरण कार्य रोजाना 4 लोडर गाड़ियों द्वारा किया जाता है जो शहर के अलग अलग हिस्सों में जाकर राशन बाँटती हैं। राहत अभियान के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप किसी भी फेसबुक पेज फीडिंग इंडिया कानपुर, कानपुर परिवर्तन फोरम, फिक्की फ्लो कानपुर पर जा सकते हैं।