30% रेलवे कर्मचारी घर से ही कार्य सम्पादित कर रहे हैं
March 24, 2020 • Mr Arun Mishra
卐 प्रयागराज मंडल द्वारा कोरोना वायरस से बचाव हेतु किये जा रहे सुरक्षात्मक उपाय।
卐 ड्यूटी के समय घर पर ही रहें लेकिन सदैव अलर्ट रहें और बुलाये जाने पर शीघ्रातिशीघ्र आफिस पहुंचना सुनिश्चित करें।
卐  बाहर से खाने पीने की खुली सामग्री मंगाने पर पूर्णतः लगा दी गई है रोक।
卐 यात्री गाड़ियों के बंद कर दिए जाने के कारण कंट्रोल द्वारा खाली रेक को मंडल के विभिन्न स्टेशनों पर रखने का भी किया जा रहा है महत्वपूर्ण कार्य।
 मंडल परिचालन प्रबंधकों ने मंडल कार्यालय में उपस्थित होकर स्वच्छता का निरीक्षण किया।
प्रयागराज (मुख्य संवाददाता, उ म रे)। प्रयागराज मंडल परिचालन की दृष्टि से भारतीय रेलवे का एक महत्वपूर्ण मंडल है तथा परिचालन क्षमता से अधिक गाड़ियों का सञ्चालन सफलता पूर्वक किया जा रहा है। कोरोना वायरस से बचाव हेतु रेलवे द्वारा सभी मेल / एक्सप्रेस एवं पैसेंजर गाड़ियों का परिचालन  दिनांक 31.03.2020 तक बंद कर दिया गया है। केवल मालगाड़ियों का परिचालन किया जा रहा है जिससे बिजली एवं खाद्य सामग्री की आपूर्ति बाधित न हो और देश के नागरिकों को आवश्यक सामग्री आसानी से उपलब्ध हो सके। प्रयागराज मंडल अपने कर्मचारियों एवं उनके परिवार के सदस्यों के स्वास्थय के प्रति सजग है और निरंतर सभी के स्वास्थय  की जानकारी प्राप्त की जा रही है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा दिनांक 23.03.2020 से 25.03.2020 तक प्रयागराज सहित लाॅकडाउन 15 जनपदों के सभी कार्यालयों को बंद कर दिया गया है जिस कारण मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय भी बंद कर दिया गया है, अत्यंत महत्वपूर्ण कार्य हेतु कुछ कर्मचारी मंडल कार्यालय में आकर कार्य कर रहे हैं शेष कर्मचारी घर से ही कार्य सम्पादित कर रहे हैं। यद्यपि यात्री गाड़ियों का परिचालन बंद है लेकिन मालगाड़ियों का परिचालन किया जा रहा है जिस कारण मंडल नियंत्रण कार्यालय में आपरेटिंग कंट्रोल के अतिरिक्त अन्य कंट्रोल में आवश्यकतानुसार ही कर्मचारी कार्यरत हैं।  मंडल नियंत्रण कार्यालय में कर्मचारियों की संख्या लगभग 30 % कम कर दी गई है और कम से कम कर्मचारियों को बुलाया जा रहा है। नियंत्रण कार्यालय में रोस्टर को पुनः संशोधित करके अधिकारियों एवं कर्मचारियों की टीम बनाई गई है जिसमें आवश्यक टीम को लगाया गया है। शेष टीम को घर पर ही रहने हेतु निर्देशित किया गया है और उनका रिकार्ड मेंटेन किया जा रहा है तथा उन्हें निर्देशित किया गया है कि अपनी ड्यूटी के समय घर पर ही रहें लेकिन सदैव अलर्ट रहें और बुलाये जाने पर शीघ्रातिशीघ्र आफिस पहुंचना सुनिश्चित करें। सुरक्षात्मक उपाय करते हुए मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय के 03 गेटों में से 02 गेटों को बंद कर दिया गया है केवल एक गेट से ही प्रवेश एवं निकास की व्यवस्था की गई है। गेट पर परिचय पत्र की जाँच के पश्चात ही अति आवश्यक कर्मचारियों को ही प्रवेश दिया जा रहा है तथा मंडल कार्यालय में बाहरी व्यक्तियों  का प्रवेश पूर्णतः वर्जित कर दिया गया है। मंडल नियंत्रण कार्यालय में हर सीट पर सैनीटाइजर की उपलब्धतता सुनिश्चित की गई है तथा प्रत्येक घंटे पर उसका उपयोग करने हेतु निर्देशित किया गया है। बोर्ड पर तो एक ही कर्मचारी कार्य करता है इसके अतिरिक्त अन्य कर्मचारियों को आपस में एक मीटर की दूरी पर बैठने हेतु आदेशित किया गया है। मंडल नियंत्रण कार्यालय के सभी दरवाजों को खोलकर रखा गया है जिससे दरवाजा खोलने हेतु हैंडल को टच न करना पड़े, सभी पर्दों को हटा लिया गया है , नियंत्रण कार्यालय में अन्य स्टाफ का प्रवेश पूर्णतः वर्जित कर दिया गया है। गर्म पानी की सुविधा हेतु डिस्पैन्सर की सुविधा उपलब्ध कराई गई है जिससे कर्मचारियों को गर्म पानी आसानी से मिल सके। बाहर से खाने पीने की खुली सामग्री मंगाने पर पूर्णतः रोक लगा दी गई है। कर्मचारियों के अनावश्यक आने जाने पर रोक लगाने हेतु प्रत्येक अधिकारियों के पास सुबह भेजी जाने वाली प्रिंटेड कंट्रोल की पोजीशन पर रोक लगा दी गई है केवल टेलीफोन के माध्यम से टेली कांफ्रेंसिंग की जा रही है। यात्री गाड़ियों के बंद कर दिए जाने के कारण कंट्रोल द्वारा खाली रेक को मंडल के विभिन्न स्टेशनों पर रखने का महत्वपूर्ण कार्य भी किया जा रहा है जिसमें उत्तर मध्य रेलवे के 45 रेक एवं अन्य क्षेत्रीय रेलवे के 10 रेक हैं। वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक मन्नू प्रकाश घर से एवं अमन वर्मा तथा सहायक परिचालन प्रबंधक अमित आनंद ने क्रमशः मंडल कार्यालय में उपस्थित होकर स्वच्छता का निरीक्षण किया एवं कर्मचारियों को कार्य करने हेतु निर्देशित किया। रेलवे द्वारा यात्री गाड़ियों का परिचालन  दिनांक 31.03.2020 तक बंद कर दिए जाने के कारण मंडल के स्टेशनों पर दिनांक 31.03.2020 तक यूटीएस काउंटर एवं एटीवीएम मशीन को बंद कर दिया गया है और उद्घोषणा प्रणाली के माध्यम से यात्रियों को अवगत कराया जा रहा है तथा यात्रियों को कोरोना वायरस के प्रति जागरूक भी किया जा रहा है कि अति आवश्यक हो तभी घर से निकलें अन्यथा घर में ही रहें और भीड़-भाड़ वाले स्थानों में जाने से बचें।