आचार्य एवं सह-आचार्य के रूप में चिकित्सा शिक्षकगण को प्रतिनियुक्ति पर माने जाने के प्रस्ताव को स्वीकृति
February 6, 2020 • Mr Arun Mishra

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में यहां लोक भवन में सम्पन्न मंत्रिपरिषद की बैठक में निम्नलिखित महत्वपूर्ण निर्णय लिए जिसमें स्वशासी राज्य चिकित्सा महाविद्यालय में कार्यरत प्रान्तीय चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवा से लिए गए समस्त पद नामित आचार्य एवं सह-आचार्य के रूप में पद नामित चिकित्सा शिक्षकगण को प्रतिनियुक्ति पर माने जाने हेतु बायलॉज में संशोधन का निर्णय लिया गया। मंत्रिपरिषद ने केन्द्र सहायतित योजना Establishment of New Medical Colleges Attached with Existing District/Referral Hospitals (फेज-1) के अन्तर्गत स्वशासी राज्य चिकित्सा महाविद्यालय-अयोध्या, बस्ती, बहराइच, फिरोजाबाद एवं शाहजहांपुर में कार्यरत प्रान्तीय चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवा से लिए गए समस्त पद नामित आचार्य एवं सह-आचार्य के रूप में पद नामित चिकित्सा शिक्षकगण को प्रतिनियुक्ति पर माने जाने के प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान कर दी है। मंत्रिपरिषद ने इसके लिए स्वशासी राज्य चिकित्सा महाविद्यालय के सोसाइटी गठन सम्बन्धी बायलॉज के प्रस्तर–35 में संशोधन का प्रस्ताव भी अनुमोदित कर दिया है। ज्ञातव्य है कि अयोध्या, बस्ती, बहराइच, फिरोजाबाद एवं शाहजहांपुर में स्थापित स्वशासी राज्य चिकित्सा महाविद्यालयों में वर्तमान शैक्षणिक सत्र से एमबीबीएस पाठ्यक्रम प्रारम्भ हो गया है, जिसमें 100-100 नवप्रवेशी छात्र अध्ययनरत हैं।