आईआईटी कानपुर में छठा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस कार्यक्रम ऑनलाइन आयोजित
June 21, 2020 • Mr Arun Mishra

 वेबेक्स और फेसबुक लाइव के माध्यम से सत्र का नेतृत्व करते योग प्रशिक्षक डॉ एस एल यादव और डॉ उर्मिला यादव। 

> अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2020 के अवसर पर आईआईटी कानपुर भी योग दिवस समारोहों की श्रंखला में हुआ शामिल।

> इस वर्ष का विषय 'परिवार के साथ घर पर योग' था।

कानपुर (इन्फो सेल, आईआईटी कानपुर)। भागदौड़ भरी जिंदगी में तन और मन का संतुलन अत्यंत आवश्यक है। इसके लिए शारीरिक, मानसिक व भावनात्मक स्वास्थ्य वर्धन सिर्फ योग से ही संभव है। वर्तमान परिप्रेक्ष में कोविड 19 जैसी महामारी से निपटने में भी योग की प्रासंगिकता बढ़ी है और योग करने से इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाया जा सकता है। योग मानव मात्र के कल्याण के लिए विश्व को " सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तु निरामयाः " का सन्देश देने का सशक्त माध्यम रहा है। गत वर्षों की तरह इस वर्ष भी आईआईटी कानपुर प्रांगण में मीडिया लैब के माधयम से सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए  वेबेक्स ऑनलाइन सॉफ्टवेयर के माध्यम से अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2020 का आयोजन रविवार 21 जून सुबह 7 बजे से 8 बजे तक सफलता पूर्वक किया गया। जिसमें परिसर वासियों ने बढ़-चढ़कर ऑनलाइन हिस्सा लिया। इसमें परिसरवासियों और छात्रों को स्कन्ध चालन क्रियाओं से लेकर भुजंगासन, मकरासन, भद्रासन, वक्रासन, त्रिकोण आसन, ताड़ासन, वृक्षासन, पवनमुक्तासन, भ्रामरी, कपालभाति, अनुलोम-विलोम आदि क्रियाओं का योगाभ्यास कराया गया। संस्थान में आयोजित यह कार्यक्रम देश दुनिया में एक सांस्कृतिक विरासत की पहचान को प्रदर्शित करती है। भारत सरकार के आयुष मंत्रालय ने योग कार्यक्रम के दौरान किये जाने वाले योगासन के बारे में एक कामन प्रोटोकॉल निर्धारित किया है, जिसे संस्थान में योजनाबद्ध तरीके से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए ऑनलाइन सॉफ्टवेयर की सहायता से निर्धारित समय में संचालित किया किया गया। वर्चुअल सॉफ्टवेयर प्रोग्राम से इस योग प्रदर्शन का नेतृत्व नेचुरोपैथी और योग केंद्र आईआईटी कानपुर के योग प्रशिक्षक डॉ एस एल यादव और डॉ उर्मिला यादव ने किया। इस योग कार्यक्रम में आईआईटी कानपुर के निदेशक, डीन ऑफ़ स्टूडेंट अफेयर्स, असिस्टेंट रजिस्ट्रार और फैकल्टी योगा कोऑर्डिनेटर आदि ने योग किया।