आवंटित धनराशि का सदुपयोग जारी दिशा - निर्देशों के अनुरूप किया जाए : उप मुख्यमंत्री
August 20, 2020 • Mr Arun Mishra

> राज्य सड़क निधि से विभिन्न जनपदों के 69 मार्गों के चालू कार्यों हेतु अवशेष धनराशि के सापेक्ष 59 करोड़ 86 लाख 12 हजार रुपए की धनराशि आवंटित की गयी है।

> राज्य सड़क निधि लेखाशीर्षक 3054 के अन्तर्गत विभिन्न जनपदों के 20 निर्माणाधीन सम्पर्क मार्गों के लिये 49 करोड़ 61 लाख 5 हजार रुपए की धनराशि अवमुक्त की गयी है।

> केन्द्रीय मार्ग निधि योजना के अन्तर्गत 15 करोड़ रुपए की धनराशि का आवंटन किया गया है।

लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के निर्देशों के अनुपालन में उ प्र शासन द्वारा राज्य सड़क निधि से विभिन्न जनपदों के 69 मार्गों के चालू कार्यों हेतु अवशेष धनराशि के सापेक्ष 59 करोड़ 86 लाख 12 हजार रुपए की धनराशि आवंटित की गयी है। इन कार्यों में जनपद बरेली में 6 कार्य, जनपद बदायूं में 14 कार्य, बहराईच में 3 कार्य, लखनऊ में 3 कार्य, गौतमबुद्धनगर में 5 कार्य, गाजियाबाद में 12, हापुड़ में 9, सोनभद्र में 4, प्रयागराज में 4, सहारनपुर में 3, चित्रकुट में 2, बांदा, सम्भल, बुलन्दशहर व मिर्जापुर में 1-1 मार्गों पर कार्य चल रहा है। राज्य सड़क निधि लेखाशीर्षक 3054 के अन्तर्गत जनपद हमीरपुर के 3, गोण्डा के 6, प्रयागराज के 10 तथा मथुरा में 1 निर्माणाधीन सम्पर्क मार्गों के लिये भी 49 करोड़ 61 लाख 5 हजार रुपए की धनराशि उ प्र शासन द्वारा अवमुक्त की गयी। इस सम्बन्ध में आवश्यक शासनादेश उ प्र शासन लोक निर्माण अनुभाग - 1 द्वारा जारी कर दिये गये हैं। केन्द्रीय मार्ग निधि योजना के अन्तर्गत जनपद झांसी में मोठ भाण्डेर सम्पर्क मार्ग के चालू कार्य हेतु 3 करोड़ 90 लाख रुपए, जनपद सोनभद्र में एमएमडीसीबी मार्ग के 44 किमी से छत्तीसगढ़ बार्डर तक मार्ग वाया चपकी-बचरा-भवन-नवाटोला-सीसटोला मार्ग के चैड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण के चालू कार्य हेतु 50 लाख रुपए तथा जनपद सोनभद्र में ही एमएमबीसीबी मार्ग के किमी 17 से छत्तीसगढ़ बार्डर तक मार्ग वाया लिलासी - कुदरी - धनखोर - सांगोबांध - मनरूटोला मार्ग 1.5 लेन हेतु चैड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण के चालू कार्य हेतु 60 लाख रुपए और सोनभद्र जनपद में ही वाराणसी शक्तिनगर मार्ग हेतु 10 करोड़ रुपए कुल मिलाकर 15 करोड़ रुपए की धनराशि आवंटन किया गया है। इन कार्यों की स्वीकृत / प्राविधिक लागत  202 करोड़ 61 लाख रुपए है, जिसके सापेक्ष अब तक 88 करोड़ 53 लाख 65 हजार रुपए की धनराशि का आवंटन किया जा चुका है। उप मुख्यमंत्री श्री मौर्य ने निर्देश दिये हैं कि आवंटित धनराशि का सदुपयोग जारी दिशा - निर्देशों के अनुरूप किया जाए तथा सभी कार्य निर्धारित समय - सीमा के अन्तर्गत अनिवार्य रूप से पूरे किये जाएं।