अब देश-विदेश के लोग पूजा-अर्चना ऑनलाइन कर सकेंगे : योगी आदित्यनाथ
June 9, 2020 • Mr Arun Mishra
> करीब 7 : 15 बजे बाबा के दरबार पहुंचे, 20 मिनट मंदिर परिसर में रहे मुख्यमंत्री।
> श्री काशीविश्वनाथ मंदिर के गर्भ गृह स्थित ताड़केश्वर मंदिर में ऑनलाइन दर्शन पूजन का मुख्यमंत्री ने किया शुभारम्भ।
> मुख्यमंत्री ने राज भवानी उत्तरी द्वार पर लगे आटोमेटिक सेनिटाइज़ेशन मशीन से हाथों को सेनिटाइज़ करने के बाद उसी द्वार से मंदिर में किया प्रवेश।
 
न्यूयार्क से प्रथम डिजिटल माध्यम से पूजा कर रहे नागरिक से वार्ता करते मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी साथ में हैं पर्यटन एवं धर्मार्थ कार्य राज्य मंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी और वाराणसी विकास प्राधिकरण के सचिव एवं श्री काशी विश्वनाथ मंदिर के मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्री विशाल सिंह।  (फोटो : मुख्यमंत्री सूचना परिसर)
 
वाराणसी (का उ सम्पादन)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने सोमवार 8 जून को श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में गर्भगृह के बाहर से ही बाबा के दर्शन कर ऑनलाइन पूजा का उद्घाटन किया। उन्होंने ई पूजा का बटन दबाकर शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री जी ने इस अवसर पर न्यूयार्क से पूजा कर रहे नागरिक से वार्ता कर उनकी अनुभूति पूछी एवं प्रथम डिजिटल माध्यम से पूजा करने के लिए शुभकामनाएं दी। मुख्यमंत्री जी ने श्री विश्वनाथ धाम के विकास कार्यों का स्थलीय निरिक्षण किया एवं विकास कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने श्री काशी विश्वनाथ कॉरिडोर की प्रगति की जानकारी प्राप्त की। धर्मार्थ कार्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ नीलकंठ तिवारी तथा मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल ने कॉरिडोर प्रगति के संबंध में विस्तार से अवगत कराया। भ्रमण के दौरान मुख्यमंत्री जी ने श्री शिव प्रसाद गुप्त मण्डलीय चिकित्सालय के कोविड-19 ट्रूनेट लैब का उद्घाटन भी किया। इस अवसर पर पर्यटन एवं धर्मार्थ कार्य राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ नीलकंठ तिवारी, स्टाम्प तथा न्यायालय शुल्क, पंजीयन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रविन्द्र जायसवाल, श्री काशी विश्वनाथ मंदिर ट्रस्ट के कार्यपालक अधिकारी विशाल सिंह सहित शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।