अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर राज्य में योग दिवस चैलेन्ज, उ प्र प्रतियोगिता का होगा आयोजन
June 19, 2020 • Mr Arun Mishra

> मुख्यमंत्री ने 6वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की तैयारियों की समीक्षा की।

> अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रमों को शीघ्रता से अंतिम रूप देकर उनका व्यापक प्रचार-प्रसार कराएं : मुख्यमंत्री

> इस बार अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का कार्यक्रम योग एट होम (घर पर योग), परिवार के साथ योग की संकल्पना के साथ सम्पन्न किया जाए : मुख्यमंत्री

गुरुवार 18 जून को मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ अपने सरकारी आवास पर 5 कालिदास मार्ग पर अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस की तैयारियों के संबंध में बैठक करते हुए।     (फोटो : मुख्यमंत्री सूचना परिसर)

लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने 21 जून, 2020 को 6वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रमों को शीघ्रता से अंतिम रूप देकर उनका व्यापक प्रचार–प्रसार कराए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में यह कार्यक्रम प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर संदेश तथा भारत सरकार के सामान्य योग प्रोटोकॉल को सम्मिलित करते हुए आयोजित किया जाए। इस बार अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का कार्यक्रम योग एट होम (घर पर योग), परिवार के साथ योग की संकल्पना के साथ सम्पन्न किया जाए। मुख्यमंत्री योगी गुरुवार 18 जून को अपने सरकारी आवास पर 6वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर प्रस्तावित प्रतियोगिता योग दिवस चैलेन्ज, उत्तर प्रदेश का आयोजन तथा विजेताओं का चयन पूरी तरह पारदर्शी मानदण्डों के आधार पर किया जाना चाहिए। बैठक में आयुष विभाग द्वारा एक प्रस्तुतीकरण दिया गया, जिसमें अवगत कराया गया कि भारत सरकार द्वारा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर प्रात: 06:30 बजे से दूरदर्शन पर योग दिवस कार्यक्रम का प्रसारण किया जाएगा। इस दौरान प्रधानमंत्री जी के अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर सम्बोधन के साथ ही प्रात: 07:00 बजे से 07:45 बजे तक सामान्य योग प्रोटोकॉल का प्रसारण किया जाएगा। इस प्रसारण के दौरान ही प्रदेशवासियों के लिए मुख्यमंत्री जी का अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का सम्बोधन भी प्रसारित किया जाएगा। मुख्यमंत्री जी को यह भी अवगत कराया गया कि भारत सरकार द्वारा 6वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर वीडियो ब्लॉगिंग प्रतियोगिता मेरा जीवन मेरा योग का आयोजन किया जा रहा है। इसी तर्ज पर राज्य में योग दिवस चैलेन्ज, उत्तर प्रदेश प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। प्रतियोगिता का आयोजन राज्य व जनपद स्तर पर किया जाएगा। प्रतियोगिता में प्रथम तीन स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को पुरस्कृत भी किया जाएगा। प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए राज्य के किसी भी जनपद के प्रतिभागी को दूरदर्शन तथा सोशल मीडिया पर प्रसारित हो रहे सामान्य योग प्रोटोकॉल के अनुसार योग करते हुए अपनी 03 से 05 मिनट की योगाभ्यास की वीडियो सोशल मीडिया, यथा फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यू ट्यूब पर अपलोड करनी होगी। इसके साथ ही, अपनी पोस्ट में #YogawithCMYogi मार्क करना होगा। साथ ही, आयुष सोसाइटी के सोशल मीडिया हैण्डल्स को टैग करना होगा। वीडियो अपलोड करने के पश्चात, प्रतियोगिता हेतु पंजीकरण कराना होगा। इसके लिए दो विकल्प उपलब्ध हैं। प्रथम, आयुष कवच एप का प्रयोग कर रहे प्रतिभागी इस एप के माध्यम से लॉगिन कर पंजीकरण करा सकते हैं। द्वितीय, आयुष कवच एप का प्रयोग नहीं कर रहे प्रतिभागियों को उत्तर प्रदेश राज्य आयुष सोसाइटी, लखनऊ की वेबसाइट www.ayushup.in पर लॉगिन कर पंजीकरण करा सकते हैं। प्रतियोगिता के लिए तीन श्रेणियां महिला, पुरुष एवं योग पेशेवर निर्धारित की गई हैं। महिला व पुरुष श्रेणी के अंतर्गत तीन वर्ग वरिष्ठ नागरिक (60 वर्ष से अधिक), वयस्क (18 से 60 वर्ष) तथा बालक (05 से 17 वर्ष) निर्धारित किए गए हैं। योग पेशेवर श्रेणी के अंतर्गत महिला व पुरुष वर्ग तय किए गए हैं। तीनों श्रेणियों के सभी 08 वर्गों हेतु प्रथम, द्वितीय व तृतीय पुरस्कार दिए जाएंगे। पुरस्कार निर्धारित करने हेतु राज्य स्तर पर हर श्रेणी के प्रत्येक वर्ग में कम से कम 01 हजार तथा जनपद स्तर पर कम से कम 100 प्रतिभागियों द्वारा पंजीकरण कराया जाना आवश्यक है। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर राज्य में आयुष कवच एप तथा उत्तर प्रदेश राज्य आयुष सोसाइटी के फेसबुक पेज पर लाइव योग सेशन, योग लेक्चर सीरीज, इम्युनिटी एवं योग वेबिनार तथा योग-डे लाइव सेशन आदि गतिविधियों का भी आयोजन किया जाएगा। इस अवसर पर आयुष राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) धरम सिंह सैनी, अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह अवनीश कुमार अवस्थी, अपर मुख्य सचिव वित्त संजीव कुमार मित्तल, प्रमुख सचिव आयुष प्रशान्त त्रिवेदी, प्रमुख सचिव संस्कृति जितेन्द्र कुमार, सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार, सचिव पर्यटन एन जी रवि कुमार, सूचना निदेशक शिशिर सहित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।