औद्योगिक क्षेत्र की भूमि के सर्किल रेट बढ़ाये जाने का विरोध करेंगे उद्यमी
July 29, 2020 • Mr Arun Mishra

कानपुर। बुधवार 29 जुलाई को मध्यान्ह 12 बजे कोआपरेटिव एस्टेट प्रशासनिक भवन में चेयरमैन विजय कपूर की अध्यक्षता में दादा नगर औद्योगिक क्षेत्र के उद्यमियों की एक बैठक हुई। बैठक में प्रशासन द्वारा औद्योगिक क्षेत्र की भूमि के सर्किल रेट बढ़ाये जाने के प्रस्ताव पर चिंता जताई गयी और इसका विरोध करने का निर्णय लिया गया। इस विषय में अपना पक्ष रखने हेतु आयुक्त कानपुर मण्डल, जिलाधिकारी कानपुर नगर व एडीएम फाइनेन्स एण्ड रिवेन्यू को पत्र भेजकर उन्हें उद्योगों की चिंताजनक स्थिति से अवगत कराते हुए, इस सर्किल रेट की बृद्धि के प्रस्ताव को वापस लेने का अनुरोध किया गया। कानपुर मण्डलायुक्त को जो पत्र प्रेषित किया गया है उसमें कानपुर इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट कोआपरेटिव एस्टेट के चेयरमैन द्वारा कहा गया है कि इस संक्रमण काल में औद्योगिक इकाइयाँ अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रही हैं। इकाइयों में उत्पादन नहीं हो रहा है, फिर भी कामगारों को वेतन, सरकार को राजस्व और अन्य खर्चे करने पड़ रहे हैं, जिसके कारण अधिकतर उद्योग रूग्ण हैं और बंदी के कगार पर हैं। ज्ञात हुआ है कि शासन द्वारा औद्योगिक क्षेत्र की भूमि के सर्किल रेट में वृद्धि की जा रही है। ऐसे विकट समय, जब उद्यमियों को अपने उद्योगों को बचाने के लिये भी मशक्कत करनी पड़ रही है, में सर्किल रेट में वृद्धि किया जाना, न्यायोचित नहीं प्रतीत हो रहा है और इससे सरकार को प्राप्त होने वाले राजस्व में भी कमी आयेगी। इस कठिन समय को देखते हुए, जब तक स्थिति सामान्य न हो, सर्किल रेट में वृद्धि न किये जाने पर विचार करें, जिससे कानपुर के उद्योग अपने अस्तित्व को बचा सकें। इस कार्यक्रम में कोआपरेटिव इंडस्ट्रियल इस्टेट के चेयरमैन विजय कपूर के साथ उपाध्यक्ष सुरेश पुरी, निदेशक दिनेश आहूजा, संदीप मल्होत्रा, शैलेन्द्र सेठी, हरीश इसरानी, दिनेश कुशवाहा, एडीशनल सेक्रेट्री सतीश प्रकाश, उद्यमी प्रवीन पुरी, प्रेम राज, आर पी सिंह, अशोक जुनेजा, अरूण जैन, श्याम लाल मूलचंदानी, पम्मी खन्ना, सतेन्द्र मोहन धींगरा एवं बहुत से सदस्यगण उपस्थित रहे।