औद्योगिक विकास प्राधिकरणों में भूखण्डों के आवंटन की प्रक्रिया प्रारम्भ करने के निर्देश
April 28, 2020 • Mr Arun Mishra

> प्राधिकरणों में कोविड-19 से सम्बन्धित भारत सरकार के गाइड लाइन का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित हो : सतीश महाना

लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने प्रदेश के सभी औद्योगिक विकास प्राधिकरणों को निर्देश दिए गये कि औद्योगिक भूखण्डों के आवंटन की प्रकिया प्रारम्भ की जाए। साथ ही जो परियोजनाएं पाइपलाइन में हैं, लॉकडाउन खुलते ही उनको धरातल पर उतारने की कार्यवाही में तेजी लायी जाए। श्री महाना ने यह निर्देश सोमवार 27 अप्रैल को विधान भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष में वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से समस्त औद्योगिक विकास प्राधिकरणों की समीक्षा के दौरान दिये। उन्होंने कहा कि प्राधिकरणों में कोविड-19 से सम्बन्धित भारत सरकार के गाइड लाइन का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि भूमि आवंटन के लिए जितने आवेदन प्राप्त हुए हैं, उनका फालोअप कराया जाए। साथ ही लैण्ड एलाटमेंट के प्रोसिसर को तेजी से आगे बढ़ाया जाए। औद्योगिक विकास मंत्री ने कहा कि उद्यमियों से वन-टू-वन सम्पर्क कर लम्बित परियोजनाओं को शुरू कराने के हर सम्भव प्रयास सुनिश्चित किये जाएं। लॉकडाउन के दौरान औद्योगिक क्षेत्र में साफ-सफाई, पानी, भोजन आदि की समुचित व्यवस्था निर्बाध सुनिश्चित की जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि जो उद्यमी अपने परिसर में श्रमिकों के रहने एवं उनके भरण-पोषण के लिए तैयार हैं, उनकी फैक्ट्री शुरू कराने पर विचार किया जाए। उन्होंने सभी औद्योगिक विकास प्राधिकरणों से लॉकडाडन के पश्चात उद्योगों को कैसे सामान्य किया जाए, इस संबंध में सुझाव भी आमंत्रित किये हैं। समीक्षा के दौरान नौएडा प्राधिकरण द्वारा यह अवगत कराया गया कि 5 एकड़ के भूखण्डों के आवंटन की प्रक्रिया प्रारम्भ कर दी गयी है। कम्युनिटी किचेन में लगभग 1.15 लाख पैकेट भोजन तैयार किया जा रहा है। आवश्यक वस्तुओं की डोर स्टेप डिलीवरी भी चल रही है तथा डाक्टर ऑन काल की सुविधा भी प्रारम्भ की गई है। इसके अतिरिक्त औद्योगिक विकास प्राधिकरणों द्वारा कर्मचारियों एवं उद्योगों हेतु पास की समस्या बतायी गयी। इस सम्बन्ध में यह निर्देश दिए गये कि जिलाधिकारी से समन्वय कर इस समस्या का निराकरण कराया जाए। यूपीडा द्वारा यह अवगत कराया गया कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे, गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे एवं बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे के निर्माण का कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है। निर्माण कार्य पर सभी सुरक्षात्मक उपाय किए गये हैं। वीडियो कांफ्रेंसिं में अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त आलोक टण्डन, सचिव औद्योगिक विकास सुश्री नीना शर्मा, मुख्य कार्यपालक अधिकारी, नौएडा सुश्री रितु महेश्वरी, मुख्य कार्यपालक अधिकारी ग्रेटर नौएडा नरेन्द्र भूषण, मुख्य कार्यपालक अधिकारी यूपीसीडी अनिल गर्ग सहित गीडा / सीडा / लीडा एवं यूपीडा के वरिष्ठ अधिकारयों द्वारा प्रतिभाग किया गया।