बाल गृहों में भोजनालयों एवं शौचालयों की साफ-सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाये : उपाध्यक्ष, उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग
June 20, 2020 • Mr Arun Mishra

लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग की उपाध्यक्ष श्रीमती सुषमा सिंह ने राजकीय बाल संरक्षण गृहों में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए प्रदेश के समस्त जनपदों के जिलाधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि राजकीय बालिका संरक्षण गृहों में पर्याप्त मात्रा में मास्क एवं सेनेटाईजर की उपलब्धता सुनिश्चित की जाये तथा इनमें सोशल डिस्टेसिंग का पालन कराया जाये। श्रीमती सिंह ने प्रदेश के समस्त जिलाधिकारियों को पत्र प्रेषित कर निर्देशित किया है कि समस्त जनपदों में महिला कल्याण विभाग, समाज कल्याण विभाग, शिक्षा विभाग, दिव्यांगजन कल्याण विभाग द्वारा संचालित राजकीय बालिका गृह, राजकीय सम्प्रेक्षण गृह (किशोरी), मूकबाधिर बालिकाओं के विद्यालय, वृद्धाश्रम, आश्रम पद्धति विद्यालय (बालिका), राजकीय पाश्चात्वर्ती देखरेख संगठन (महिला), दिव्यांगजन महिलाओं हेतु संचालित गृह, राजकीय कस्तूरबा विद्यालय, अनाथालय एवं महिला बंदीगृह में निरूद्ध संवासिनियों की सुरक्षा के दृष्टिगत् शासन-प्रशासन द्वारा कोविड-19 से बचाव के लिये समय-समय पर जारी किये गये दिशा-निर्देशों का अक्षरशः अनुपालन सुनिश्चित किया जाये। उपाध्यक्ष द्वारा जनपदों में संचालित उल्लिखित गृहों की संवासिनियों एवं कार्मिकों द्वारा शत-प्रतिशत् मास्क का उपयोग कराये जाने, पूरे गृह को पूर्णतः सैनेटाइज कराये जाने, यथा-सम्भव सोशल डिस्टेंशिंग का पालन कराये जाने तथा गृहों के साथ-साथ भोजनालयों एवं शौचालयों की साफ-सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित किये जाने के निर्देश दिये गये।