बायो मेडिकल वेस्ट मैनेजमेंट के प्रशिक्षण कार्यक्रम को गंभीरता से ले स्वास्थ्य कर्मी : नितिन रमेश गोकर्ण
April 29, 2020 • Mr Arun Mishra
卐 हाॅटस्पाॅट क्षेत्र में आवश्यक खाद्य सामग्री की उपलब्धता एवं आपूर्ति की नोडल अधिकारी ने जानकारी प्राप्त की।
卐 हाॅटस्पाॅट क्षेत्रों में सर्विलांस टीम के द्वारा निरीक्षण किए जाने के संबंध में भी जानकारी ली।
卐 प्रशिक्षण की पावरपाइंट प्रेजेन्टेशन चिकित्सा कर्मियों को उपलब्ध कराए जाने के निर्देश।
卐 यूनिसेफ के डॉक्टर एच सी पालीवाल द्वारा कोरोना संक्रमण के बचाव के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी दी गई।
 

कानपुर। नोडल अधिकारी कोविड - 19 नितिन रमेश गोकर्ण एवं अपर पुलिस महानिदेशक जय नारायण सिंह ने मंगलवार 28 अप्रैल को मछरिया हॉटस्पॉट का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने उपस्थित पुलिस अधिकारियों को  लॉकडॉउन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से अनुपालन कराए जाने के निर्देश दिए। हाॅटस्पाॅट क्षेत्र में आवश्यक खाद्य सामग्री की उपलब्धता जैसे दुग्ध, सब्जी व फल किस प्रकार कराई जा रही है के संबंध में जानकारी प्राप्त की। क्षेत्रीय लोगों से वार्ता भी की। निरीक्षण के दौरान बताया गया कि आवश्यक खाद्य सामग्री की उपलब्धता डोर टू डोर  डिलीवरी के माध्यम से की जा रही है। उन्होंने सर्विलांस टीम के द्वारा निरीक्षण किए जाने के संबंध में जानकारी करते हुए एवं अन्य किसी प्रकार की समस्या के संबंध में भी जानकारी प्राप्त की। इसके उपरांत उन्होंने उर्सला चिकित्सालय में विभिन्न प्राइवेट नर्सिंग होम के डॉक्टर एवं उनके प्रतिनिधियों को कोविड - 19 संक्रमण से बचाव एवं बायो मेडिकल वेस्ट मैनेजमेंट के प्रशिक्षण कार्यक्रम में उपस्थित चिकित्सकों एवं उनके प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु इस प्रशिक्षण को गंभीरता से लें तथा 6 महत्वपूर्ण बेसिक बातों को अपने कार्यक्षेत्र में अवश्य अपनाएं तथा अपने अधीनस्थ कर्मचारियों एवं स्टाफ को इसका प्रशिक्षण भी दिलाएं। उन्होंने निर्देशित किया कि अपने अस्पतालों में जागरूकता हेतु लोगों को बताएं। उन्होंने मंगलवार 28 अप्रैल को दिए गए प्रशिक्षण की पावरपाइंट प्रेजेन्टेशन चिकित्सकों को उपलब्ध कराए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने उर्सला चिकित्सालय में  इंस्टीट्यूशनल क्वॉरेंटाइन हेतु बनाए गए वार्ड एवं आइसोलेशन वार्ड का भी निरीक्षण किया तथा आवश्यक दिशा निर्देश चिकित्सा कर्मियों को दिए। प्रशिक्षण में यूनिसेफ के डॉक्टर एच सी पालीवाल द्वारा कोरोना संक्रमण के बचाव के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी दी गई। इसमें बार-बार हाथ धोना, सांस लेने में स्वच्छता, साफ सफाई का रखना एवं मास्क का नियमित प्रयोग करना तथा वेस्ट डिस्पोजल का उचित निस्तारण करना आवश्यक है। इस अवसर पर जिलाधिकारी डॉ ब्रह्मदेव तिवारी पुलिस उप महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अनन्त देव, नगर आयुक्त अक्षय त्रिपाठी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ अशोक शुक्ला सहित मधुराज मल्टी स्पेशलिटी हाॅस्पिटल, चांदनी हाॅस्पिटल के एमसी, रीजेंसी हाॅस्पिटल, शारदा हाॅस्पिटल आदि प्राइवेट चिकित्सालय के प्रतिनिधि गण उपस्थित रहे।