बलिदानियों और सेनानियों के बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता : केशव प्रसाद मौर्य
August 17, 2020 • Mr Arun Mishra

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लखनऊ के सरकारी आवास पर कार्यालय एवं सुरक्षा परिवार के साथ ध्वजारोहण करते हुए। (फोटो : उप मुख्यमंत्री कार्यालय)

लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने शनिवार 15 अगस्त 2020 को  74वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर 7 - कालिदास मार्ग अपने आवास पर झंडारोहण किया। उन्होंने तिरंगे झंडे के महत्त्व और उसकी महत्ता पर प्रकाश डालते हुए देश के अमर शहीदों के जीवन आदर्शों से सीख लेने का आह्वान किया। उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम के गौरवशाली इतिहास पर प्रकाश डाला और स्वतंत्रता सेनानियों के जीवन के प्रेरक प्रसंगों की याद भी ताजा की। अमर वीर सपूतों को नमन करते हुए उन्होंने कहा कि गांधी, मुखर्जी, अंबेडकर सहित देश के स्वाधीनता संग्राम के सेनानियों के सपने साकार हो रहे हैं। उन्होंने अपील की कि करोना के खिलाफ जारी जंग में हर व्यक्ति अपना योगदान करे। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 के दृष्टिगत सुरक्षा मानकों का पालन किया जाना बहुत जरूरी है और सभी लोग निर्धारित प्रोटोकॉल का अनिवार्य रूप से पालन करें। सरकार इस दिशा में हर जरूरी कदम उठा रही है। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि बलिदानियों और सेनानियों के बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता। देश की सीमा पर हमारे सैनिक प्राण प्राण से देश की सेवा कर रहे हैं। श्री मौर्य ने कहा कि देश और प्रदेश का सर्वांगीण और चहुंमुखी विकास हो रहा है गांव, गरीब, किसानों, नौजवानों, महिलाओं के हितों को सर्वोपरि रखते हुए विकास व निर्माण कार्यों को धरातल पर उतारा जा रहा है। श्री मौर्य ने कहा कि सुशासन की नई इबारत लिखी जा रही है। गरीब के सामाजिक, आर्थिक व शैक्षिक उन्नयन और उत्थान के लिये सरकार प्रभावी कदम उठा रही है कोविड-19 के समय सरकार द्वारा अहम फैसले लिए गए हैं। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने विधान भवन पर आयोजित स्वतंत्रता दिवस समारोह में मा मुख्यमंत्री जी के साथ प्रतिभाग भी किया।