चौकों और छक्कों के बीच दिल्ली कैपिटल्स ने कोलकाता नाइट राइडर्स को 18 रनों से हराया
October 4, 2020 • Mr Arun Mishra

> दिल्ली का आईपीएल इतिहास में यह दूसरा सर्वाधिक स्कोर।

> दिल्ली का यह स्कोर आईपीएल-13 में अब तक का सबसे बड़ा स्कोर जोकि 20 ओवर में तीन विकेट पर 228 रन रहा।

> कप्तान अय्यर ने 38 गेंदों पर सात चौके और छह छक्के उड़ाते हुए नाबाद 88 रन ठोके।

> दिल्ली ने आखिरी पांच ओवरों में 77 रन जोड़े जिससे दिल्ली ने इस मैदान पर राजस्थान रॉयल्स के 226 के स्कोर को पीछे छोड़कर इस आईपीएल का स्वबस बड़ा स्कोर बना डाला। 

 

दिल्ली कैपिटल के कप्तान श्रेयस अय्यर ने 38 गेंदों में 88 * की शानदार पारी के लिए मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार जीता। उन्हें ड्रीम 11 गेम चेंजर ऑफ़ द मैच और अनअकाडेमी लेट्स क्रैक इट सिक्सेस अवार्ड भी मिला।

शारजाह (वार्ता) कप्तान श्रेयस अय्यर (नाबाद 88), सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (66) और विकेटकीपर ऋषभ पंत (38) की दमदार पारियों से दिल्ली कैपिटल्स ने कोलकाता नाइट राइडर्स को शारजाह के छोटे मैदान पर बड़े स्कोर और छक्कों की बारिश वाले मुकाबले में शनिवार को 18 रन से हराकर आईपीएल-13 में चार मैचों में तीसरी जीत दर्ज की और अंक तालिका में शीर्ष स्थान हासिल कर लिया। दिल्ली ने 20 ओवर में तीन विकेट पर 228 रन का विशाल स्कोर बनाया और कोलकाता की चुनौती को आठ विकेट पर 210 रन पर थाम लिया। दिल्ली की चार मैचों में यह तीसरी जीत रही जबकि कोलकाता को चार मैचों में दूसरी हार का सामना करना पड़ा। दिल्ली का यह स्कोर आईपीएल-13 में अब तक का सबसे बड़ा स्कोर है। शारजाह के छोटे मैदान में लगातार छठी पारी में 200 से ऊपर का स्कोर बना और दिल्ली का विशाल स्कोर अंत में निर्णायक साबित हुआ। कप्तान अय्यर ने 38 गेंदों पर सात चौके और छह छक्के उड़ाते हुए नाबाद 88 रन ठोके। पृथ्वी ने 41 गेंदों पर 66 रन में चार चौके और चार छक्के लगाए। विकेटकीपर ऋषभ पंत ने रनों की बहती गंगा में हाथ धोते हुए 17 गेंदों पर 38 रन में पांच चौके और एक छक्का लगाया। ओपनर शिखर धवन ने 16 गेंदों पर 26 रन में दो चौके और दो छक्के लगाए। शिमरॉन हेत्माएर ने पांच गेंदों में एक छक्के के सहारे नाबाद सात रन बनाये। दिल्ली की पारी में 18 चौके और 14 छक्के लगे। दिल्ली ने आखिरी पांच ओवरों में 77 रन जोड़े जिससे दिल्ली ने इस मैदान पर राजस्थान रॉयल्स के 226 के स्कोर को पीछे छोड़कर इस आईपीएल का सबसे बड़ा स्कोर बना डाला। पृथ्वी और शिखर ने पहले विकेट के लिए 56 रन की साझेदारी जबकि पृथ्वी ने अपने कप्तान अय्यर के साथ दूसरे विकेट के लिए 73 रन जोड़े। अय्यर और पंत ने तीसरे विकेट के लिए 72 रन की साझेदारी की। इन तीन बड़ी साझेदारियों के दम पर दिल्ली ने टूर्नामेंट में सर्वाधिक स्कोर बना डाला। दिल्ली का आईपीएल इतिहास में यह दूसरा सर्वाधिक स्कोर है। दिल्ली ने 2011 के आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ 231 रन बनाये थे। कोलकाता की तरफ से साढ़े 15 करोड़ रुपये के खिलाड़ी पैट कमिंस ने चार ओवर में 49 रन लुटाये। वरुण चक्रवर्ती ने 49 रन पर एक विकेट, आंद्रे रसेल ने 29 रन पर दो विकेट और कमलेश नागरकोटी ने 35 रन पर एक विकेट लिया। लक्ष्य का पीछा करते हुए कोलकाता नाईट राइडर्स के लिए शुभमन गिल और नीतीश राणा को छोड़कर शीर्ष क्रम का कोई अन्य बल्लेबाज दिल्ली के गेंदबाजों के सामने चुनौती नहीं पेश कर सका। लेकिन बाद में इयोन मोर्गन और राहुल त्रिपाठी ने छक्के उड़ाते हुए मैच को रोमांचक बना डाला। कोलकाता की पारी में 12 चौके और 14 छक्के लगे। गिल ने 22 गेंदों पर 28 रन में दो चौके और एक छक्का लगाया जबकि राणा ने 35 गेंदों में 58 रन में चार चौके और चार छक्के लगाए। आंद्रे रसेल ने आठ गेंदों पर 13 रन में एक चौका और एक छक्का लगाया। सुनील नारायण तीन और कप्तान दिनेश कार्तिक छह रन बनाकर आउट हुए। पैट कमिंस पांच रन ही बना सके। जब ऐसा लग रहा था कि मैच दिल्ली के हाथ में जा चुका है कि तभी मोर्गन और त्रिपाठी ने छक्कों की झड़ी लगाकर खलबली मचा दी। त्रिपाठी ने 17वें ओवर में मार्कस स्टॉयनिस की गेंदों पर तीन छक्के और एक चौका मारकर 24 रन बटोर डाले। अगले ओवर में मोर्गन ने कैगिसो रबादा पर तीन छक्के और एक चौका लगाकर 23 रन ठोक दिए। एनरिच नोर्त्जे ने 19वें ओवर में मोर्गन को आउट कर दिल्ली को कुछ राहत दी। मोर्गन का विकेट 200 के स्कोर पर गिरा। मोर्गन ने 18 गेंदों पर 44 रन में एक चौका और पांच छक्के उड़ाए। नोर्त्जे ने इस ओवर में पांच रन देकर दिल्ली को मुकाबले में वापस ला दिया। कोलकाता को अंतिम छह गेंदों पर जीत के लिए 26 रन की जरूरत थी और गेंद स्टॉयनिस के हाथों में थी। त्रिपाठी ने पहली गेंद पर चौका जड़ दिया। लेकिन अगली गेंद पर वह विकेट गंवा बैठे। त्रिपाठी ने 16 गेंदों पर 36 रन में तीन चौके और तीन छक्के लगाए। त्रिपाठी का विकेट 207 के स्कोर पर गिरा और दिल्ली ने 20 ओवर की समाप्ति पर 18 रन से मैच जीत लिया। दिल्ली की तरफ से नोर्त्जे ने 33 रन पर तीन विकेट और हर्षल पटेल ने 34 रन पर दो विकेट लिए।