धान अनुसंधान सेंटर ऑफ एक्सीलेंस की स्थापना हेतु धनराशि की गई अवमुक्त
January 22, 2020 • Mr Arun Mishra

लखनऊ (का ० उ ० सम्पादन)। उत्तर प्रदेश सरकार ने धान पर अनुसंधान के लिये सेंटर ऑफ एक्सीलेंस की स्थापना हेतु कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय, अयोध्या को वित्तीय वर्ष 2019-20 में प्राविधानित धनराशि 100 लाख रूपये के सापेक्ष प्रथम किश्त के रूप में 50 लाख रूपये की स्वीकृति प्रदान कर दी है। यह जानकारी विशेष सचिव कृषि, मासूम अली सरवर ने देते हुये बताया कि इस सम्बन्ध में कृषि शिक्षा एवं अनुसंधान अनुभाग द्वारा निर्देश जारी कर दिये गये हैं। विशेष सचिव कृषि ने बताया कि कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय, अयोध्या में धान पर अनुसंधान के लिये सेंटर ऑफ एक्सीलेंस की स्थापना हेतु कुल 435.50 लाख रूपये का प्राविधान किया गया है। कुल प्राविधानित धनराशि के सापेक्ष वित्तीय वर्ष 2018-19 में 100 लाख रूपये की धनराशि निर्गत की गयी थी, जिसके सापेक्ष 53.51 लाख रूपये का व्यय करते हुये अवशेष धनराशि 46.49 लाख रूपये कोषागार में जमा की जा चुकी है। मासूम अली सरवर ने बताया कि कुलपति, कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय, अयोध्या को निर्देशित किया गया है कि निर्गत की जा रही धनराशि का उपयोग सम्बन्धित शोध के संचालन हेतु ही किया जायेगा। साथ ही शोध के संचालन हेतु आईसीएआर द्वारा निर्धारित शोध मानकों एवं प्रोटोकाल का अनुपालन अनिवार्य रूप से सुनिश्चित किया जायेगा।