दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपरकिंग्स को 44 रन से हराया 
September 26, 2020 • Mr Arun Mishra

> पृथ्वी शॉ 43 गेंदों में 64 रन की मैच विनिंग पारी के लिए मैन ऑफ द मैच रहे।

> दिल्ली की तरफ से कैगिसो रबादा ने 26 रन पर 3 विकेट लिए जबकि एनरिच नोर्त्जे ने 21 रन पर 2 विकेट लिए।

> दिल्ली की पारी में पृथ्वी और शिखर ने पहले विकेट के लिए 94 रन की मजबूत साझेदारी की।

दुबई (वार्ता)। युवा ओपनर पृथ्वी शॉ (64) के शानदार अर्धशतक तथा गेंदबाजों के सटीक प्रदर्शन की बदौलत दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपरकिंग्स को शुक्रवार को 44 रन से हराकर आईपीएल-13 में लगातार दूसरी जीत दर्ज की जबकि चेन्नई को तीन मैचों में लगातार दूसरी हार का सामना करना पड़ा। दिल्ली ने पृथ्वी के 43 गेंदों पर 9 चौकों और 1 छक्के की मदद से बनाये गए 64 रन तथा शिखर धवन (35), विकेटकीपर रिषभ पंत (नाबाद 37) और कप्तान श्रेयस अय्यर (26) के महत्वपूर्ण योगदान से 20 ओवर में तीन विकेट पर 175 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया। चेन्नई की बल्लेबाजी लगातार दूसरे मैच में बड़े स्कोर के दबाव में बिखर गयी और 20 ओवर में 7 विकेट पर 131 रन तक ही पहुंच सकी। कैगिसो रबादा ने दिल्ली की तरफ से 26 रन पर 3 विकेट लिए जबकि एनरिच नोर्त्जे ने 21 रन पर 2 विकेट लिए। शेन वाटसन ने 16 गेंदों में 1 चौके और 1 छक्के की मदद से 14 रन बनाये। ओपनर मुरली विजय का खराब प्रदर्शन इस मैच में भी जारी रहा और वह 15 गेंदों में 1 चौके के सहारे 10 रन ही बना सके। युवा बल्लेबाज रुतुराज गायकवाड 5 रन बनाकर रन आउट हो गए। केदार जाधव ने 21 गेंदों में तीन चौकों की मदद से 26 रन बनाये। चेन्नई की उम्मीद फाफ डू प्लेसिस एकतरफा संघर्ष कर रहे थे लेकिन उनका संघर्ष भी आखिर जवाब दे गया और वह पांचवें बल्लेबाज के रूप में 113 के स्कोर पर आउट हो गए। डू प्लेसिस ने 35 गेंदों में 4 चौकों की मदद से 43 रन बनाये। कैगिसो रबादा ने डू प्लेसिस को विकेटकीपर रिषभ पंत के हाथों कैच कराया। छठे नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को रन गति तेज करने में फिर संघर्ष करना पड़ा। चेन्नई की हार तय हो चुकी थी और धोनी बस टीम के स्कोर को सुधारने का प्रयास कर रहे थे ताकि रन रेट बाद में चलकर ठीक रहे। लेकिन अंतिम ओवर में रबादा ने धोनी का भी शिकार कर लिया। धोनी का कैच पंत ने लपका। धोनी ने 12 गेंदों पर 15 रन में 2 चौके लगाए। दिल्ली के तेज गेंदबाज एनरिच नोर्त्जे ने मुरली विजय और केदार जाधव को आउट किया। नोर्त्जे ने चार ओवर में मात्र 21 रन देकर 2 विकेट लिए। वाटसन को लेफ्ट आर्म स्पिनर अक्षर पटेल ने आउट किया। पटेल ने चार ओवर में मात्र 18 रन देकर 1 विकेट लिया। रवींद्र जडेजा 12 रन बनाकर पारी की अंतिम गेंद पर रबादा का तीसरा शिकार बने। इससे पहले दिल्ली की पारी में पृथ्वी और शिखर ने पहले विकेट के लिए 94 रन की मजबूत साझेदारी की जबकि पंत और अय्यर ने तीसरे विकेट के लिए 58 रन जोड़े। पृथ्वी ने इस आईपीएल का अपना पहला और पांचवां अर्धशतक बनाया। शिखर ने 27 गेंदों पर 35 रन में 3 चौके और 1 छक्का लगाया। पंत 25 गेंदों पर 6 चौकों की मदद से 37 रन बनाकर नाबाद रहे। कप्तान अय्यर ने 22 गेंदों पर 26 रन पर एक चौका लगाया। दिल्ली ने धीमी शुरुआत की और छह के पॉवरप्ले में मात्र 36 रन जोड़े लेकिन इसके बाद पंत और शिखर ने हाथ खोले और अगले चार ओवर में 52 रन ठोक डाले। 10 ओवर के बाद दिल्ली का स्कोर 88 रन पहुंच गया। शिखर लेग स्पिनर पीयूष चावला को रिवर्स मारने की कोशिश में पगबाधा हो गए। पृथ्वी ने चावला की गेंद पर बाहर निकल कर मारने की कोशिश की लेकिन गेंद पैड से टकराकर विकेट के पीछे गयी और विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी ने पृथ्वी को आसानी से स्टंप कर दिया। अय्यर ने तेज गेंदबाज सैम करेन को मारने की कोशिश की लेकिन गेंद बल्ले का किनारा लेकर विकेट के पीछे गई और धोनी ने डाइव लगाते हुए बेहतरीन कैच लपक लिया। आखिरी ओवर में उतरे मार्कस स्टॉयनिस 5 रन बनाकर नाबाद रहे। चेन्नई ने इस मुकाबले के लिए तेज गेंदबाज लुंगी एनगिदी को बाहर रखा था और उनकी जगह जोश हेजलवुड को अंतिम एकादश में जगह दी थी जबकि दिल्ली की टीम में रविचंद्रन अश्विन और मोहित शर्मा की जगह अमित मिश्रा और आवेश खान को शामिल किया गया था। मिश्रा को कोई विकेट नहीं मिला लेकिन उन्होंने 4 ओवर में मात्र 23 रन दिए।