दोनों शिफ्टों में किया जाएगा सफाई का कार्य : मुख्यमंत्री
July 11, 2020 • Mr Arun Mishra

>मुख्यमंत्री ने कोविड-19 व संचारी रोगों की रोकथाम तथा विशेष स्वच्छता अभियान के सम्बन्ध में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की।

> 11 व 12 जुलाई, 2020 को राज्य के सभी शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष स्वच्छता व सैनिटाइजेशन अभियान चलाए जाने के निर्देश।

> विशेष स्वच्छता अभियान सभी जनपदों में प्रत्येक स्तर पर चलाया जाए : मुख्यमंत्री

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी 11 जुलाई 2020 को अपने सरकारी आवास पर कोविड-19 व संचारी रोगों की रोकथाम तथा विशेष स्वच्छता अभियान के सम्बन्ध में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग करते हुए।  (फोटो: मुख्यमंत्री सूचना परिसर)

लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने 11 व 12 जुलाई, 2020 को राज्य के सभी शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष स्वच्छता व सैनिटाइजेशन अभियान चलाए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि यह अभियान 13 जुलाई, 2020 के साथ-साथ आवश्यकतानुसार आगे भी जारी रखा जाए। इससे कोविड-19 तथा संचारी रोगों के संक्रमण को नियंत्रित करने में सफलता मिलेगी। उन्होंने कहा कि इस कार्य में किसी भी प्रकार की शिथिलता या लापरवाही न बरती जाए। इस अभियान के संचालन से सम्बन्धित फोटोग्राफ शासन स्तर पर उपलब्ध कराए जाएं। मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा इस अभियान की समीक्षा की जाएगी। मुख्यमंत्री योगी ने शुक्रवार 11 जुलाई 2020 को अपने सरकारी आवास पर कोविड-19 व संचारी रोगों की रोकथाम तथा विशेष स्वच्छता अभियान के सम्बन्ध में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की। उन्होंने प्रदेश के सभी मण्डलायुक्तों, जिलाधिकारियों सहित वरिष्ठ पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि विशेष स्वच्छता अभियान सभी जनपदों में प्रत्येक स्तर पर चलाया जाए। उन्होंने जिलाधिकारियों तथा पुलिस अधीक्षकों को इस दौरान अपने-अपने जनपदों में भ्रमण किए जाने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि 11 व 12 जुलाई, 2020 को औद्योगिक संस्थान, एमएसएमई, निर्माण कार्य आदि संचालित रहेंगे। इस अवधि में समस्त आवश्यक सेवाएं-स्वास्थ्य एवं चिकित्सकीय सेवाएं, आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति पूर्व की भांति खुली रहेगी। कृषि, मनरेगा सम्बन्धित कार्य जारी रहेंगे। इस दौरान प्रदेश के सभी शहरी व ग्रामीण हाट, बाजार, गल्ला मण्डी, व्यावसायिक प्रतिष्ठान इत्यादि बन्द रहेंगेयह प्रयास होना चाहिए कि लोग अनावश्यक अपने घरों से बाहर न निकलें। उन्होंने पेट्रोलिंग का कार्य निरन्तर किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मास्क जरूरी है, इसका अनुपालन न करने पर कार्रवाई करते हुए सम्बन्धित को मास्क उपलब्ध कराया जाए। उन्होंने कहा कि सभी जनपदों में पहले से विशेष सचिव स्तर के नोडल अधिकारी और स्वास्थ्य अधिकारी मौजूद हैं। अब 11 व 12 जुलाई, 2020 को वरिष्ठ अधिकारी, नोडल अधिकारी के रूप में सभी जनपदों में उपलब्ध रहकर सम्बन्धित अभियान व कार्यों की मॉनीटरिंग करेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रत्येक नगर निकाय व ग्राम पंचायत पर ध्यान देते हुए स्वच्छता अभियान के सम्बन्ध में कार्यवाही की जाए। इस दौरान फॉगिंग का कार्य भी किया जाए। सैनिटाइजेशन का कार्य में फायर टेण्डर व चीनी मिलों के उपकरणों की सहायता ली जाए। उन्होंने कहा कि वर्षा ऋतु के दृष्टिगत संचारी रोगों की रोकथाम के प्रबन्ध किए जाएं। कहीं पर भी जल-जमाव न होने दिया जाए। शुद्ध पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित हो। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस प्रकार 25 करोड़ वृक्षारोपण का कार्य कोविड-19 प्रोटोकॉल तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सफलतापूर्वक संचालित किया गया है, उसी प्रकार इस विशेष स्वच्छता अभियान को संचालित किया जाए। उन्होंने कहा कि दोनों शिफ्टों में सफाई का कार्य किया जाएगा। सायंकाल फॉगिंग का कार्य होगा। इस दौरान घर-घर जाकर मेडिकल स्क्रीनिंग का भी कार्य किया जाएगा। संक्रमण पाए जाने पर तत्काल मरीज को अस्पताल में भेजे जाने की व्यवस्था की जाए। उन्होंने कानपुर तथा झांसी जनपदों में विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोविड-19 तथा संचारी रोगों के संक्रमण को सतर्कता तथा जागरूकता से रोका जा सकता है। इसके लिए निगरानी समितियों को सक्रिय रखा जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि औद्योगिक संस्थानों, अस्पतालों आदि में अनिवार्य रूप से कोविड हेल्प डेस्क स्थापित किए जाएं। इन्फ्रारेड थर्मामीटर, पल्स ऑक्सीमीटर तथा सैनिटाइजर की व्यवस्थाएं सुनिश्चित हों। पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से कोविड–19 तथा संचारी रोगों से बचाव के उपायों के प्रति जागरूकता फैलायी जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि लोग एक ही स्थान पर एकत्रित न हो। मुख्य सचिव आर के तिवारी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान कहा कि 'आरोग्य सेतु' एप का अधिक से अधिक उपयोग किया जाए। इसकी डाउनलोडिंग की संख्या में वृद्धि हो। एल-1 एवं अन्य अस्पतालों तथा चिकित्सा संस्थानों में साफ-सफाई व भोजन की सुचारु व्यवस्था की जाए। चिकित्सक व पैरामेडिकल स्टाफ निरन्तर राउण्ड पर रहें। कोविड-19 के मरीजों के परिजनों को उनकी स्थिति से लगातार अवगत कराया जाए। अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा कि दिनांक 11 व 12 जुलाई, 2020 को प्रतिबन्धों के दौरान किसी भी व्यक्ति के साथ दुर्व्यवहार की शिकायत न मिलने पाए। रेलवे तथा एयरपोर्ट के यात्रियों के लिए परिवहन बस की सेवाएं उपलब्ध रहें। सैनिटाइजेशन व फॉगिंग का कार्य व्यापक स्तर पर हो। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज मनोज कुमार सिंह तथा अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने भी आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त आलोक टण्डन, कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा, पुलिस महानिदेशक एच सी अवस्थी, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा रजनीश दुबे, प्रमुख सचिव नगर विकास दीपक कुमार, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री संजय प्रसाद, सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।