गौशाला के कार्यों में लापरवाही कर रहे कर्मचारियों पर होगी कार्यवाही
May 24, 2020 • Mr Arun Mishra

> सितवनपुर पिथू गौशाला को मॉर्डन गौशाला के ​रूम में किया जाए विकसित : जिलाधिकारी 

फर्रुखाबाद (जिला सूचना अधिकारी)। जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह एवं मुख्य विकास अधिकारी डॉ राजेन्द्र पेंसिया ने सितवनपुर पिथू एवं ​पुठरी चरागाह की जमीन का स्थलीय निरीक्षण कर जायजा लिया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने सितवनपुर पिथू गौशाला को मॉर्डन गौशाला के ​रूम में विकसित करने के निर्देश दिए। उन्होंने गौशाला में मनरेगा से मजबूत टीन शेड का निर्माण कराने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्देशित किया कि चूने के पानी के लिए अलग एक होद का निमार्ण कार्य कराया जाए। चरागार की जमीन पर अलग - अलग प्लाट बनाकर समतलीकरण कराया जाए। समतलीकरण के पश्चात गौवंश के चरने हेतु पर्याप्त मात्रा में हरा चारा उपलब्ध कराया जाए ताकि गोंवश को खुले में चराया जा सके। गोवंश के पोषण हेतु बेहतर पेयजल व्यवस्था देने के लिए चरागाह की जमीन पर मनरेगा से तालाब की खुदाई कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी सदर को गौशाला में बेहतर मैनेजमेन्ट करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने जो कर्मचारी गौशाला के कार्यों में लापरवाही कर रहे हैं उन पर कार्यवाही के निर्देश दिए हैं। गौशाला में अच्छी व्यवस्थाएं न देख जिलाधिकारी ने नाराजगी जताई। उन्होंने प्रधान एवं सचिव को हिदायत देते हुए कहा कि यदि गौशाला की व्यवस्थाओं में नहीं सुधार आया तो सीधे निलम्बन की कार्यवाही होगी।