घर घर मास्क बनाओ कार्यक्रम का फीता काटकर शुभारम्भ
April 18, 2020 • Mr Arun Mishra

> आकांक्षा समिति के सदस्यों द्वारा 10 हज़ार रुपये की धनराशि मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा कराई गई।

फर्रुखाबाद (जिला संवाददाता)। शुक्रवार 17 अप्रैल को आकांक्षा समिति की अध्यक्षा श्रीमती मंजू सिंह जोकि जिलाधिकारी श्री मानवेन्द्र सिंह की पत्नी हैं द्वारा फीता काटकर घर घर मास्क बनाओ कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया। अध्यक्षा जी ने अवगत कराया कि इस कार्यक्रम के माध्यम से जनपद के प्रत्येक घर तक मास्क पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। उदघाटन के समय अध्यक्षा जी ने समस्त सदस्यों को कोविड 19 महामारी से बचाव हेतु मास्क को प्रयोग एवं सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करने हेतु जागरूक किया गया। अध्यक्षा जी ने कु दीपिका त्रिपाठी को आकांक्षा समिति का सदस्य बनाया। आकांक्षा समिति की उपाध्यक्ष डॉ उषा सैनी पैंसिया पत्नी श्री राजेन्द्र पैंसिया, मुख्य विकास अधिकारी फर्रुखाबाद ने बताया कि जनपद के गरीब परिवारों को फ़ूड पैकेट पहुँचाया जा रहा है। उदघाटन के समय उपस्थित सदस्यों को आरोग्य सेतु ऐप्प डाउनलोड करने को कहा गया। जनपद की समस्त ग्राम पंचायतों में कराये जा रहे निः शुल्क मास्क वितरण के सम्बन्ध में भी अवगत कराया। श्रीमती आशा शुक्ला पत्नी श्री दुर्गा दत्त शुक्ला, जिला विकास अधिकारी द्वारा उपस्थित सदस्यों को अवगत कराया गया कि जनपद की 600 ग्राम पंचायतों में 300 ग्रुप की महिलाओं द्वारा मास्क बनाये जा रहे हैं। इन महिलाओं द्वारा अब तक 5000 मास्क बनाये जा चुके हैं, जिससे जनपद की महिलाओं को रोजगार भी मिल रहा है। आकांक्षा समिति की सदस्य एवं समाजसेवी डॉ रजनी सरीन द्वारा बताया गया कि जबसे देश में कोरोना महामारी फैली है लोग अपनी संस्कृति की तरफ लौट रहे हैं जैसे हाथ जोड़कर अभिवादन करना, हाथ पैर धोकर ही घर में प्रवेश करना एवं घर की साफ़ सफाई रखना। श्रीमती भावना यादव, खंड विकास अधिकारी, बढ़पुर द्वारा सदस्यों को मास्क एवं सेनिटाइज़र का प्रयोग करने हेतु प्रेरित किया। घर घर मास्क बनाओ कार्यक्रम में श्रीमती प्रतिभा पत्नी उप जिलाधिकारी सदर, श्रीमती प्रियंका आसेरी पत्नी उप जिलाधिकारी कायमगंज, अन्य अधिकारियों की पत्नी आकांक्षा समिति की सदस्य उपस्थित रहीं। घर घर मास्क बनाओ कार्यक्रम के उदघाटन के पश्चात विकास भवन सभागार में सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करते हुए आकांक्षा समिति की बैठक भी आयोजित हुई। समस्त सदस्यों ने समिति संचालन के सुझाव दिए। समस्त सदस्यों द्वारा 10 हज़ार रुपये की धनराशि मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा कराई गई। इसके अतिरिक्त शुक्रवार 17 अप्रैल को मुख्य विकास अधिकारी राजेन्द्र पैंसिया द्वारा विकास भवन के द्वार पर अग्निहोत्र यज्ञ कराया गया। अग्निहोत्र यज्ञ के माध्यम से आस पास का वातावरण सेनिटाइज़ हो जाता है।

अग्निहोत्र यज्ञ से विकास भवन का कराया सेनिटाइज़ेशन।