घटनाओं से सीख लेते हुये संरक्षित संचालन के टिप्स दिये
February 4, 2020 • Mr Arun Mishra
卐 संरक्षित संचालन हेतु लोको पायलट लॉबी में संरक्षा संगोष्ठी का हुआ आयोजन।
卐 लोको पायलटों द्वारा की गयी गल्तियों में सुधार कैसे हो, इस बिन्दु पर मंथन किया गया।
प्रयागराज। संरक्षित संचालन हेतु लॉबी इलाहाबाद में संरक्षा संगोष्ठी  का आयोजन किया गया जिसमें ऑन ड्यूटी एवं ऑफ ड्यूटी केलगभग 50 रनिंग कर्मियों व 10 लोको निरीक्षकों ने भाग लिया। संगोष्ठी के मुख्य अतिथि प्रमुख मुख्य बिजली इंजीनियर अनुपम सिंहल ने लोको पायलटों को संरक्षित संचालन एवं एसपीएडी/दुर्घटना से बचाव के लिए संरक्षा सूत्र का अक्षरशः अनुपालन करना अति आवश्यक बताया, रनिंग रूम में क्वालिटी रेस्ट व गाड़ी के प्रस्थान से आगमन तक प्रत्येक सिगनल को अंतिम क्षण तक निगाह बनाये रखने की सलाह दी। प्रमुख मुख्य संरक्षा अधिकारी पी डी मिश्रा ने पायलटों को पूर्ण विश्राम व ऊर्जावान होकर ड्यूटी पर आने का सुझाव दिया, संरक्षित पहलुओं पर क्रमानुसार कार्य करना ही हमारी प्रतिबद्धता होनी चाहिये, गति प्रतिबंधों के प्रति सजग रहने व सह-पायलटों को समय रहते इमरजेंसी वाल्व खोलने व लगाने की उपयोगिता भी समझाई। वरिष्ठ मण्डल विद्युत अभियन्ता (परि) राहुल त्रिपाठी ने गाड़ी संचालन के पूर्व सभी निर्देषों को आत्मसात करने व गाड़ी संचालन में ब्रेक पावर व सिगनल संकेत के अनुसार गाड़ी के नियंत्रण करने के विषय पर चर्चा की, ओवरशूटिंग व ओवरस्पीडिंग की घटना की पुनरावृत्ति न होने के लिये सभी रनिंग कर्मियों को कार्य के दौरान सजग व जागरूक किया, विगत माह के अन्दर घटे स्पैड की घटनाओं से सीख लेते हुये संरक्षित संचालन के टिप्स दिये। मण्डल विद्युत अभियन्ता (परि) एस पी पाण्डेय ने लोको पायलटों द्वारा की गयी गल्तियों में सुधार कैसे हो, इस बिन्दु पर मंथन किया। संगोष्ठी में सहायक मण्डल विद्युत अभियन्ता (परि), लोको निरीक्षक अजय बेरी, राजधानी पायलट राम प्रकाश, मो अरशद खान, मनीश कुमार राय, शुभम शुक्ला, पवन कुमार द्वारा संरक्षित संचालन हेतु अपने-अपने विचार व्यक्त किये।