ग्राम पंचायतों में किसी भी व्यक्ति की मृत्यु भुखमरी से नही होने पाये : भूपेन्द्र सिंह चौधरी
April 17, 2020 • Mr Arun Mishra

> ग्राम पंचायत में हैण्डपम्प खराब हो तो उसे शीघ्र ठीक कराया जाये।

लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश के पंचायतीराज मंत्री भूपेन्द्र सिंह चौधरी ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि ग्राम पंचायतों में नियमित रूप से साफ-सफाई हो, दवा का छिडकाव, कूडे-करकट का उचित निस्तारण और गाँव में जल निकासी एवं जल भराव की कही कोई समस्या नहीं होने पाये। ग्राम पंचायतो में सफाई कर्मियों को साफ-सफाई करने हेतु आवश्यक सामग्री अवश्य उपलब्ध करायी जाये। इसका अनुश्रवण अवश्य किया जाये तथा इसमें किसी प्रकार की लापरवाही नहीं होनी चाहिए। यह निर्देश श्री चौधरी गुरूवार 17 अप्रैल को विधान भवन स्थित अपने कार्यलय कक्ष में विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक करने के दौरान दिये। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों, सार्वजनिक स्थलों, राशन वितरण, पंचायत भवनों में कोविड - 19 महामारी को ध्यान में रखते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाये तथा हाथ धोने की व्यवस्था व सेनीटाइजर की भी उपलब्धता करायी जाये। उन्होंने यह भी कहा कि ग्राम पंचायतों में किसी भी व्यक्ति की मृत्यु भुखमरी से नहीं होने पाये इसका विशेष ध्यान रखा जाये। श्री चौधरी ने कहा कि ग्राम पंचायतों में स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित की जाये और यह भी ध्यान रखा जाये कि पंचायत में कहीं कोई हैण्डपम्प खराब हो तो उसे शीघ्र ही ठीक कराया जाये। उन्होंने कहा कि जिन जनपदों में कोरोना वायरस संक्रमण नहीं है उन जनपदों में आवश्यक सावधानी बरतते हुए पंचायत की सामान्य गतिविधियों व निर्माण कार्यों को 20 अप्रैल,2020 के बाद चालू करने पर विचार किया जा सकता है। इस अवसर पर प्रमुख सचिव पंचायतीराज मनोज कुमार सिंह, निदेशक पंचायतीराज सुश्री किंजल सिंह सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।