हाईवे से गुजरने वाले प्रवासी लोगों के लिए पानी तथा यथावश्यक खानपान की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए : केशव प्रसाद मौर्य
May 14, 2020 • Mr Arun Mishra

विकास कार्यों के साथ - साथ लोगों को रोजगार भी मिले

शिवराजपुर में जर्जर पीपे के पुल की अब होगी मरम्मत, उप मुख्यमंत्री ने मुख्य अभियंता कानपुर जोन को दिए निर्देश

हॉटस्पॉट्स को छोड़कर अन्य जगहों पर निर्माण कार्य को कराए जाने अनुमति दे दी जाए : उप मुख्यमंत्री

> शासकीय कार्यों में जनप्रतिनिधियों का वांछित सहयोग लिया जाए : प्रभारी मंत्री, कानपुर नगर

> सीधे घर पहुंचने वाले लोगों की सूचना पंचायत प्रतिनिधि अनिवार्य रूप से प्रशासन को दें : प्रभारी मंत्री, कानपुर नगर

> जनपद में कहीं गन्दगी नहीं रहनी चाहिए : प्रभारी मंत्री, कानपुर नगर

> कोरोना संक्रमण से बचाव संबंधी उपायों के बारे में नगर में होर्डिंग व बैनर्स के माध्यम से प्रचार प्रसार सुनिश्चित कराएं : प्रभारी मंत्री, कानपुर नगर

> कानपुर में उद्योगों के चलने से लेबरों को काम मिलना शुरू : कैबिनेट मंत्री, सतीश महाना

> लॉकडाउन में और कड़ाई किए जाने की आवश्यकता :  कैबिनेट मंत्री, नीलिमा कटियार  

> वांछित लोगों को राशन देने में कोई कोताही नहीं बरती जा रही : जिलाधिकारी

लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री व कानपुर नगर के प्रभारी मंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य ने गुरुवार 14 मई को जूम ऐप के जरिए जनपद कानपुर नगर के जनप्रतिनिधियों, सांसदों, विधायकों, मेयर व उच्च प्रशासनिक अधिकारियों से कोरोना संक्रमण के मद्देनजर विभिन्न विषयों पर वार्ता करते हुए फीडबैक लिया तथा जनप्रतिनिधियों के सुझाव भी लिए। उन्होंने औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना, प्राविधिक शिक्षा मंत्री श्रीमती कमला रानी वरुण, उच्च शिक्षा, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी राज्यमंत्री श्रीमती नीलिमा कटियार, सांसद देवेंद्र सिंह भोले, विधायकों सहित जिलाधिकारी ब्रह्म देव राम तिवारी, नगर आयुक्त व मुख्य चिकित्सा अधिकारी से वार्ता करते हुए वहां की विभिन्न समस्याओं की जानकारी ली तथा उनके सुझाव भी लिए। जिलाधिकारी सहित अन्य अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए।
श्री मौर्य ने जिलाधिकारी कानपुर नगर को निर्देश दिए कि वह कोविड - 19 के मद्देनजर मंत्रियों, सांसदों, विधायकों व अन्य जनप्रतिनिधियों (जो कानपुर के निवासी हों) का एक व्हाट्सएप ग्रुप तैयार कराएं। इस ग्रुप में कोविड - 19 के दृष्टिगत चलाई जा रही विभिन्न गतिविधियों के बारे में जानकारी दी जाए और शासकीय कार्यों में जनप्रतिनिधियों का वांछित सहयोग लिया जाए तथा उनके सुझावो का संज्ञान लिया जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि भारत सरकार की गाइडलाइन्स के अनुसार व उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुरूप कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। सभी जनप्रतिनिधियों ने जिलाधिकारी व पुलिस उप महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सहित सभी कोरोना योद्धाओं की प्रशंसा की। उप मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए की हाईवे से गुजरने वाले प्रवासी लोगों के लिए पानी तथा यथावश्यक खानपान की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए। उन्होंने कहा कि उनके संज्ञान में आया है कि कुछ लोग सीधे अपने घरों को पहुंच रहे हैं, ऐसे में बहुत ही ज्यादा सजगता और सतर्कता बरतने की आवश्यकता है। सीधे पहुंचने वाले लोगों की सूचना पंचायत प्रतिनिधि अनिवार्य रूप से प्रशासन को दें, उन्हें 14 दिन कोरेन्टाइन रहने के बाद ही उन्हें उनके घर जाने दिया जाए। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि रेड जोन को छोड़कर य जिलाधिकारी द्वारा निर्धारित स्थलों को छोड़कर अन्य जगहों पर निर्माण कार्य को कराए जाने अनुमति दे दी जाए ताकि विकास कार्यों के साथ - साथ लोगों को रोजगार भी मिल सके। उन्होंने कहा कि शास्त्री चौराहा सहित जहां पर कूडा़ इकट्ठा हो उसके निस्तारण की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। कहीं गन्दगी नहीं रहनी चाहिए। कम्युनिटी किचन सेंटरों की व्यवस्था की जनप्रतिनिधियों ने तारीफ की। उप मुख्यमंत्री श्री मौर्य ने शिवराजपुर में जर्जर पीपे के पुल को सही कराने के निर्देश मुख्य अभियंता लोक निर्माण विभाग कानपुर जोन को दिए। श्री मौर्य ने नगर आयुक्त को निर्देश दिए कि वह कोरोना संक्रमण से बचाव संबंधी उपायों के बारे में नगर में होर्डिंग व बैनर्स के माध्यम से प्रचार प्रसार सुनिश्चित कराएं। उप मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन व जनप्रतिनिधियों व करोना योद्धाओं की तारीफ करते हुए उनका उत्साहवर्धन किया। औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने कहा कि कानपुर में उद्योगों के चलने से लोगों के जीवन में जीवंतता आई है और लेबरों को काम मिलना शुरू हो गया है। राज्य मंत्री नीलिमा कटियार ने कहा कि पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी पूरे संयम और मेहनत के साथ काम कर रहे हैं। लॉकडाउन में और कड़ाई किए जाने की आवश्यकता है। जिलाधिकारी ब्रह्मदेव राम तिवारी ने बताया जिन - जिन लोगों के पास अन्य जगहों के राशन कार्ड हैं उन्हें भी राशन दिया जा रहा है तथा वांछित लोगों को राशन देने में कोई कोताही नहीं बरती जा रही है। जिला प्रशासन द्वारा भारत सरकार की गाइडलाइन्स के अनुरूप सभी आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों के जो सुझाव आए हैं, उन पर भी विचार किया जाएगा और गाइडलाइन्स के तहत कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी।