इंजीनियरिंग साइंसेज श्रेणी के तीन पुरस्कारों में से दो आईआईटी कानपुर को मिले
February 12, 2020 • Mr Arun Mishra
> आईआईटी  कानपुर संकायों को इंजीनियरिंग विज्ञान वर्ग में अनुसंधान के लिए प्रतिष्ठित (एसईआरबी) विज्ञान और प्रौद्योगिकी पुरस्कार (एसईआरबी-स्टार 2019) से सम्मानित किया गया।
 
प्रो अनिमान्ग्सु घटक (बाएं) एवं प्रो जयंत सिंह
 
कानपुर (का ० उ ० सम्पादन)। आईआईटी कानपुर में केमिकल इंजीनियरिंग विभाग के डॉ अनिमान्ग्सू घटक और डॉ जयंत सिंह को प्रतिष्ठित एसईआरबी (विज्ञान और इंजीनियरिंग अनुसंधान बोर्ड) साइंस एंड टेक्नोलॉजी अवार्ड (एसईआरबी-स्टार 2019) इंजीनियरिंग साइंसेज श्रेणी में रिसर्च करने के लिए प्रदान किया गया है। इस साल सभी श्रेणियों में सात विजेता को सम्मानित किया गया, जिसमें कि इंजीनियरिंग साइंसेज श्रेणी के तहत तीन पुरस्कारों में से दो आईआईटी कानपुर संकाय (फैकल्टी) को मिले हैं। एसईआरबी साइंस एंड टेक्नोलॉजी अवार्ड फॉर रिसर्च (एसईआरबी-स्टार) विज्ञान और इंजीनियरिंग अनुसंधान बोर्ड  (एसईआरबी) प्रोजेक्ट्स के प्रिंसिपल इन्वेस्टिगेटर्स (पीआई) के उत्कृष्ट प्रदर्शन को पहचानने और पुरस्कृत करने के लिए विज्ञान और इंजीनियरिंग अनुसंधान बोर्ड (एसईआरबी) द्वारा स्थापित एक प्रतिष्ठित पुरस्कार है। एसईआरबी अपने विभिन्न कार्यक्रमों और योजनाओं के माध्यम से विज्ञान और इंजीनियरिंग के प्रमुख क्षेत्रों में बुनियादी अनुसंधान का सहयोग करता रहा है। इस पुरस्कार में 15,000 रुपये प्रति माह की फ़ेलोशिप और तीन साल की अवधि के लिए प्रति वर्ष 10 लाख रुपये का अनुसंधान अनुदान शामिल है। डॉ सिंह का समूह विभिन्न प्रक्रियाओं में अंतर्निहित आणविक तंत्र में भौतिक अंतर्दृष्टि प्रदान करने के लिए आदेशित हाइड्रोजन बांड नेटवर्क के निर्माण खंडों के स्तर पर बर्फ के न्यूक्लियेशन को समझने के लिए उपकरणों और कार्यप्रणाली के विकास पर काम कर रहा है। दूसरी ओर, डॉ घटक का अनुसन्धान यह देख रहा है कि अन्य प्रभावों की उपस्थिति में तरल द्वारा एक नरम ठोस को गीला करने के काइनेटिक्स पर इलास्टो-कैपिलैरिटी कैसे प्रभाव डालती है। डॉ अनिमान्ग्सू घटक (एमटेक, आईआईटी कानपुर, 1998) और डॉ जयंत सिंह (बीटेक, आईआईटी कानपुर 1997) दोनों ही आईआईटी कानपुर के पूर्व छात्र हैं।