जिलाधिकारी ने ग्राम में जन चौपाल लगाकर सुनी ग्रामीणों की समस्याएं
February 15, 2020 • Mr Arun Mishra

> प्राइमरी विद्यालय कुइयाखेड़ा में बच्चों के लिए अच्छी लाइब्रेरी बनाने हेतु 10 हज़ार रूपए की किताबें देने की घोषणा।

> जिलाधिकारी ने एमओआईसी से बिना बताये अनुपस्थित होने पर माँगा स्पष्टीकरण।

> ग्राम प्रधान को एलओबी 1 मे मिले शौचालयों का निर्माण कार्य इसी माह के अंत तक पूर्ण कराने के निर्देश।

> गाय का दूध निकाल कर गाय छोड़ने पर गौ पालकों को चिन्हित कर जुर्माना लगाने की कार्यवाही के निर्देश।

फर्रुखाबाद (का ० उ ० सम्पादन)। जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने ग्राम कुइयाखेड़ा ए शमसाबाद का निरीक्षण कर निर्माण कार्यों का जायजा लिया। ग्राम में जन चौपाल लगाकर सुनी ग्रामीणों की समस्याएं। प्राइमरी विद्यालय कुइयाखेड़ा में अच्छी व्यवस्थाएं देख जिलाधिकारी ने जताई ख़ुशी एवं बच्चों के लिए अच्छी लाइब्रेरी बनाने हेतु रैंक एवं 10 हज़ार रूपए की किताबें देने की घोषणा की। जन चौपाल में जेएसवाई एवं प्रधानमंत्री मात्र वंदना योजना के सभी लाभार्थियों का नहीं हुआ भुगतान। डॉ देवेंद्र अवस्थी प्र एमओआईसी को नहीं थी लाभार्थियों की सही जानकारी, इसपर जिलाधिकारी ने डॉ देवेंद्र अवस्थी को जमकर फटकार लगाई एवं एमओआईसी से बिना बताये अनुपस्थित होने पर स्पष्टीकरण माँगा। आशा / एएनएम के विरुद्ध कार्यवाही करने के निर्देश दिए। अपर मुख्य चिकित्साधिकारी को कल शाम तक जेएसवाई के सभी लाभार्थियों का भुगतान कराकर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। कैंप लगाकर प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत अवशेष किसानों की फीडिंग एवं किसानों का डाटा संशोधन कराने के दिए निर्देश।  उक्त योजना के लाभार्थियों को 100 प्रतिशत केसीसी योजना से आच्छादित किया जाए। उप जिलाधिकारी कायमगंज को कैंप लगाकर ग्राम में किसानों की भूमि विवाद से सम्बंधित शिकायतों का निस्तारण करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने ग्राम प्रधान को 01 में आंगनबाड़ी केंद्र का निर्माण कार्य पूर्ण कराने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान कन्या पूर्व माध्यमिक विद्यालय कुइयाखेड़ा के शौचालय गंदे एवं जर्जर स्थिति में पाए गए। जिलाधिकारी ने ग्राम प्रधान को एलओबी 1 मे मिले शौचालयों का निर्माण कार्य इसी माह के अंत तक पूर्ण कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने खंड विकास अधिकारी शमशाबाद को ग्राम के सभी तालाबों का निरीक्षण कर मनरेगा के अंतर्गत सभी तालाबों में कार्य कराने के निर्देश दिए। चौपाल में बताया गया कि 35 श्रमिक ऐसे हैं जिन्होंने 90 दिन कार्य किया है, जिलाधिकारी ने उक्त सभी श्रमिकों का श्रम विभाग में पंजीकरण कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने ग्रामों में गहरी नाली का निर्माण न कराने के निर्देश दिए। नाली का निर्माण कार्य एल शेप में कराया जाए ताकि गंदगी को आसानी से निकाला जा सके। पूर्ती निरीक्षक द्वारा बताया गया कि 15 लोगों को प्रॉक्सी से वितरण किया गया है। प्रॉक्सी से देना क्या कारण रहा प्रस्तुत करें, जिलाधिकारी ने निर्देशित किया। चौपालों में ग्रामीणों द्वारा बताई गई आवारा गायों की समस्या जिलाधिकारी ने खंड विकास अधिकारी को ग्राम प्रधान की सहायता से गाय पकड़वा कर सम्बंधित गौ संरक्षण केंद्र में पहुंचाने के निर्देश दिए। ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि कुछ गौ पालक ऐसे भी हैं जो कि गाय का दूध निकाल कर गाय छोड़ देते हैं।  जिलाधिकारी ने ऐसे गौ पालकों को चिन्हित कर जुर्माना लगाने की कार्यवाही के निर्देश दिए। इस अवसर पर उप जिलाधिकारी कायमगंज, जिला विकास अधिकारी, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी, परियोजना निदेशक, उप कृषि निदेशक, जिला पंचायत राज अधिकारी एवं समस्त जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।