कानपुर में गंगा यात्रा का पुष्प वर्षा से होगा स्वागत
January 29, 2020 • Mr Arun Mishra

कानपुर। जिलाधिकारी डॉ ब्रह्म देव राम तिवारी ने सीएसए के कमेटी हाल में गंगा यात्रा की सम्पूर्ण तैयारियों के सम्बन्ध में समीक्षा बैठक करते हुए निर्देशित करते हुए कहा कि जो गंगा यात्रा बलिया से कानपुर,  बिजनौर से कानपुर नगर पहुँच रही है उस यात्रा का सड़कों के किनारे मानव श्रंखला बनाकर फूलों से स्वागत किया जाए। कानपुर वासियों के लिए खुशी की बात है कि    गंगा यात्रा समागम कार्यक्रम कानपुर में ही हो रहा है माँ गंगा को स्वच्छ निर्मल बनाने की जिम्मेदारी समस्त जनपद वासियों की है इसके लिए सभी को जागरूक होना होगा। उन्होंने समस्त सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि गंगा बैराज में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में समस्त तैयारियों को समय से पूरा कराने के लिए समस्त विभागों को जिम्मेदारी दी। उन्होंने कहा कि गंगा बैराज के अटल घाट पर 31 जनवरी को गंगा आरती होगी तथा सिंचाई विभाग के निषाद पार्क में भव्य कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा जिसमें विभिन्न विद्यालयों के बच्चों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये जाएंगे। जिनमें ओमकारेश्वर विद्यालय, बीएनएसडी शिक्षा निकेतन तथा अन्य विद्यालयों के छात्र, छात्रों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि विद्यालयों के बच्चों द्वारा विभिन्न अलग अलग कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। समस्त स्कूलों के अध्यापक अपने स्कूली बच्चों को मां गंगा, मां सरस्वती, मां कावेरी तथा अन्य देवी-देवताओं की पोशाक में बच्चों को लाने के लिए निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि लोगों में मां गंगा के प्रति जागरूकता बनाए रखने के लिए विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं जिस के क्रम में 31 जनवरी को निषाद पार्क पर स्थानीय कलाकारों  तथा स्कूली बच्चों द्वारा विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित  होंगे। इस कार्यक्रम में स्कूली बच्चों के साथ साथ उनके अभिभावक तथा स्कूलों के अध्यापक भी उपस्थित रहें। इस गंगा यात्रा में विभिन्न विद्यालयों की झांकियां भी निकाली जाएंगी जो यात्रा के साथ कार्यक्रम स्थल तक आएगी। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि कार्यक्रम स्थल में पेयजल तथा पर्याप्त मात्रा में मोबाइल टॉयलेट की व्यवस्था कराने के लिए निर्देशित किया। बैठक में अपर जिलाधिकारी नगर विवेक श्रीवास्तव , अपर जिलाधिकारी वित्त राजस्व वीरेंद्र पांडे, सिटी मजिस्ट्रेट हिमांशु गुप्ता, केडीए सचिव, आरटीओ तथा अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।