खाँसी, बुखार और सांस लेने में तकलीफ होते ही तुरंत डॉक्टर से परामर्श लें
February 14, 2020 • Mr Arun Mishra

> महिला महाविद्यालय किदवई नगर की हेल्थ एवं हाइजीन कमिटी के द्वारा स्वास्थ्य शिविर का आयोजन संपन्न।

कानपुर (का ० उ ० सम्पादन)। गुरूवार 13 फरवरी को महिला महाविद्यालय किदवई नगर की हेल्थ एवं हाइजीन कमिटी के द्वारा स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया जिसमें कुलवंती हॉस्पिटल के कैंसर सर्जन डॉ पी के अग्रवाल ने कोरोना वायरस एवं कैंसर से बचाव पर महत्वपूर्ण व्याख्यान दिया तथा स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ नीरजा अग्रवाल ने छात्राओं को स्त्रीजन्य समस्याओं पर परामर्श दिया। प्राचार्या डॉ बी आर अग्रवाल ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि डब्लू एच ओ ने इस समय कोरोना वायरस की भयावता देखते हुए अंतर्राष्ट्रीय आपातकाल घोषित किया है। महाविद्यालय में छात्राओं के स्वास्थ्य परीक्षण तथा जागरूकता के लिए प्रायः हेल्थ कैंप का आयोजन किया जाता है जिससे छात्राओं को स्वास्थ्य सम्बन्धी परामर्श दिया जा सके। कुलवंती हॉस्पिटल के कैंसर सर्जन डॉ पी के अग्रवाल ने अपने व्याख्यान में कहा कि कोरोना वायरस के कारण चीन से फैलने वाली इस भयावह संक्रामक बीमारी के लक्षण बिलकुल सामान्य फ्लू की तरह है। खाँसी, बुखार और सांस लेने में तकलीफ होते ही तुरंत डॉक्टर से परामर्श लें। साफ़ सफाई का ध्यान रखें मांसाहार तथा सीफूड तथा संक्रमित लोगों से बचना आवश्यक है। डॉ अग्रवाल ने कैंसर के प्रारम्भिक लक्षण एवं उससे बचाव और रोकथाम पर अपने व्याख्यान में बताया कि किसी भी प्रकार की गाँठ, फोड़ा, खांसी का लम्बे समय तक बने रहना, कहीं पर दर्द अकारण थकान एवं कमजोरी होने पर तुरंत डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए। प्रदूषित जल एवं वायु, सिगरेट का धुंआ तथा पोषक आहार की कमी कैंसर का कारण बन सकता है। डॉ नीरजा अग्रवाल ने कहा कि महिलाओं को साफ़ सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए तथा परिवार  के साथ अपने खान पान पर भी ध्यान रखना चाहिए।  योग तथा ध्यान, मॉर्निंग वाक एवं व्यायाम करके महिलाएं स्वयं को स्वस्थ रख सकती हैं। छात्राओं द्वारा पूछे जाने पर उनकी समस्याओं का समाधान करते हुए डॉ नीरजा ने स्त्री जन्य विभिन्न रोगों के लक्षण एवं उनसे बचाव के विषय में जानकारी दी। स्वास्थ्य शिविर में छात्राओं ने हीमोग्लोबिन स्तर की जांच एवं ब्लड प्रेशर की नि शुल्क जाँच की गई तथा छात्राओं का वजन परीक्षण भी किया गया। इस अवसर पर रक्तदान शिविर का भी आयोजन किया गया जिसमें प्रवक्ताओं तथा छात्राओं एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों द्वारा बढ़ चढ़ कर रक्तदान किया गया। समिति प्रभारी डॉ मनीषा शुक्ला, सह प्रभारी डॉ ममता दीक्षित, डॉ अर्चना श्रीवास्तव, डॉ मीरा त्रिपाठी, डॉ विभा सिंह, डॉ अनामिका वर्मा, डॉ मीरा यादव, डॉ सीमा कनोजिया तथा सबा यूनुस (एन एस एस प्रभारी) के सक्रीय सहयोग से कार्यक्रम सफलतापूर्वक संपन्न हुआ।