किसानों से खरीदे गए गेहूँ का किसान को हो तत्काल भुगतान : मुकुट बिहारी वर्मा
April 28, 2020 • Mr Arun Mishra

> गेहूँ खरीद केंद्र जो अभी चालू नहीं किए गए हैं उनको शीघ्र चालू करने के निर्देश। 

लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश के सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा ने सहकारिता विभाग की गेहूँ क्रय करने वाली संस्था पीसीएफ, पीसीयू एवं यूपीएसएस के प्रबंधकों को निर्देश दिया है कि गेहूँ क्रय केंद्रों पर किसानों को किसी प्रकार की कोई असुविधा नहीं होने पाये इसका विशेष ध्यान रखा जाये। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिया है कि गेहूँ खरीद केंद्रों का निरीक्षण कर केंद्रों पर की गई व्यवस्थाओं का अवलोकन भी किया जाये, गेहूँ क्रय केंद्रों पर किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं होनी चाहिए, यदि कहीं किसी केन्द्र पर किसी भी प्रकार की कोई समस्या है तो उसका निस्तारण शीघ्र ही कराया जाये। श्री वर्मा ने सोमवार 27 अप्रैल को विधान भवन स्थिति कार्यालय में विभागीय अधिकारियों एवं पीसीएफ, पीसीयू व यूपीएसएस के प्रबन्धकों सहित अन्य अधिकारियों के साथ शोसल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए बैठक की। बैठक में उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि गेहूँ क्रय केंद्रों पर सभी आवश्यक व्यवस्थाएं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि गेहूँ क्रय केन्द्रों पर कोरोना वायरस से बचाव हेतु साफ-सफाई, सेनेटाईजर आदि की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। उन्होने यह भी कहा कि केन्द्रो पर आने वाले किसानो से सोशल डिस्टेंसिग का पालन कराया जाये और किसानों से क्रय किये गये गेहूँ का भुगतान पीएफएमएस के माध्यम से निर्धारित समय में कराया जाये इससे सम्बधित सभी आवश्यक कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर किया जाये। इस अवसर पर बैठक में प्रमुख सचिव सहकारिता एम वी एस रामीरेडडी, आयुक्त एवं निबन्धक एस वी एस रंगाराव, प्रबन्ध निदेशक यूपीसीबी भूपेन्द्र कुमार, प्रबन्ध निदेशक पीसीयू मनोज द्विवेदी, प्रबन्धक निदेशक यूपीएसएस राजीव यादव सहित अन्य सम्बधित अधिकारी आदि उपस्थित थे।