कोरोना वायरस से बचाव हेतु उ म रे प्रयागराज मंडल द्वारा किये जा रहे हैं हर संभव उपाय
March 18, 2020 • Mr Arun Mishra
卐 रेलवे चिकित्सालय कानपुर में 07 बेड का आइसोलेशन वार्ड तथा कानपुर अनवरगंज में 06 बेड का क्वारनटाइन वार्ड किया गया है स्थापित।
卐 श्रम शक्ति एक्सप्रेस के वातानुकूलित कोचों में नहीं दिया जा रहा है कम्बल, केवल चादर की सुविधा उपलब्ध है।
प्रयागराज (मुख्य संवाददाता, उ म रे)। प्रयागराज मंडल अपने सम्मानित यात्रियों को बेहतर से बेहतर सुविधा प्रदान करने हेतु निरंतर प्रयासरत है तथा यात्रियों की सुखद,संरक्षित एवं सुरक्षित यात्रा हेतु कटिबद्ध है। प्रयागराज मंडल अपने सम्मानित यात्रियों के स्वास्थ्य के साथ-साथ अपने कर्मचारियों के स्वास्थ्य के प्रति भी बेहद गंभीर है। मंडल रेल प्रबंधक प्रयागराज मंडल द्वारा निर्देश जारी किया गया है कि मंडल में कार्यरत समस्त अधिकारी एवं मुख्य कार्यालय अधीक्षक अपने अधीन कार्यरत सभी कर्मचारियों एवं उनके परिवार के सदस्यों के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी प्राप्त करें और अस्वस्थ होने की स्थिति में स्वास्थ्य की जाँच कराने हेतु निर्देशित करें। असहज स्थिति में तत्काल नजदीकी स्वास्थ्य इकाई अथवा केंद्रीय चिकित्सालय, प्रयागराज में अपना उपचार कराएं। मंडल कार्यालय में लिक्विड सोप की सुविधा प्रदान की गई है तथा गार्ड एवं ड्राईवर लॉबी में हैंड सैनिटाइजर का प्रयोग सुनिश्चित किया जा रह है। केंद्रीय चिकित्सालय प्रयागराज में 20 बेड का आइसोलेशन वार्ड तथा आईआरटीएमटीसी प्रयागराज में 20 बेड का क्वारनटाइन वार्ड बनाया गया है। इसके अतिरिक्त रेलवे चिकित्सालय कानपुर में 07 बेड का आइसोलेशन वार्ड तथा कानपुर अनवरगंज में 06 बेड का क्वारनटाइन वार्ड, टूंडला में 10 बेड का आइसोलेशन वार्ड तथा 06 बेड का  क्वारनटाइन वार्ड एवं अलीगढ़ में 06 बेड का क्वारनटाइन वार्ड बनाया गया है। संदिग्ध व्यक्तियों के शरीर के तापमान परीक्षण हेतु नाॅन काॅन्टैैक्ट इन्फ्रारेेड थर्मामीटर भी उपयोग किया जायेगा। रेलवे चिकित्सालय द्वारा आवश्यकतानुसार मास्क कर्मचारियों को उपलब्ध कराया जा रहा है। इसी क्रम में यात्रियों की सुविधा हेतु कोरोना वायरस से बचाव हेतु प्रयागराज मंडल द्वारा हर संभव उपाय किये जा रहे हैं जिसके अंतर्गत वातानुकूलित कोचों को कूलिंग से पूर्व हीटिंग मोड में ले जाकर 30 मिनट तक कोच का तापमान 35⁰ C तक रखा जा रहा है, तत्पश्चात कोच की कूलिंग की जा रही है, इस प्रकार ए सी कोचों को सैनिटाइज किया जा रहा है। ए सी कोचों में प्रदान किये जाने वाले लिनेन को स्टीम वाश कर सैनिटाइज किया जा रहा है। उत्तर मध्य रेलवे प्रयागराज मंडल द्वारा कोरोना वायरस से बचाव हेतु 31 मार्च 2020 तक प्रयागराज मंडल की प्रयागराज, हमसफर, संगम, श्रम शक्ति, जयपुर एक्सप्रेस आदि गाड़ियों के वातानुकूलित कोचों में यात्रियों के स्वास्थ्य को दृष्टिगत रखते हुए कम्बल नहीं दिया जा रहा है केवल चादर की सुविधा उपलब्ध है। आवश्यकता पड़ने पर यात्रियों को अतिरिक्त चादर की सुविधा  प्रदान की जा रही है  तथा पर्दों को भी हटा दिया गया है । यात्रियों को किसी तरह की कोई असुविधा न हो इस बात का ध्यान रखते हुए वातानुकूलित कोचों का तापमान 25 डिग्री पर नियंत्रित किया जा रहा है  जिससे यात्रियों को कम्बल की आवश्यकता ही न पड़े। विशेष परिस्थिति में यात्रीगण अपनी सुविधानुसार यात्रा के दौरान अपने साथ अपना स्वयं का कम्बल रख सकते हैं। वातानुकूलित कोचों के अतिरिक्त स्लीपर कोचों एवं जनरल कोचों की सफाई के पश्चात स्टीम वाश किया जा रहा है। यह सुरक्षात्मक उपाय यात्रियों के हित को ध्यान में रखकर किया जा रहा है। प्रयागराज मंडल के अंतर्गत कोचों के प्रवेश द्वार पर लगे हैंडल, टॉयलेट के नल एवं सीट के आस-पास कीटाणु नाशक का प्रयोग कर उच्च स्तरीय सफाई की जा रही है एवं सेनेटाइज किया जा रहा है। स्टेशन परिसर में लगे एस्केलेटर की रेलिंग, एफओबी की रेलिंग, रैंप की रेलिंग, बेंच, वाटरबूथ, टॉयलेट, दरवाजों के नॉब तथा स्विच आदि की सफाई स्टीम क्लीनर द्वारा करके सेनेटाइज किया जा रहा है। मंडल के सभी स्टेशनों पर उद्घोषणा प्रणाली के माध्यम से कोरोना वायरस से बचाव हेतु यात्रियों को निरंतर जागरूक किया जा रहा है।