लाॅकडाउन के चलते पृथ्वी को मिला नया जीवन, हवा के साथ पानी भी हुआ स्वच्छ : केशव प्रसाद मौर्य
April 23, 2020 • Mr Arun Mishra
卐 विश्व पृथ्वी दिवस पर उप मुख्यमंत्री ने किया वृक्षारोपण।
 
 
लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने विश्व पृथ्वी दिवस के अवसर पर लोगों का आह्वान किया है कि सभी लोग  धरा को हरा भरा बनाने तथा भावी पीढ़ियों के लिए वातावरण को प्रदूषण मुक्त करने व अपने आसपास सफाई रखने का संकल्प लें। "माता भूमिःय; पुत्रों अहं पृथिव्या" का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि आइए हम सब लोग मिलकर इस अवसर पर संकल्प लें कि धरती माता को हरा भरा बनाने में हम लोग कोई कोर कसर बाकी नहीं रखेंगे। श्री मौर्य ने बुधवार 22 अप्रैल को विश्व पृथ्वी दिवस के अवसर पर सार्वजनिक जीवन से समय निकालकर अपने लखनऊ आवास परिसर में वृक्षारोपण किया तथा सभी का आह्वान किया कि सभी लोग  सामाजिक दूरी बनाए रखते हुए यथासंभव वृक्षारोपण पर अपने अनुभवों को साझा करें। उन्होंने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी से बचने के लिए लाॅकडाउन चल रहा है, जिससे तमाम लोगों के घरों में होने से उनकी कई गतिविधियां बंद हो गई हैं, लेकिन धरती को नया जीवन मिल गया है। सिर्फ हवा ही नहीं पानी भी साफ हो गया है। श्री मौर्य ने कहा कि अमेरिकी डाटा रिसर्च कंपनी, मार्निग कंसल्ट के द्वारा किए गए रिसर्च में वैश्विक महामारी को नियंत्रित करने में भारत के प्रधानमंत्री पहले पायदान पर हैं। हम सब लोग वैश्विक महामारी के संक्रमण को रोकने के लिए न केवल लाॅकडाउन का पालन करें ,बल्कि लोगों को इसके लिए जागरूक भी करें और "आरोग्य सेतु ऐप" जरूर डाउनलोड करें। मा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की दूरदर्शी नीतियों का स्वागत करते हुए उन्होंने कहा कि हमारा देश कोरोना से मजबूती के साथ उनके नेतृत्व में लड़ रहा है। श्री मौर्य ने देश व प्रदेश वासियों को इस महामारी से लड़ने में सहयोग व समर्पण के लिए सभी का अभिनंदन किया है। श्री मौर्य ने बताया कि केंद्र सरकार कोरोना वारियर्स अर्थात चिकित्सकों के खिलाफ बढ़ रही हिंसा को रोकने एवं उनकी सुरक्षा के लिए ऐतिहासिक फैसला लेते हुए चिकित्सा सुरक्षा अध्यादेश लाई है। कोरोना वारियर्स पूरी निष्ठा व मुस्तैदी के साथ आम जनों को बचाने के लिए सेवा प्रदान कर रहे हैं। उप मुख्यमंत्री ने इस ऐतिहासिक अध्यादेश का स्वागत किया है। केशव मौर्य ने प्रधानों, जिला पंचायत सदस्यों, क्षेत्र पंचायत सदस्यों आदि जनप्रतिनिधियों से अपील की है कि वह प्रदेश में राशन वितरण के कार्यों में वांछित सहयोग प्रदान करते हुये अपने सामाजिक दायित्वों का निर्वहन करें तथा पात्र लोगों को राशन दिलाने में सहयोग करें। उन्होंने कोटेदारों से भी अपील की है कि इस संकट की घड़ी में राशन वितरण में ऐसा प्रयास करें कि किसी को परेशान न होना पडे़ और गरीबों को आसानी के साथ उनका राशन मिल जाए। उन्होंने कहा यदि कोई कोटेदार वितरण में किसी को परेशान करेगा य अनियमितता बरतेगा तो उसको गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे।