लखनऊ महोत्सव 2020 का शुभारम्भ करेंगे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
January 7, 2020 • Mr Arun Mishra

> प्रेस वार्ता के दौरान लखनऊ महोत्सव के पोस्टर, आमंत्रण एवं समापन कार्ड का विमोचन।

> समिति द्वारा लखनऊ महोत्सव का आयोजन अग्रिम आदेशों तक स्थगित भी कर दिया गया है।

लखनऊ (का ० उ ० सम्पादन)। उ प्र कला संस्कृति विशेषकर लखनऊ की कला एवं संस्कृति को प्रदर्शित कर पर्यटन, संस्कृति, कुज़ीन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से प्रतिवर्ष लखनऊ महोत्सव का आयोजन किया जाता है। लखनऊ महोत्सव का आयोजन पूरे प्रदेश में उत्तर प्रदेश की संस्कृति, कला, पर्यटन, कुज़ीन एवं सरकार की नवीन योजनाओं के व्यापक प्रचार प्रसार का एक उपयुक्त प्लेटफार्म है। लखनऊ महोत्सव में जनपद लखनऊ एवं आस - पास के सामान्य जनमानस जो किसी कारणवश अन्य महोत्सव में सम्मिलित नहीं हो पाते हैं वो मनोरंजन, कला एवं संस्कृति से स्थानीय स्तर पर सम्मिलित होकर लाभान्वित हो सकते हैं। इस वर्ष यह आयोजन 17 से 23 जनवरी तक रामाबाई आंबेडकर मैदान, अमर शहीद पथ में स्वच्छ लखनऊ, सुन्दर लखनऊ एवं श्रेष्ठ लखनऊ की थीम पर आयोजित होगा। लखनऊ महोत्सव 2020 का उदघाटन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा परम्परानुसार होगा व समापन उत्तर प्रदेश की राज्य्पाल द्वारा प्रस्तावित है। लखनऊ महोत्सव की सांस्कृतिक संध्याओं में राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त कलाकारों मुख्यतः बादशाह, नेहा कक्कड़, दिनेश लाल यादव, निरहुआ, राजू श्रीवास्तव, निष्ठां शर्मा, गीतांजलि शर्मा, हरिओम पवार, विष्णु सक्सेना, गजेंद्र सोलंकी, हासिम फिरोजाबादी, सर्वेश अस्थाना, मनीष शुक्ल, डॉ सुमन दुबे, श्रीमती सबा बलरामपुरी को कवी सम्मलेन एवं मुशायरा हेतु आमंत्रित किया जा रहा है, साथ ही स्थानीय लोक संगीत, नृत्य गायन, वादन, भजन आदि विधाओं के कलाकारों की प्रस्तुति भी कराई जायेगी। इस वर्ष लखनऊ महोत्सव के नवीन आकर्षण में सखी दिवस होगा। एक दिवसीय सखी दिवस का आयोजन होगा जिसकी प्रस्तावित तिथि 22 जनवरी है। सखी दिवस के दृष्टिगत महोत्सव में प्रातः 11 बजे से सायं 4 : 30 बजे तक मात्र महिलाओं, बालिकाओं एवं महिलाओं के साथ आये 10 साल के बच्चों को ही प्रवेश दिया जाएगा। इस वर्ष महोत्सव में आने वाले पर्यटकों को अतुलनीय अनुभव उपलब्ध कराये जाने के उद्देश्य से 8 से 10 मिनट की अवधि में हेलीकाप्टर के माध्यम से लखनऊ की ऐतिहासिक धरोहरों का आकाशीय भ्रमण कराया जाएगा। लखनऊ महोत्सव की अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बढ़ती लोकप्रियता के दृष्टिगत अधिक से अधिक जन सहभागिता सुनिश्चित किये जाने हेतु विभिन्न संस्थाओं के सहयोग से पतंग प्रतियोगिता, विंटेज कार रैली, नाट्य समारोह, कुश्ती, युवा महोत्सव, बाल महोत्सव, नौका रैली, राइफल शूटिंग, आदि विशिष्ट आयोजन कराये जाएंगे। लखनऊ महोत्सव प्रदर्शनी में मुख्यतः वाणिज्यिक स्टाल, शिल्पी स्टाल, पवेलियन, कारपेट, फर्नीचर आदि प्रमुख हैं। सरकार की प्रमुख योजनाओं के प्रचार प्रसार हेतु ओडीओपी के 100 स्टाल, सिडवी के 50 स्टाल, नाबार्ड के 35 स्टाल, जूट के 15 स्टाल, ट्राईफड के 10 स्टाल, आवास एवं नगर विकास के 2 स्टॉल लगेंगे। उक्त के अतिरिक्त कुछ विदेशी स्टॉल एवं आरबीआई, एसबीआई, सेवी एवं अन्य बैंकों तथा पर्यटन विभाग की प्रदर्शनी भी लगेगी। बीते सोमवार 6 जनवरी को मंडलायुक्त / अध्यक्ष, लखनऊ महोत्सव समिति एवं जिलाधिकारी / उपाध्यक्ष, लखनऊ महोत्सव समिति द्वारा अन्य अधिकारियों के साथ लखनऊ महोत्सव के पोस्टर, आमंत्रण एवं समापन कार्ड का विमोचन किया गया साथ ही महोत्सव की निर्धारित थीम पर बने जिंगल को भी लांच किया गया।