लक्ष्य के प्रति जुनून के साथ धैर्य यदि किसी व्यक्ति में है तो उसे आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता : श्रीमती शोभना भरतिया
May 16, 2020 • Mr Arun Mishra
> फिक्की फ्लो ने किया पद्मश्री शोभना भारतिया के साथ ऑनलाइन संवाद कार्यक्रम का किया आयोजन संपन्न। 
> वृद्धि ऑनलाइन संवाद कार्यक्रम में मीडिया की भूमिका, महिलाओं की उनके जीवन में भूमिका समेत सामाजिक एवं आर्थिक मुद्दों के बारे में जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से आयोजित किया गया।
> शोभना भरतिया के साथ बातचीत में कानपुर चैप्टर की चेयर पर्सन डॉ आरती गुप्ता द्वारा उनके नेतृत्व में सत्र का संचालन किया गया।
 
चित्र में बाईं तरफ से हिंदुस्तान टाइम्स ग्रुप की चेयरपर्सन श्रीमती शोभना भरतिया और फिक्की फ्लो कानपुर चैप्टर की चेयर पर्सन डॉ आरती गुप्ता। (फोटो : संजय चतुर्वेदी)
 
कानपुर। फिक्की फ्लो कानपुर चैप्टर द्वारा पद्मश्री शोभना भारतिया से शनिवार 16 मई को पहला ऑनलाइन संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कानपुर चैप्टर के विज़न स्टेटमेंट को ध्यान में रखते हुए यह वेबिनार आयोजित किया। वृद्धि नामक यह कार्यक्रम सामाजिक एवं आर्थिक मुद्दों के बारे में जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से आयोजित किया गया। यह कार्यक्रम महिलाओं को सशक्त बनाने व उनके अंदर निरंतर जागरूकता बढ़ाने और प्रज्वलित करने का एक सराहनीय प्रयास था। द हिंदुस्तान टाइम्स ग्रुप की चेयरपर्सन और संपादकीय निदेशक शोभना भरतिया जी के साथ बातचीत में कानपुर चैप्टर की चेयर पर्सन डॉ आरती गुप्ता द्वारा उनके कुशल नेतृत्व में सत्र का संचालन किया गया। विश्व की शीर्ष 100 सबसे शक्तिशाली महिलाओं में शामिल श्रीमती भरतिया बिड़ला इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड साइंस, पिलानी की प्रो चांसलर और एंडेवर इंडिया की वर्तमान अध्यक्ष हैं। उन्हें 2005 में पद्म श्री से सम्मानित किया गया था और 2016 में फोर्ब्स पत्रिका द्वारा उन्हें 93 वीं सबसे शक्तिशाली महिला के रूप में सूचीबद्ध किया गया था। यह सत्र शोभना भरतिया के हिंदुस्तान टाइम्स के मीडिया हेड के रूप में तीन दशकों की गतिशील यात्रा और उनके सामने आने वाली चुनौतियों के बारे में था। कार्यस्थल पर रूढ़िवादिता से लड़ते हुए उन्होंने काम के डोमेस्टिक बैलेंस को तोड़ने के लिए युवाओं को जमीनी हकीकत के खिलाफ अपने सपनों को जांचने के लिए प्रेरित करने वाले बिंदुओं पर चर्चा की। उन्होंने कोविड 19 और सरकार के द्वारा लाए गए आर्थिक परिणामों पर भी अपने विचार व्यक्त किए।  प्रश्नोत्तर सत्र के दौरान जहां सदस्यों ने कई प्रश्न किए, जिसमें पूछा गया कि वर्तमान परिदृश्य में मीडिया को किस भूमिका में देखती हैं और वह महिलाओं की भूमिका को इस महामारी के समय में कैसे देखती हैं। इस प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा कि आज इस महामारी के दौर में मीडिया की भूमिका अत्यंत अहम हो जाती है क्योंकि समाज मीडिया के माध्यम से स्थितियों का जायजा लेता है और उनका अनुपालन करता है केंद्र एवं राज्य सरकारों द्वारा चलाए जा रहे सुरक्षा अभियानों की जानकारी उन्हें मीडिया के माध्यम से प्राप्त होती है महामारी से बचाव के भी रास्तों का सुझाव मीडिया के माध्यम से ही दिया जाता है और जहां तक महिलाओं का प्रश्न है तो महिलाओं की भूमिका तो हर काल में अहम होती है चाहे वह कोविड 19 का समय हो या इसके बाद का महिलाओं का हर वर्ग इन चुनौतियों में परिवार और समाज के साथ रहता है और चुनौतियों का सामना करने में अपनी अग्रणी भूमिका निभाता है। अब चाहे हम उद्यमी महिलाओं की बात करें या घरेलू महिलाओं की सभी अपने क्षेत्रों में निरंतर अहम भूमिका निभा रही हैं। एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि सभी को आगे बढ़ने का जुनून होना चाहिए और साथ ही धैर्य भी यदि यह दोनों चीजें किसी व्यक्ति में है तो उसे आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता और वह अपने लक्ष्य को शीघ्र ही प्राप्त कर लेगा। जीवन में टाइम मैनेजमेंट का होना अति आवश्यक है यदि आपकी समय के प्रति प्रतिबद्धता बनी रहती है तो आप निरंतर गतिशील बने रहते हैं और आपका दिल और दिमाग के साथ पूरा शरीर स्वस्थ रहता है यह प्रक्रिया आपकी उत्तरोत्तर उन्नति के लिए अत्यंत आवश्यक है। इस कार्यक्रम की विशिष्ट अतिथि ग्रुप में फिक्की फ्लो की राष्ट्रीय अध्यक्ष जान्हवी फूकन मौजूद थी। इस कार्यक्रम में भारत के सभी 17 फ्लो चैप्टर की सदस्यों के साथ - साथ कानपुर चैप्टर की सभी 250 सदस्य उपस्थित थीं। जिसमें वरिष्ठ उपाध्यक्ष कनिका वैद और उपाध्यक्ष पूजा गुप्ता प्रमुख थीं।