लॉकडाउन 2 में गरीबों की सेवा में अग्रणी भूमिका निभा रहा है लोक निर्माण विभाग, सेतु निगम एवं निर्माण निगम
April 17, 2020 • Mr Arun Mishra

लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण के विरुद्ध उ प्र सरकार युद्ध स्तर पर कार्रवाई कर रही है और कोरोना वायरस से लड़ने के लिए पूरी प्रतिबद्धता के साथ लगी हुई है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के मद्देनजर प्रदेश में प्रत्येक नागरिक को सरकार द्वारा उनकी आवश्यकताओं की पूर्ति हेतु पूरी प्रतिबद्धता के साथ काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जहां एक ओर कोरोना के विरुद्ध युद्ध लड़ा जा रहा है, वहीं दूसरी ओर गरीबों व रोज कमाने खाने वाले लोगों को बुनियादी सुविधाओं की पूर्ति हेतु सरकार द्वारा पूरी तत्परता के साथ कार्य किया जा रहा है। श्री मौर्य ने बताया कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना में प्रदेश के अंदर 2 करोड़ 34 लाख किसानों को रु 2000 प्रति माह की दर से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत लाभ प्रदान किया गया है तथा प्रधानमंत्री जनधन योजना अंतर्गत 3 करोड़ 26 लाख पात्र महिला लाभार्थियों को 500 रुपय प्रत्येक महिला को पहली किस्त के रूप में प्रदान की गई है। उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा तथा स्वयंसेवी संगठनों द्वारा कम्युनिटी किचन सेंटरों का संचालन भी पूरी मुस्तैदी के साथ किया जा रहा है। उन्होंने बताया रोज कमाने खाने वाले लोगों को लोक निर्माण विभाग, सेतु निगम व राजकीय निर्माण निगम के अधिकारियों द्वारा भी जन सहयोग से भोजन सामग्री व राशन सामग्री का वितरण प्रदेश के सभी जिलों में किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि गुरूवार 16 अप्रैल को 7299 पौष्टिक भोजन के पैकेट व 3295 राशन सामग्री के पैकेट विभिन्न लोगों को वितरित किए गए। श्री मौर्य ने बताया कि आज तक लोक निर्माण विभाग, सेतु निगम व राजकीय निर्माण निगम के अधिकारियों द्वारा जन सहयोग से गरीबों को 1,12,236 भोजन के पैकेट व 55,408 राशन सामग्री के पैकेट वितरित किए गए। उन्होंने सभी सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया है कि कम्युनिटी किचन सेंटर बहुत व्यवस्थित तरीके से चलाये जाएँ तथा जिला प्रशासन के संज्ञान में लाए बिना कोई कम्युनिटी सेंटर संचालित नहीं किया जाएगा। उन्होंने यह भी निर्देश दिए हैं कि कम्युनिटी किचेन सेंटरों के संचालन में सामाजिक दूरी बनाये रखने का हर हाल में पालन सुनिश्चित कराया जाए तथा यह भी सुनिश्चित किया जाए कि कम्युनिटी किचन सेंटरों में कोई भी संदिग्ध व्यक्ति ना पहुंचने पाए।