लोकसभा क्षेत्र लखनऊ के निर्माण कार्यों की समय सीमा निर्धारित
June 12, 2020 • Mr Arun Mishra

उप मुख्यमंत्री बोले सभी कार्य निर्धारित समय सीमा के अन्दर अनिवार्य रूप से पूरे किए जाएं

卐 फ्लाईओवरों के निर्माण में जहां अतिक्रमण की समस्या हो वहां 15 दिन के अंदर अतिक्रमण हटाने दिया जाए।
 
卐 सड़कों के नीचे की सीवर लाइन व पाइप लाइन में रिसाव की मरम्मत तत्काल हो।
 
卐 हैदरगंज तिराहा - मीना बेकरी रोड और चरक चौराहा - विक्रम काॅटन मिल उपरिगामी सेतुओं में यूटिलिटी शिफ्टिंग का कार्य तीव्र गति से पूरा कराएं विद्युत विभाग के अधिकारी।
 
इन कार्यों की समय सीमा की गई निर्धारित:
 
卐 आरओबी के निर्माण में अपने अंश के अवशेष कार्य को 12 जुलाई तक पूर्ण करा दें रेलवे अधिकारी।
 
卐 शारदा कैनाल के दोनों ओर फैजाबाद मार्ग से सुल्तानपुर मार्ग के मध्य 3-3 लेन के मार्ग के निर्माण का कार्य जुलाई 2020 तक पूरा कर लिया जाए। 
 
卐 शारदा कैनाल के दोनों ओर फैजाबाद मार्ग से सुल्तानपुर मार्ग के मध्य लगभग 12 करोड़ रुपए की लागत से बनाए जा रहे 3-3 लेन मार्ग के निर्माण कार्य अगस्त 2020 तक पूरा हो।
 
卐 सीमैप इंस्टीट्यूट के पास निर्मित पुलिया के चैड़ीकरण के कार्य अगस्त 2020 तक पूरा हो।
 
卐 खुर्रमनगर चैराहे से विकास नगर - रहीम नगर मार्ग के चैड़ीकरण के कार्य एक माह के अन्दर पूरा हो।
 
निर्माण कार्यों की प्रगति आख्या:
 
卐 लखनऊ आउटर रिंग रोड किसान पथ में सेतु निगम द्वारा 3 सेतुओं में से 2 सेतुओं का निर्माण कार्य पूर्ण किया जा चुका है। 
 
卐 रेलवे ओवरब्रिज का एप्रोच कार्य 94 प्रतिशत पूरा हो गया है।
 
 हैदरगंज तिराहे से मीना बेकरी मोड़ तक 2 लेन उपरिगामी सेतु का 90 प्रतिशत निर्माण कार्य पूरा हो गया है।
 
卐 चरक चैराहा - हैदरगंज चैराहा - चरक क्रसिंग - विक्रम काॅटन मिल रोड के निकट 2 लेन फ्लाई ओवर का निर्माण कार्य 74 प्रतिशत पूर्ण हो गया है।
 
卐 गुरू गोविन्द सिंह मार्ग पर हुसैनगंज चैराहा - बासमण्डी चैराहा - नाका हिण्डोला चैराहा - डीएवी काॅलेज के मध्य 03 लेन फ्लाई ओवर का निर्माण कार्य भी 95 प्रतिशत पूरा हो गया है।
 
 
लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सेतु निगम, रेलवे, लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिये हैं कि वे लखनऊ लोकसभा क्षेत्र में निर्माणाधीन सेतुओं, फ्लाईओवरों व आरओबी तथा सड़कों के निर्माण कार्य में तेजी लाएं। उन्होंने सभी कार्यों की समय सीमा निर्धारित करते हुये निर्देश दिये कि सभी कार्य निर्धारित समय सीमा के अन्दर अनिवार्य रूप से पूरे किए जाएं। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी कार्य निर्धारित मानकों के अनुरूप और गुणवत्तापूर्ण होने चाहिए। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य गुरूवार 11 जून को लोक निर्माण विभाग मुख्यालय स्थित तथागत सभागार में लखनऊ लोकसभा क्षेत्र के कार्यों की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि फ्लाईओवरों के निर्माण में जहां अतिक्रमण की समस्या है, वहां जिलाधिकारी व पुलिस कमिशनर तथा सम्बन्धित विभाग के अधिकारी समन्वय कर 15 दिन के अन्दर अतिक्रमण हटवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने निर्देश दिये कि यूटिलिटी शिफ्टिंग के कार्य सम्बन्धित विभागों से समन्वय कर तत्काल पूरे किये जाएं। उन्होंने कहा कि सड़कों के नीचे जहां सीवर लाइन या पानी की पाइपलाइन जाती हों, यदि कहीं रिसाव हो रहा हो, तो उसकी तत्काल सम्बन्धित विभागों के अधिकारी अनिवार्य रूप से मरम्मत कराना सुनिश्चित करें। उप मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि पुलों के निर्माण कार्य के साथ एप्रोच रोड के भी कार्य शीघ्र पूर्ण किए जाएं। लखनऊ आउटर रिंग रोड किसान पथ में सेतु निगम द्वारा 3 सेतुओं का निर्माण कार्य किया जाना स्वीकृत था, जिसमें से 2 सेतुओं स्पिल वे और गोमती नदी का निर्माण कार्य वित्तीय वर्ष 2018-19 में ही पूर्ण किया जा चुका है। रेलवे ओवरब्रिज का एप्रोच कार्य 94 प्रतिशत पूरा हो गया है, एप्रोच रोड का शेष कार्य लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को शीघ्र पूरा करने तथा आरओबी के निर्माण में रेलवे के अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि वे अपने अंश के अवशेष कार्य को 12 जुलाई तक पूर्ण करा दें। लखनऊ में हैदरगंज तिराहे से मीना बेकरी मोड़ तक 2 लेन उपरिगामी सेतु का 90 प्रतिशत निर्माण कार्य पूरा हो गया है तथा लखनऊ शहर में ही चरक चैराहा - हैदरगंज चैराहा - चरक क्रसिंग - विक्रम काॅटन मिल रोड के निकट 2 लेन फ्लाई ओवर का निर्माण कार्य 74 प्रतिशत पूर्ण हो गया है। इन दोनों ही उपरिगामी सेतुओं में आ रही अतिक्रमण की समस्या को शीघ्र हल करने के निर्देश उप मुख्यमंत्री ने दिए तथा चरक चैराहा - विक्रम काॅटन मिल के बीच के फ्लाई ओवर के निर्माण में विद्युत विभाग के अधिकारियों को भी निर्देशित किया गया है कि वे यूटिलिटी शिफ्टिंग का कार्य तीव्र गति से पूरा कराएं। लखनऊ शहर में गुरू गोविन्द सिंह मार्ग पर हुसैनगंज चैराहा - बासमण्डी चैराहा - नाका हिण्डोला चैराहा - डीएवी काॅलेज के मध्य 03 लेन फ्लाई ओवर का निर्माण कार्य भी 95 प्रतिशत पूरा हो गया है। इस सम्बन्ध में उप मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि सभी औपचारिकताएं पूरी करते हुए, इसे पूरा करा दिया जाए। लखनऊ - सुल्तानपुर मार्ग के किमी-10 में अर्जुनगंज के समीप मरी-माता मंदिर के निकट 4 लेन सेतु पहुंच मार्ग एवं सुरक्षात्मक कार्य को कराये जाने के प्रस्ताव पर सहमति प्रदान की गयी तथा उप मुख्यमंत्री ने कहा इसके लिये सभी औपचारिकताएं शीघ्र से शीघ्र पूरी कराई जाएं। श्री मौर्य ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि शारदा कैनाल के दोनों ओर फैजाबाद मार्ग से सुल्तानपुर मार्ग के मध्य 3-3 लेन के मार्ग के निर्माण का कार्य जो 29747.63 लाख रुपए की लागत से कराया जा रहा है, इसे माह जुलाई 2020 तक अनिवार्य रूप से पूरा कर लिया जाए। शारदा कैनाल के दोनों ओर फैजाबाद मार्ग से सुल्तानपुर मार्ग के मध्य लगभग 12 करोड़ रुपए की लागत से बनाए जा रहे 3-3 लेन मार्ग के निर्माण कार्य को अगस्त 2020 तक पूरा करने के निर्देश श्री मौर्य ने दिये। सीमैप इंस्टीट्यूट के पास निर्मित पुलिया के चैड़ीकरण के कार्य को भी अगस्त 2020 तक पूरा करने के निर्देश दिये। श्री मौर्य ने खुर्रमनगर चैराहे से विकास नगर - रहीम नगर मार्ग के चैड़ीकरण के कार्य को भी एक माह के अन्दर पूरा करने के निर्देश सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों को दिए। बैठक में राज्यमंत्री लोक निर्माण विभाग चन्द्रिका प्रसाद उपाध्याय, प्रमुुख सचिव लोनिवि नितिन रमेश गोकर्ण, सांसद प्रतिनिधि के पी सिंह, सचिव लोनिवि समीर वर्मा, सचिव लोनिवि रंजन कुमार, जिलाधिकारी लखनऊ अभिषेक प्रकाश, जिलाधिकारी बाराबंकी डाॅ आदर्श सिंह, जल निगम के प्रबन्ध निदेशक विकास गोठलवाल, प्रमुख अभियन्ता लोनिवि एस के श्रीवास्तव, राज्य सेतु निगम के प्रबन्ध निदेशक अरविन्द श्रीवास्तव, राजकीय निर्माण निगम के प्रबन्ध निदेशक यू के गहलौत, मुख्य अभियन्ता लोनिवि ए के अग्रवाल, रेलवे, नगर निगम, विद्युत, प्रदुषण नियंत्रण बोर्ड व अन्य सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।