माँ गंगा को दूषित करने पर लगेगा जुर्माना
December 10, 2019 • Mr Arun Mishra

फर्रुखाबाद (का ० उ ० सम्पादन)। डीएम मानवेन्द्र सिंह ने पांचालघाट का औचक निरीक्षण किया। डीएम ने नाव में बैठक कर शमशान घाट पांचालघाट से अमेठी कोहना धीमानपुरा तक 2 कोलीमेटर गंगा सफाई का जायज़ा लिया। जिला पंचायत राज अधिकारी एवं ग्राम प्रधान को सफाई कार्य जारी रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि गंगा घात निरंतर स्वच्छ रहे। 10 जनवरी मेला रामनगरिया के शुभारम्भ से पहले घाटों पर सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराये सम्बंधित अधिकारी। स्नान घाटों पर जंजीर लगवाने के निर्देश दिए। निर्माण कराई गयी नालियों पर एक-एक और जाली लगवाने के निर्देश दिए ताकि गंगा में गंदगी / पॉलिथीन न जा सके। वन विभाग को बड़ी मात्रा में वृक्षारोपण कराने के निर्देश दिए। शमशान घाट के पास पार्किंग व्यवस्था हेतु जगह चिन्हित करने के निर्देश उप जिलाधिकारी को दिए। उन्होंने जिला पंचायत राज अधिकारी एवं ग्राम प्रधान सोता बहादुरपुर को निर्देशित करते हुए कहा कि गंगा घाट के किनारे रहने वाले ग्रामीणों को समझाया जाए कि जो भी गंदगी / कूड़ा फेकना है वह गली में रखे कूड़े दान में फेंके। कूड़ा किसी भी दशा में गंगा घाट पर न फेंका जाए। अन्यथा की दशा में सम्बंधित पर जुर्माना की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। डीएम ने ग्राम प्रधान को पुराणी घटिया ठाकुर द्वारा एवं अमेठी कोहना घात पर सफाई कराने के निर्देश दिए। शमशान घाट के सफाई कर्मचारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि शवदाह करने के पश्चात जली हुई लकड़ी / किसी प्रकार का कूड़ा य गंदगी गंगा जी में न फेकने दी जाए। अन्यथा की दशा में कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। निरीक्षण के दौरान एडीएम, एसडीएम, जिला पंचायत राज अधिकारी, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका फर्रुखाबाद, ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत अधिकारी, ग्राम विकास अधिकारी, क्षेत्रीय लेखपाल आदि उपस्थित रहे।