मुख्यमंत्री ने गुना, म प्र में सड़क दुर्घटना में प्रदेश के प्रवासी कामगारों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया
May 15, 2020 • Mr Arun Mishra

कानपुर (का उ सम्पादन)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुना, मध्य प्रदेश में एक सड़क दुर्घटना में उत्तर प्रदेश के प्रवासी कामगारों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है। मुख्यमंत्री जी ने अधिकारीयों को मध्य प्रदेश सरकार से समन्वय कर सभी घायलों का समुचित उपचार कराने तथा मृतकों के पार्थिव शरीर दिवंगतों के परिजनों तक पहुंचाने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपए तथा हादसे में गंभीर रूप से घायल लोगों को 50-50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान किये जाने के निर्देश दिए हैं। आपको बता दें कि कैंट थाना क्षेत्र के बायपास पर हुए इस दर्दनाक सड़क हादसे में 8 मजदूरों की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि सभी मजदूर एक मिनी ट्रक में सवार होकर महाराष्ट्र से उप्र की तरफ जा रहे थे। लेकिन देर रात लगभग 3 बजे के बीच भीषण हादसा हो गया। यात्री बस और ट्रक के बीच हुई टक्कर में दोनों वाहनों के परखच्चे उड़ गए। गनीमत ये रही कि यात्री बस में केवल ड्राइवर और एक क्लीनर सवार था. नहीं तो मृतकों की संख्या इससे कहीं ज़्यादा हो सकती थी। बताया जा रहा है कि यात्री बस ग्वालियर से अहमदाबाद के लिए जा रही थी। इस हादसे में 7 मज़दूरों की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी जबकि एक अन्य मजदूर की मौत अस्पताल ले जाते वक्त हुई। अब तक कुल 8 मजदूरों की मौत हो चुकी है और करीब 55 मजदूर गंभीर रूप से घायल हैं। 3 मजदूर आंशिक रूप से घायल बताये जा रहे हैं। सभी प्रवासी मजदूर उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों  उन्नाव, रायबरेली और प्रतापगढ़ के बताए जा रहे हैं। मृतकों में 6 मजदूरों की शिनाख्त कर ली गयी है।

मृतक :

–  रमेश पाल, 43 वर्ष , भगवंतनगर उन्नाव

– अजित कोरी, 20 वर्ष ,जानकीगंज उन्नाव

– इब्राहिम, 18 वर्ष,रायबरेली

– अर्जुन कोरी, 21 वर्ष , रायबरेली

– वसीम खान,23 वर्ष , रायबरेली

– सुधीर 22 वर्ष , रायबरेली