मुख्यमंत्री ने जनपद कानपुर नगर, झांसी एवं वाराणसी की चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिए चिकित्सा विशेषज्ञों को भेजने के निर्देश दिए
July 11, 2020 • Mr Arun Mishra

> मुख्यमंत्री ने सम्पूर्ण प्रदेश में संचालित विशेष स्वच्छता अभियान में व्यापक स्तर पर घर-घर सर्विलांस करते हुए रैपिड एन्टीजन टेस्ट कराने के निर्देश दिए।

> सभी प्रभारी मंत्रिगण अपने-अपने जनपदों में विशेष स्वच्छता अभियान की मॉनिटरिंग करें : मुख्यमंत्री

> सर्विलांस टीम तथा एम्बुलेंस सेवा के मध्य बेहतर तालमेल रहना चाहिए : मुख्यमंत्री

> रेलवे स्टेशन पर यात्रियों के लिए बस की व्यवस्था की जाए : मुख्यमंत्री

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी 10 जुलाई, 2020 को लोक भवन, लखनऊ में आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलाॅक व्यवस्था की समीक्षा करते हुए।  (फोटो : मुख्यमंत्री सूचना परिसर)

लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने 10, 11 व 12 जुलाई, 2020 को सम्पूर्ण प्रदेश में संचालित किए जा रहे विशेष स्वच्छता अभियान में व्यापक स्तर पर घर-घर सर्विलांस करते हुए रैपिड एन्टीजन टेस्ट कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि कोविड–19 तथा अन्य संचारी रोगों पर नियंत्रण एवं स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता उत्पन्न करने के उद्देश्य से यह अभियान चलाया जा रहा है। मुख्यमंत्री योगी शुक्रवार 11 जुलाई 2020 को लोक भवन में आहूत एक उच्च स्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अभियान के दौरान वृहद स्तर पर स्वच्छता और सेनिटाइजेशन की कार्यवाही की जाए। इससे संक्रमण को नियंत्रित करने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि सभी प्रभारी मंत्रिगण अपने-अपने जनपदों में विशेष स्वच्छता अभियान की मॉनिटरिंग करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि नगर विकास विभाग, ग्राम्य विकास विभाग एवं पंचायती राज विभाग सहित अन्य सम्बन्धित संस्थाओं के पूर्ण समन्वय से विशेष स्वच्छता अभियान संचालित किया जाए। अभियान के दौरान एन्टीलार्वा रसायनों के छिड़काव एवं फॉगिंग की प्रभावी कार्यवाही की जाए। जल जमाव हटाया जाए। स्वच्छ पेयजल आपूर्ति के लिए प्राथमिकता पर सभी प्रबन्ध सुनिश्चित किए जाएं। टेस्टिंग क्षमता में वृद्धि के लिए लगातार प्रयास किए जाने पर बल देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि रैपिड एन्टीजन टेस्ट की संख्या में बढ़ोत्तरी की जाए। लैब टेक्निशियन की संख्या को बढ़ाया जाए। अभियान की अवधि में प्रतिदिन 15 हजार से अधिक रैपिड एन्टीजन टेस्ट के माध्यम से जांच के प्रभावी प्रयास किए जाएं। उन्होंने कहा कि सर्विलांस टीम तथा एम्बुलेंस सेवा के मध्य बेहतर तालमेल रहना चाहिए, ताकि आवश्यकता पड़ने पर मरीज को उपचार के लिए तत्काल अस्पताल भेजा जा सके। उन्होंने मेडिकल स्क्रीनिंग, सर्विलांस कार्य तथा रैपिड एन्टीजन टेस्ट की कार्यवाही को मिशन मोड पर संचालित करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने जनपद कानपुर नगर, झांसी एवं वाराणसी की चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिए चिकित्सा विशेषज्ञों को भेजने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इन जनपदों में भेजी जाने वाली विशेषज्ञ चिकित्सकों की मेडिकल टीम सम्बन्धित जिले में प्रवास कर स्वास्थ्य सेवाओं को और बेहतर बनाने का कार्य करेंगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि 10 जुलाई, 2020 की रात्रि 10 बजे 13 जुलाई, 2020 को प्रातः 05 बजे की अवधि में पुलिस द्वारा प्रभावी पेट्रोलिंग की जाए मजिस्ट्रेट तथा पुलिस अधिकारियों द्वारा संयुक्त भ्रमण किया जाए। पुलिस टीमों तथा पीआरवी 112 द्वारा गहन पेट्रोलिंग करते हुए व्यवस्था का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस दौरान शासन द्वारा निर्धारित किए गए प्राविधानों के अनुसार औद्योगिक गतिविधियां संचालित होती रहेंगी। मनरेगा सहित सभी वृहद निर्माण कार्य जैसे एक्सप्रेस-वे, बड़े पुल एवं सड़कों आदि की निर्माण कार्यवाही यथावत जारी रहेगी। रेलवे स्टेशन तथा हवाई अड्डों पर आवागमन बना रहेगा। यह सुनिश्चित किया जाए कि यात्रियों को कोई असुविधा न हो। उन्होंने रेलवे स्टेशन पर यात्रियों के लिए बस की व्यवस्था करने के निर्देश भी दिए। मुख्यमंत्री ने कोविड–19 तथा संचारी रोगों से बचाव के सम्बन्ध में बड़े पैमाने पर जागरूकता कार्यक्रम संचालित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्रमुख चौराहों सहित सार्वजनिक स्थलों पर पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से लोगों को जागरूक किया जाए। आमजन को मास्क का अनिवार्य रूप से उपयोग करने, सोशल डिस्टेंसिंग अपनाने तथा अनावश्यक घर से बाहर न निकलने के सम्बन्ध में व्यापक पैमाने पर जागरूक किया जाए। इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना, स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, मुख्य सचिव आर के तिवारी, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त आलोक टण्डन, कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह  अवनीश कुमार अवस्थी, अपर मुख्य सचिव वित्त संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव राजस्व रेणुका कुमार, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एस पी गोयल, पुलिस महानिदेशक हितेश सी अवस्थी, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा रजनीश दुबे, अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास तथा पंचायतीराज मनोज कुमार सिंह, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री संजय प्रसाद, सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।