मुख्यमंत्री ने नव सम्वत्सर व चैत्र नवरात्रि पर प्रदेशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं दीं
March 25, 2020 • Mr Arun Mishra

> कोरोना वायरस की रोकथाम हेतु लोग नवरात्रि के दौरान अपने घर में ही रहकर धार्मिक अनुष्ठान सम्पन्न करें।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चैत्र शुक्ल प्रतिपदा सम्वत् 2077 से प्रारम्भ भारतीय नव सम्वत्सर व चैत्र नवरात्रि पर प्रदेशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने सभी प्रदेशवासियों की सुख-समृद्धि एवं मंगलमय भविष्य की कामना भी की है। अपने बधाई सन्देश में मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि चैत्र नवरात्रि प्रकृति और शक्ति की उपासना का पर्व है। इस पर्व में उपवास, प्रार्थना एवं ध्यान का विशेष महत्व है। चैत्र नवरात्रि से ही नववर्ष के पंचांग की गणना शुरू होती है। इस समय मौसम में परिवर्तन भी होता है। इसलिए धर्म, अध्यात्म, ज्योतिष के साथ-साथ वैज्ञानिक दृष्टि से भी नवरात्रि का महत्व है। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि सृजनात्मक ऊर्जा की आराधना का पर्व नवरात्रि, समाज और राष्ट्र के प्रति रचनात्मक सोच पैदा करता है। शक्ति का अनुष्ठान रचनात्मक एवं सृजनात्मक कार्यों के प्रति हो, नवरात्रि के अवसर पर हम सभी को यही संकल्प लेना चाहिए। वर्तमान समय की विशेष परिस्थितियों को देखते हुए मुख्यमंत्री जी ने आमजन से अनुरोध किया है कि कोरोना वायरस की रोकथाम हेतु लोग नवरात्रि के दौरान अपने घर में ही रहकर धार्मिक अनुष्ठान सम्पन्न करें। इससे इस संक्रामक बीमारी के प्रसार को रोकने में मदद मिलेगी।