मुंबई इंडियंस ने सनराइजर्स हैदराबाद को 34 रनों से हराया
October 5, 2020 • Mr Arun Mishra

> मुंबई ने आईपीएल 13 में तीसरी जीत के साथ अंक तालिका में पहला स्थान हासिल कर लिया।

> मुंबई के ट्रेंट बोल्ट को 28 रन पर दो विकेट के लिए प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया।

> डी कॉक को 16 के स्कोर पर मनीष पांडेय ने जीवनदान दिया और अंत में यह जीवनदान हैदराबाद को काफी महंगा साबित हुआ।

> हैदराबाद ने इस मुकाबले में चोटिल भुवनेश्वर कुमार और खलील अहमद की जगह संदीप शर्मा और सिद्धार्थ कौल को टीम में शामिल किया था।

> हैदराबाद की तरफ से कप्तान डेविड वार्नर ने 44 गेंदों में पांच चौकों और दो छक्कों की मदद से सर्वाधिक 60 रन बनाये।

आईपीएल मैच 17 मुंबई इंडियंस और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच शारजाह क्रिकेट स्टेडियम के दौरान 4 अक्टूबर 2020 को मुंबई इंडियंस के ट्रेंट बोल्ट सनराइजर्स हैदराबाद के केन विलियमसन का विकेट लेकर जश्न मनाते हुए। ट्रेंट बोल्ट मैन ऑफ द मैच भी चुने गए।

शारजाह (वार्ता)। मुंबई इंडियंस के बल्लेबाजों ने शारजाह के छोटे मैदान और मनमाफिक पिच का पूरा फायदा उठाते हुए सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ रविवार को 20 ओवर में पांच विकेट पर 208 रन का बड़ा स्कोर बनाया और फिर हैदराबाद को 20 ओवर में सात विकेट पर 174 रन पर रोककर मुकाबला 34 रन से जीत लिया। मुंबई ने आईपीएल 13 में तीसरी जीत के साथ अंक तालिका में पहला स्थान हासिल कर लिया। मुंबई की पांच मैचों में यह तीसरी जीत है और उसके छह अंक हो गए हैं। हैदराबाद को पांच मैचों में तीसरी हार का सामना करना पड़ा और वह अब तालिका में छठे स्थान पर है। मुंबई का 208 का स्कोर शारजाह के इस मैदान पर आईपीएल में लगातार सातवां 200 से ऊपर का स्कोर रहा लेकिन हैदराबाद 200 का आंकड़ा पार करने में विफल रही और उसे हार का सामना करना पड़ा। मुंबई की पारी में 14 छक्के लगे जबकि हैदराबाद की पारी में मात्र सात छक्के लगे। दोनों टीमों के बीच जीत-हार का यही अंतर रहा। मुंबई के ट्रेंट बोल्ट को 28 रन पर दो विकेट के लिए प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया। मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। रोहित हालांकि छह रन बनाकर पहले ओवर में आउट हो गए लेकिन उसके बाद सभी बल्लेबाजों ने जमकर रन बटोरे। सलामी बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक ने 39 गेंदों पर चार चौकों और चार छक्कों की मदद से सर्वाधिक 67 रन बनाये। डी कॉक को 16 के स्कोर पर मनीष पांडेय ने जीवनदान दिया और अंत में यह जीवनदान हैदराबाद को काफी महंगा साबित हुआ।
सूर्यकुमार यादव ने 18 गेंदों में छह चौकों की मदद से 27 रन बनाये। ईशान किशन ने 23 गेंदों में एक चौके और दो छक्कों के सहारे 31 रन बनाये। हार्दिक पांड्या ने 19 गेंदों पर 28 रन में दो चौके और दो छक्के उड़ाए। कीरोन पोलार्ड ने 13 गेंदों पर नाबाद 25 रन में तीन छक्के उड़ाए। अंतिम ओवर में उतरे क्रुणाल पांड्या ने चार गेंदों में दो चौके और दो छक्के उड़ाते हुए नाबाद 20 रन ठोक डाले। पारी के आखिरी ओवर में 21 रन गए और मुंबई का स्कोर 208 रन पहुंच गया। शारजाह में लगातार सातवीं पारी में 200 से ऊपर का स्कोर बना। हैदराबाद की तरफ से संदीप शर्मा ने 41 रन पर दो विकेट, सिद्धार्थ कौल ने 64 रन लुटाकर दो विकेट और राशिद खान ने 22 रन पर एक विकेट लिया। हैदराबाद ने इस मुकाबले में चोटिल भुवनेश्वर कुमार और खलील अहमद की जगह संदीप शर्मा और सिद्धार्थ कौल को टीम में शामिल किया था लेकिन दोनों गेंदबाज दो-दो विकेट लेने के बावजूद महंगे साबित हुए। हैदराबाद की तरफ से कप्तान डेविड वार्नर ने 44 गेंदों में पांच चौकों और दो छक्कों की मदद से सर्वाधिक 60 रन बनाये। जानी बेयरस्टो ने 15 गेंदों में दो चौकों और दो छक्कों की मदद से 25 तथा मनीष पांडेय ने 19 गेंदों में चार चौकों और एक छक्के के सहारे 30 रन बनाये। केन विलियम्सन तीन और प्रियम गर्ग पांच रन बनाकर आउट हुए। अभिषेक शर्मा 10 और अब्दुल समद 20 रन बनाकर आउट हुए। समद ने नौ गेंदों में एक चौका और दो छक्के लगाए। समद ने अपने दोनों छक्के बुमराह की गेंदों पर मारे। हैदराबाद की टीम एक समय 10वें ओवर में एक विकेट पर 94 रन बनाकर अच्छी स्थिति में थी लेकिन इसके बाद उसकी पारी लड़खड़ा गयी। मनीष 94 के स्कोर पर, विलियम्सन 116 पर, प्रियम 130 पर और वार्नर 142 के स्कोर पर आउट हुए। वार्नर के आउट होते ही हैदराबाद की चुनौती भी समाप्त हो गयी। मुंबई की तरफ से जसप्रीत बुमराह ने 41 रन पर दो विकेट, जेम्स पेटिनसन ने 29 रन पर दो विकेट और ट्रेंट बोल्ट ने 28 रन पर दो विकेट लिए।