निर्माण कार्यों में आई रफ्तार, ज्यादा से ज्यादा श्रमिकों को दिया जाए काम : उप मुख्यमंत्री
May 14, 2020 • Mr Arun Mishra

> 20 अप्रैल के बाद से निर्माण कार्यों में बढ़े 15 हज़ार से अधिक श्रमिक : उप मुख्यमंत्री

> लोक निर्माण विभाग के 1013 कार्यों पर 12819 श्रमिक, सेतु निगम की 88 परियोजनाओं पर 1896 श्रमिक तथा राजकीय निर्माण निगम की 199 परियोजनाओं पर 5289 श्रमिक समेत प्रदेश में कुल 1300 परियोजनाओं में 20004 श्रमिक कार्यरत : केशव प्रसाद मौर्य

लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बताया कि लोक निर्माण विभाग, सेतु निगम व राजकीय निर्माण निगम सहित अन्य निर्माण कार्यों में तेजी आई है और ज्यादा से ज्यादा श्रमिकों को काम दिए जाने का हर संभव प्रयास जा रहा है। उन्होंने सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वह नियमानुसार अनुमति लेकर अधिक से अधिक कार्य शुरू करें तथा ज्यादा से ज्यादा मजदूरों को रोजगार उपलब्ध कराएं। उन्होंने यह भी निर्देश दिए हैं कि कोविड - 19 लॉकडाउन के दृष्टिगत निर्धारित मानकों व गाइडलाइन्स का अक्षरशः अनुपालन सुनिश्चित किया जाए। श्री मौर्य ने बताया कि लोक निर्माण विभाग, सेतु निगम व राजकीय निर्माण निगम द्वारा 1300 परियोजनाओं पर कार्य चल रहा है, जिसमें 20004 पंजीकृत श्रमिक कार्य कर रहे हैं। इन कार्यों की कुल लागत 25,48,301 लाख रुपये है। श्री मौर्य ने बताया कि इन कार्यों में लोक निर्माण विभाग के 1013 कार्य हैं, जिन पर 12819 श्रमिक लगे हुए हैं और इन कार्यों की कुल लागत 11,80,095.92 लाख रुपये है। सेतु निगम की 88 परियोजनाओं पर कार्य चल रहा है, जिनमें 1896 श्रमिक कार्य कर रहे हैं और इन परियोजनाओं की लागत 3,14,816.13 लाख रुपये है तथा राजकीय निर्माण निगम की 199 परियोजनाओं पर कार्य चल रहा है, इन परियोजनाओं की लागत 10,53,389 लाख है और इनमें 5289 श्रमिक कार्य कर रहे हैं। गौरतलब है कि 20 अप्रैल 2020 से शुरू हुए कार्यों में प्रथम सप्ताह में लगभग 200 परियोजनाओं पर कार्य प्रारंभ हुआ था और लगभग 4500 श्रमिक कार्य कर रहे थे।