न्यायालय में आज अवकाश
September 19, 2020 • Mr Arun Mishra

> आज लगे बहस और जमानत के प्रार्थना पत्रों की सुनवाई 21 को।

कानपुर। जिला जज अशोक कुमार सिंह द्वारा मुख्य चिकित्साधिकारी, कानपुर नगर को 04.09.2020 को पत्र लिखा गया था जिसमें उनसे अपेक्षा की गयी थी कि वे चरणबद्ध तरीके से जिला एवं सत्र न्यायलय कानपुर नगर में कार्यरत सभी अधिकारियों व कर्मचारियों का कोविड-19 टेस्ट करायें। उनके द्वारा लिखे गए पत्र के अनुक्रम में मुख्य चिकित्साधिकारी, कानपुर नगर द्वारा कर्मचारियों का कोविड-19 टेस्ट मेडिकल टीम भेजकर कराया जाना प्रारम्भ किया गया। टेस्ट के दौरान 18.09.2020 को राज बहादुर "दफ्तरी" पुत्र स्व० भोलानाथ, निवासी 655 रामनगर इटावा, हाल पता आजाद नगर, शुक्लागंज, उन्नाव मोबाइल नं0 8090851380 कोविड-19 से संकमित पाये गए हैं। मुख्य चिकित्साधिकारी, कानपुर नगर से टेलीफोनिक बातचीत से जिला जज महोदय को सुझाव प्राप्त हुआ कि 31.05.2020 के शासनादेश के प्रकाश में सिविल कोर्ट, कानपुर नगर को 24 घंटे के लिए बन्द किया जाएगा तथा इसे दो बार विसंक्रमित कराया जाएगा। इसके साथ ही साथ जो-जो व्यक्ति उपरोक्त कर्मचारीगण के निकट सम्पर्क 1 मीटर से कम दूरी या 15 मिनट से ज्यादा आये हों, उन्हें 14 दिन के लिए क्वारेन्टाइन कराया जाएगा। मुख्य चिकित्साधिकारी से मोबाइल पर हुयी बातचीत के उपरान्त इस तथ्य को दृष्टिगत रखते हुए कि उनकी लिखित रिपोर्ट आने में विलम्ब हो सकता है और इस न्यायिक संस्थान के एक कर्मचारी की कोविड-19 टेस्ट रिपोर्ट पाजिटिव आयी है, जिला जज ने उपरोक्त उल्लिखित शासनादेश एवं मा उच्च न्यायालय के 03 जून 2020 के पत्र के निर्देश सं0 15 के प्रकाश में सिविल कोर्ट को आज 19.09.2020 को 24 घंटे के लिए बन्द किया जाना उचित पाया जिससे पूरे सिविल कोर्ट कैम्पस को विसंक्रमित कराया जा सके। अतः जिला एवं सत्र न्यायालय, कानपुर नगर दिनांक 19.09.2020 को बन्द रहेगा। न्यायालय परिसर एवं न्यायालय भवनों को पूर्णतया दो बार सैनेटाइज कराया जाएगा जिसकी जिम्मेदारी जिला मजिस्ट्रेट व नगर आयुक्त  /नगर स्वास्थ्य अधिकारी की होगी। सिविल कोर्ट के दो बार विसंक्रमित कराए जाने के सम्बन्ध मे प्रभारी अधिकारी नजारत रिपोर्ट देंगे तथा वह सुनिश्चित करेंगे कि उनके व सीएमएम के निर्देशन में पूरे सिविल कोर्ट के विसंक्रमण की कार्यवाही अच्छी तरह से सम्पादित हो जाए। सिविल कोर्ट के विसंक्रमित हो जाने के पश्चात ही इसको खोला जाएगा। उन अधिकारियों व कर्मचारीगण जो संक्रमित कर्मचारियों के सम्पर्क में आये हों, से अपेक्षा की जाती है कि वे स्वयं को क्वारेन्टाइन करें। दिनांक 19.09.2020 को नियत जमानत प्रार्थना पत्रों की सुनवाई अगले कार्य दिवस 21.09.2020 को होगी। इसी प्रकार दिनांक 19.09.2020 को नियत बहस, धारा 313 द0प्र0सं0 की पत्रावलियां एवं मा उच्च न्यायालय के निर्देशों की पत्रावलियां दिनांक 21.09.2020 को पेश होंगी। शेष समस्त  दीवानी वादों में सामान्य तिथि 28.10.2020 तथा फौजदारी वादों में सामान्य तिथि 31.10.2020 नियत की गई है।