पंजाब की तीसरी हार, मुंबई इंडियंस ने 48 रनों से हराया 
October 2, 2020 • Mr Arun Mishra

> मुंबई ने आखिरी पांच ओवरों में 89 रन बनाए।

> रोहित ने आईपीएल में अपना 38वां अर्धशतक पूरा किया, 45 गेंदों पर 70 रन में आठ चौके और तीन छक्के लगाए।

> कृष्णप्पा गौतम के पारी के आखिरी ओवर में पांड्या ने छक्का मारा जबकि पोलार्ड ने आखिरी तीन गेंदों पर छक्के उड़ाकर स्कोर 191 पहुंचा दिया।

> पोलार्ड और पांड्या ने पांचवें विकेट के लिए मात्र 23 गेंदों पर 67 रन ठोके।

> पंजाब ने इस मुकाबले के लिए मुरुगन अश्विन की जगह कृष्णप्पा गौतम को टीम में शामिल किया था लेकिन वह महंगे साबित हुए और चार ओवर में 45 रन लुटा बैठे।

कीरोन पोलार्ड 20 गेंदों में 47 * रन की तूफानी पारी के लिए मैन ऑफ द मैच रहे।

अबु धाबी (वार्ता)। कप्तान रोहित शर्मा (70), कीरोन पोलार्ड (नाबाद 47) और हार्दिक पांड्या (नाबाद 30) की विस्फोटक पारियों के दम पर गत चैंपियन मुंबई इंडियंस ने किंग्स इलेवन पंजाब को गुरुवार को 48 रन से हराकर आईपीएल-13 में चार मैचों में अपनी दूसरी जीत दर्ज कर ली जबकि पंजाब को चार मैचों में तीसरी हार का सामना करना पड़ा। मुंबई ने आखिरी पांच ओवरों में 89 रन ठोकते हुए 20 ओवर में चार विकेट पर 191 रन का विशाल स्कोर बनाया जिसके दबाव में पंजाब की टीम एक बार भी मुकाबले में नजर नहीं आयी और 20 ओवर में आठ विकेट पर 143 रन ही बना सकी। रोहित ने 45 गेंदों पर 70 रन में आठ चौके और तीन छक्के लगाए जबकि पोलार्ड ने 20 गेंदों पर नाबाद 47 रन में तीन चौके और चार छक्के तथा पांड्या ने 11 गेंदों पर नाबाद 30 रन में तीन चौके और दो छक्के लगाए। पंजाब ने इस मुकाबले में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। मुंबई की टीम छह ओवर के पॉवरप्ले में दबाव में रही और इस दौरान उसने दो विकेट खोकर 41 रन बनाये लेकिन इसके बाद रोहित ने हाथ खोले और आईपीएल में अपना 38वां अर्धशतक पूरा किया। अंतिम ओवरों में पोलार्ड और पांड्या ने गेंदबाजों की तबियत से धुनाई करते हुए चौके - छक्के उड़ाए। रोहित ने पारी के 16वें ओवर में जेम्स नीशम की गेंदों पर 4,4,6,6 उड़ाते हुए 22 रन जोड़े लेकिन अगले ओवर मोहम्मद शमी की गेंद पर वह बॉउंड्री पर ग्लेन मैक्सवेल के शानदार प्रयास से कैच आउट हो गए। रोहित का शॉट बॉउंड्री के पार जा रहा था लेकिन मैक्सवेल ने गेंद को लपक लिया। मैक्सवेल का संतुलन डगमगा चुका था लेकिन बॉउंड्री से बाहर जाने से पहले उन्होंने गेंद को अंदर उछाल दिया और नीशम ने आसान कैच लपक लिया। नए बल्लेबाज हार्दिक पांड्या ने नीशम के अगले ओवर में एक छक्का और दो चौके उड़ाकर 18 रन बटोरे। मुंबई का स्कोर 147 रन पहुंच गया। पांड्या ने 19वें ओवर में शमी पर दूसरी गेंद पर चौका लगाकर टीम के 150 रन पूरे कर दिए। पोलार्ड ने इस ओवर की आखिरी तीन गेंदों पर तीन चौके जड़े और इस ओवर में 19 रन गए।
कृष्णप्पा गौतम के पारी के आखिरी ओवर में पांड्या ने छक्का मारा जबकि पोलार्ड ने आखिरी तीन गेंदों पर छक्के उड़ाकर स्कोर 191 पहुंचा दिया। पोलार्ड ने 20 गेंदों पर नाबाद 47 रन में तीन चौके और चार छक्के लगाए जबकि पांड्या ने 11 गेंदों पर नाबाद 30 रन में तीन चौके और दो छक्के लगाए। इस ओवर में 25 रन पड़े। मुंबई ने अंतिम पांच ओवर में चौकों-छक्कों की बरसात करते हुए 89 रन बटोरे।
पारी की शुरूआत में क्विंटन डी कॉक खाता खोले बिना पहली ही ओवर में शेल्डन कॉट्रेल का शिकार बने। सूर्य कुमार यादव 10 रन बनाकर शमी के सीधे थ्रो पर रन आउट हो गए। मुंबई का दूसरा विकेट 21 के स्कोर पर गिरा। रोहित ने ईशान किशन के साथ तीसरे विकेट के लिए 62 रन की साझेदारी की। किशन ने 32 गेंदों पर 28 रन में एक चौका और एक छक्का लगाया। रोहित ने पोलार्ड के साथ चौथे विकेट के लिए 41 रन जोड़े। रोहित के आउट होने के बाद पोलार्ड और पांड्या ने रन गति तेज की। दोनों ने पांचवें विकेट के लिए मात्र 23 गेंदों पर 67 रन ठोके। पंजाब की तरफ से कॉट्रेल ने 20 रन पर एक विकेट, शमी ने 36 रन पर एक विकेट और गौतम ने 45 रन पर एक विकेट लिया। पंजाब ने इस मुकाबले के लिए मुरुगन अश्विन की जगह कृष्णप्पा गौतम को टीम में शामिल किया था लेकिन वह महंगे साबित हुए और चार ओवर में 45 रन लुटा बैठे। बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए पंजाब की टीम 38 रन की ठोस शुरुआत के बाद दबाव में आ गयी और उसने नियमित अंतराल में विकेट गंवाए। शानदार फॉर्म में खेल रहे सलामी मयंक अग्रवाल 18 गेंदों में तीन चौकों की मदद से 25 रन बनाने के बाद जसप्रीत बुमराह की गेंद पर बोल्ड हो गए। करुण नायर का खाता नहीं खुला और उन्हें लेफ्ट आर्म स्पिनर क्रुणाल पांड्या ने बोल्ड कर दिया। कप्तान लोकेश राहुल को लेग स्पिनर राहुल चाहर ने बोल्ड कर दिया। राहुल ने 19 गेंदों में एक चौके के सहारे 17 रन बनाये। निकोलस पूरन ने 27 गेंदों में दो चौकों और तीन छक्कों के सहारे सर्वाधिक 44 रन बनाये लेकिन जेम्स पेटिनसन ने उन्हें आउट कर मुंबई की जीत का मार्ग प्रशस्त कर दिया। रही सही कसर राहुल चाहर ने खतरनाक बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल को आउट कर पूरी कर दी। मैक्सवेल 18 गेंदों पर 11 रन ही बना सके। बुमराह ने जेम्स नीशम को पवेलियन की राह दिखा दी। नीशम सात रन ही बना सके। छह विकेट 112 रन पर गिर जाने के बाद पंजाब के लिए कोई उम्मीद नहीं बची थी और उसके बचे बल्लेबाज सिर्फ हार का अंतर कम कर सकते थे। सरफराज खान को पेटिनसन ने पगबाधा किया। सरफराज ने सात रन बनाये। रवि बिश्नोई को ट्रेंट बोल्ट ने आउट किया। बिश्नोई ने एक रन बनाया। कृष्णप्पा गौतम 13 गेंदों में 22 रन बनाकर नाबाद रहे। मुंबई की तरफ से पेटिनसन, बुमराह और चाहर ने दो-दो विकेट लिए जबकि बोल्ट और क्रुणाल को एक-एक विकेट मिला।