पिछले तीन वर्षों में विकास कार्यों को प्राथमिकता देते हुये, रिकार्ड संख्या में सड़कें व पुल बनाए गए : केशव प्रसाद मौर्य
July 1, 2020 • Mr Arun Mishra

> आयोजित कार्यक्रम में 2068 करोड़ 25 लाख रुपए की लागत से उत्तर प्रदेश की 96 परियोजनाओं का हुआ लोकार्पण / शिलान्यास।

> 1668 करोड़ 4 लाख 77 हजार रुपए की 79 परियोजनाओं जिसमें 60 नदी सेतु व 19 रेल उपरिगामी सेतुओं का निर्माण शामिल है का शिलान्यास किया गया।

> 400 करोड़ 20 लाख 43 हजार रुपए की 17 परियोजनाओं जिसमें 12 नदी सेतु व 5 रेल उपरिगामी सेतु हैं का लोकार्पण किया गया।

> लोकार्पित / शिलान्यास की गयी परियोजनाओं में 16 मण्डलों की परियोजनाएं शामिल हैं।

> सड़कों, पुलों, फ्लाईओवर एवं आरओबी के निर्माण के साथ ही साथ मरम्मत के कार्य भी युद्धस्तर पर कराये जा रहे हैं : उप मुख्यमंत्री

लखनऊ के तथागत सभागार में मंत्री गणों की गरिमामई उपस्थिति में 1668 करोड़ रु की 79 परियोजनाओं का डिजिटल शिलान्यास तथा 400 करोड़ रु की लागत की 17 परियोजनाओं का डिजिटल लोकार्पण करते उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्यl  (फोटो : बी एल यादव)

लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उ प्र के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने मंगलवार 30 जून 2020 को लोक निर्माण विभाग के तथागत सभागार में आयोजित कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश की 96 परियोजनाओं का लोकार्पण / शिलान्यास किया, जिनकी लागत 2068 करोड़ 25 लाख रुपए है। उन्होंने 1668 करोड़ 4 लाख 77 हजार रुपए की 79 परियोजनाओं का शिलान्यास किया, जिसमें 60 नदी सेतु व 19 रेल उपरिगामी सेतु हैं। उप मुख्यमंत्री जी ने 400 करोड़ 20 लाख 43 हजार रुपए की 17 परियोजनाओं का लोकार्पण किया, जिसमें 12 नदी सेतु व 5 रेल उपरिगामी सेतु हैं। इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री जी ने सेतु निगम की एक पुस्तिका का विमोचन भी किया। लोकार्पित / शिलान्यास की गयी परियोजनाओं में 16 मण्डलों - आगरा, अयोध्या, बस्ती, बरेली, चित्रकूट, देवीपाटन, गोरखपुर, झांसी, कानपुर, लखनऊ, मुरादाबाद, मेरठ, मिर्जापुर, सहारनपुर, प्रयागराज व वाराणसी की परियोजनाएं हैं। इनमें कुछ परियोजनाएं ऐसी हैं जो अधूरी पड़ी थीं और वर्तमान सरकार द्वारा तेजी के साथ उन्हें पूर्ण किया गया है। इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री जी ने कहा कि पिछले तीन वर्षों में विकास कार्यों को प्राथमिकता देते हुये, रिकार्ड संख्या में सड़कें व पुल बनाए गये हैं और अधूरे कार्यों को भी पूरा किया गया है तथा तमाम नये कार्य स्वीकृत किये गये हैं। उप मुख्यमंत्री जी ने कहा कि यह तो सेतु निगम की परियोजनाएं हैं, जिनका स्पैन 60 मी से ज्यादा होता है, इससे कम स्पैन के लघु सेतु लोक निर्माण विभाग द्वारा बहुत बड़ी संख्या में प्रदेश के सभी क्षेत्रों में बनाये गये हैं। उन्होंने शिलान्यास की गयी योजनाओं के बारे में अधिकारियों को दिशा निर्देश देते हुये कहा कि इन परियोजनाओं को शीघ्रातिशीघ्र पूर्ण कराया जाए। उप मुख्यमंत्री जी ने कहा कि विकास कार्यों में कहीं कोई भेदभाव नहीं किया जा रहा है। प्रदेश की 23 करोड़ जनता के हितों को सर्वोपरि रखते हुये विकास कार्य कराये जा रहे हैं और उसी कड़ी में सड़कों, पुलों, फ्लाईओवर एवं आरओबी आदि का निर्माण कराया जा रहा है। साथ ही साथ मरम्मत के कार्य भी युद्धस्तर पर कराये जा रहे हैं। श्री मौर्य ने कहा कि सबका साथ - सबका विकास - सबका विश्वास की भावना के साथ सभी क्षेत्रों में विकास व निर्माण कार्यों को मुकम्मल अंजाम दिया जा रहा है। जिन परियोजनाओं का लोकार्पण / शिलान्यास किया गया है, उसमें आगरा मण्डल की 5, अयोध्या, बस्ती व प्रयागराज की 6 - 6, बरेली की 11, चित्रकुट, देवीपाटन व लखनऊ मण्डल की 5 - 5, गोरखपुर मण्डल की 11 परियोजनाएं, झांसी की 3, कानपुर की 4, मुरादाबाद की 3, मेरठ की 10, सहारनपुर की 12, वाराणसी की 3 व मिर्जापुर की 1 परियोजना सम्मिलित है। लोकार्पण / शिलान्यास कार्यक्रम के दौरान कैबिनेट मंत्री सूर्य प्रताप शाही, कैबिनेट मंत्री रमापति शास्त्री, कैबिनेट मंत्री भूपेंद्र चैधरी, राज्यमंत्री सर्वश्री सतीश द्विवेदी, राज्यमंत्री चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय, राज्यमंत्री श्रीराम चैहान, महेश गुप्ता, रामशंकर पटेल, बलदेव सिंह ओलख, सांसद संघमित्रा मौर्य, विधायक सर्वश्री आर के वर्मा, धीरज वर्मा, केसर सिंह, विधायक सतीश शर्मा, विधायक रोशन लाल वर्मा व अन्य जनप्रतिनिधि, प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग नितिन रमेश गोकर्ण, विभागाध्यक्ष लोक निर्माण विभाग आर आर सिंह, प्रबंध निदेशक सेतु निगम अरविंद श्रीवास्तव व अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।