प्रदेश में बल्क ड्रग पार्क व मेडिकल डिवाइस पार्क की स्थापना आज की बड़ी आवश्यकता : मुख्यमंत्री
September 19, 2020 • Mr Arun Mishra

> मुख्यमंत्री ने बल्क ड्रग पार्क और मेडिकल डिवाइस पार्क के सम्बन्ध में प्रस्तुतीकरण का अवलोकन किया।

मा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 18 सितम्बर 2020 को लोकभवन, लखनऊ में फार्मा / बल्क ड्रग पार्क पाॅलिसी का प्रस्तुतीकरण के अवसर पर बैठक करते हुए। (फोटो : मुख्यमंत्री सूचना परिसर)

लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि प्रदेश में मेडिकल डिवाइस और फार्मा के क्षेत्र में असीम सम्भावनाएं हैं। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोविड-19 तथा अन्य रोगों के दृष्टिगत दवाइयों एवं मेडिकल उपकरणों की मांग काफी बढ़ी है। ऐसे में राज्य को बल्क ड्रग एवं मेडिकल डिवाइस पार्कों की स्थापना के लिए तेजी से तैयारी करनी होगी। उन्होंने कहा कि इनकी स्थापना से दवाइयों और चिकित्सकीय उपकरणों के उत्पादन को बढ़ावा मिलेगा। मुख्यमंत्री योगी शुक्रवार 18 सितम्बर 2020 को लोक भवन में बल्क ड्रग पार्क और मेडिकल डिवाइस पार्क के सम्बन्ध में प्रस्तुतीकरण के अवसर पर अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य में पर्याप्त मानव संसाधन व अवस्थापना सुविधाएं उपलब्ध हैं। बल्क ड्रग पार्क व मेडिकल डिवाइस पार्क की स्थापना आज की बड़ी आवश्यकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों की इकाइयां बड़ी संख्या में स्थापित हैं। इनके अलावा, सीडीआरआई, एनबीआरआई, सीमैप, आईटीआरसी, आईआईटी कानपुर एवं वाराणसी, एम्स, केजीएमयू, आईएमएस-बीएचयू जैसे उत्कृष्ट संस्थान हैं। उन्होंने कहा कि दवाओं तथा चिकित्सा उपकरणों के उत्पादन के लिए पार्कों की स्थापना से रोजगार उपलब्ध होगा। साथ ही, प्रदेश व देश की अर्थव्यवस्था को भी मजबूती मिलेगी। इस अवसर पर अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त आलोक टण्डन, अपर मुख्य सचिव वित्त श्संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव औद्योगिक विकास आलोक कुमार, अपर मुख्य सचिव सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एस पी गोयल एवं सचिव मुख्यमंत्री  आलोक कुमार सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।