प्राइवेट रूप से कोरोना जाँच कराने वाले लोग घरों के बाहर सूचना बोर्ड लगाएं : मण्डलायुक्त
May 9, 2020 • Mr Arun Mishra
卐 हॉटस्पॉट क्षेत्रों के लोगों की अधिक से अधिक सैंपलिंग कराई जाए : मण्डलायुक्त
卐  बैठक में सभी अस्पतालों व क्वारेन्टाइन केंद्रों में रखे गए लोगों की समीक्षा की गई।
 
 
कानपुर। मण्डलायुक्त डॉ सुधीर बोबडे की अध्यक्षता में व नोडल अधिकारी अनिल गर्ग और पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल की उपस्थित में कोविड 19 संक्रमण रोकथाम समीक्षा बैठक मण्डलायुक्त के शिविर कार्यालय में हुई। चुन्नीगंज में जिस महिला (इंजू) की कोरोना वायरस संक्रमण से मौत हो गई थी उसकी बेटी शालिनी के द्वारा मुख्य चिकित्सा अधिकारी के कंट्रोल रूम में अनुरोध करने के वावजूद उनका सैंपल नहीं लिया गया इस पर मण्डलायुक्त एवं नोडल अधिकारी ने नाराजगी जताई। मण्डलायुक्त और नोडल अधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया कि प्राइवेट पैथ लैब व पालीवाल डायग्नोस्टिक्स को लिखित रूप से निर्देशित करें कि प्राइवेट रूप से जाँच कराने वाले लोग  जाँच रिपोर्ट आने तक घरों के बाहर सूचना के लिए बोर्ड लगाएं तथा स्थानीय थाने को भी इसकी सूचना दी जाय। मण्डलायुक्त ने निर्देशित किया कि हॉटस्पॉट क्षेत्रों के लोगों की अधिक से अधिक सैंपलिंग कराई जाए तथा लॉकडाउन का कड़ाई से पालन कराया जाए। समीक्षा में पाया गया कि सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सरसौल, लाला लाजपत राय कोविड हास्पिटल व कांसीराम राम हास्पिटल में एडमिट मरीजों की दूसरी  रिपोर्ट नेगेटिव आने पर 44 लोगों को डिस्चार्ज किया जा सकता है। बैठक में सभी अस्पतालों व क्वारेन्टाइन केंद्रों में रखे गए लोगों की समीक्षा की गई। बैठक में पुलिस उप महानिरीक्षक अनंत देव, नोडल अधिकारी गोविंद राजू, एनएस नगर आयुक्त अक्षय त्रिपाठी सभी पुलिस अधीक्षक, विश्व स्वास्थ्य संगठन व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।