प्रत्येक राशन की दुकान पर सेनेटाइजर / साबुन से हाथ धोने की समुचित व्यवस्था हो: मुख्य सचिव
March 23, 2020 • Mr Arun Mishra

> मोहल्लों में ठेला विक्रेताओं से विक्रय की व्यवस्था की जाय, ताकि लोगों को इन वस्तुओं को लेने हेतु घर से दूर न जाना पड़े: मुख्य सचिव

> आवश्यक वस्तुओं के मल्यों पर निरन्तर दृष्टि रखी जाय: मुख्य सचिव

> सार्वजनिक पार्कों में भी लोगों को टहलने एवं एकत्रित होने से रोका जाय: मुख्य सचिव

लखनऊ (का ० उ ० सम्पादन)। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने लॉकडाउन जनपदों के समस्त जिलाधिकारी / पुलिस कमिश्नर / वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक / पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिए हैं जिनका कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित होगा। कोविड-19 से प्रभावी बचाव करने के उद्देश्य से चिकित्सा विभाग द्वारा दिनांक 22 मार्च, 2020 को विस्तृत आदेश निर्गत किये गये हैं। इन आदेशों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाय। इसके अतिरिक्त किसी भी स्थान पर 05 से अधिक व्यक्तियों की भीड़ एकत्रित न हो। विगत 02 सप्ताह से जो भी व्यक्ति प्रदेश के बाहर से आये हैं उन पर निगरानी रखी जाए एवं आवश्यकता होने पर उन्हें कोरेनटाइन करने के साथ ही उनकी जांच आदि की कार्यवाही की जाय। इस सम्बन्ध में ग्राम प्रधान, आंगनबाड़ी, आशा कर्मियों का भी सहयोग लिया जाय। मुख्य सचिव ने निर्देश दिए है कि समस्त जनपदों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में सफाई का व्यापक एवं निरन्तर अभियान चलाया जाय, ताकि कहीं कोई कूड़ा या गन्दगी दिखाई न दें। जिन आवश्यक सेवाओं को लॉकडाउन से मुक्त रखा गया है उनके कर्मियों को अपने कार्यालय पर जाने से न रोका जाय। जन-सामान्य को दैनिक उपयोग में आने वाली वस्तुओं को प्राप्त करने में कोई कठिनाई न हो। इस हेतु दूध, सब्जियों आदि की आपूर्ति हेतु मोहल्लों में ठेला विक्रेताओं एवं छोटे वाहनों से विक्रय की व्यवस्था की जाय, ताकि लोगों को इन वस्तुओं को लेने हेतु घर से दूर न जाना पड़े। लाउडस्पीकर से जन सामान्य को लॉकडाउन अवधि में यथा-सम्भव घर के अन्दर रहने, भीड़ एकत्रित न करने व अन्य सावधानियां बरतने के सम्बन्ध में जानकारी दी जाय। दवाओं सहित आवश्यक वस्तुओं के मल्यों पर निरन्तर दृष्टि रखी जाय। जमाखोरी, कालाबाजारी एवं मनाफाखोरी में लिप्त व्यक्तियों के विरूद्ध गम्भीर त्वरित कार्यवाही सुनिश्चित की जाय तथा इसकी सूचना खाद्य आयुक्त / प्रमुख सचिव, खाद्य एवं रसद को दी जाय। राशन की दुकानों के माध्यम से वितरण की सुदृढ़ व्यवस्था सुनिश्चित की जाय । इस हेतु नोडल अधिकारियों की तैनाती की जाय। यह भी सुनिश्चित किया जाय कि प्रत्येक राशन की दुकान पर सेनेटाइजर / साबुन से हाथ धोने की समुचित व्यवस्था हो। अस्वस्थ एवं वरिष्ठ नागरिकों की सविधा के लिए उन्हें घर में ही सेवा प्रदान करने वाली नर्सेज / पैरा मेडिकल स्टाफ एवं अन्य व्यक्तियों को भी जाने से न रोका जाय। सार्वजनिक पार्कों में भी लोगों को टहलने एवं एकत्रित होने से रोका जाय। अपने-अपने जिले में 24x7 एक कन्ट्रोल रूम की स्थापना करते हुए इसकी निरन्तर समीक्षा की जाय तथा इस सम्बन्ध में सूचनाएं संकलित कर शासन के भी सम्बन्धित विभाग के अपर मुख्य सचिव / प्रमुख सचिव को सूचनार्थ प्रेषित की जाय। इन बिन्दुओं पर भी कार्यवाही अपेक्षित है।