प्रयागराज एक्सप्रेस ने देश की सेवा में उत्कृष्ट 36 वर्ष पूर्ण किए
July 17, 2020 • Mr Arun Mishra

24 एलएचबी कोचों की अधिकतम संभव क्षमता के साथ चलती है प्रयागराज एक्सप्रेस

प्रयागराज (मुख्य संवाददाता, उ म रे)। 16 जुलाई 2020 को उत्तर मध्य रेलवे की प्रमुख यात्री गाड़ी प्रयागराज एक्सप्रेस ने  देश की सेवा में उत्कृष्ट 36 वर्ष पूर्ण किए। पिछले वर्ष इस दिन प्रयागराज और नई दिल्ली के बीच सेवा प्रदान करने वाली इस गाड़ी की कोरल वर्षगांठ के अवसर प्रयागराज जंक्शन स्टेशन पर भव्य समारोह का आयोजन किया गया था। 16 जुलाई, 1984 से, प्रयागराज एक्सप्रेस अपने यात्रियों को गुणवत्ता पूर्ण यात्रा का अनुभव प्रदान कर रही है और पिछले 04 दशकों में कई मील के पत्थर हासिल किए हैं। प्रारम्भ में 17 वैक्यूम ब्रेक वाले लाल रंग के डिब्बों के साथ इसका संचालन किया गया था, जिसको  2003 में 24 कोच वाले नीले रंग के एयर ब्रेक वाले स्टॉक में परिवर्तित कर दिया गया था और दिनांक 16 दिसंबर 2016 को इसके डिब्बों को नवीनतम एलएचबी रेक में परिवर्तित कर दिया गया। इस ट्रेन की लोकप्रियता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि यह ट्रेन किसी भी पैसेंजर ट्रेन की अधिकतम संभव क्षमता अर्थात 24 एलएचबी कोचों के साथ चलती है। कोविड-19 की स्थिति के कारण नियमित यात्री सेवाओं को 50 दिनों के लिए निलंबित कर दिया गया था जिसके उपरांत  दिनांक 12.05.20 एवं 01.06.20 से क्रमशः वातानुकूलित विशेष गाड़ियों व अन्य विशेष गाड़ियों का संचालन शुरू हुआ जिसमें प्रयागराज - नई दिल्ली और कानपुर - नई दिल्ली के मध्य उत्तर मध्य रेलवे की दो प्रारम्भिक विशेष गाड़िया सम्मिलित हैं। अब तक 126 विशेष ट्रेनें जिनमें उत्तर मध्य रेलवे परिक्षेत्र से प्रारम्भ होने वाली 02 मूल ट्रेनें शामिल हैं, उत्तर मध्य रेलवे के विभिन्न स्टेशनों से यात्रियों के लिए आवश्यक यात्रा आवश्यकताओं की पूर्ति कर रही हैं।  कोविड -19 महामारी को देखते हुए, उत्तर मध्य रेलवे ने ट्रेनों के ओरिजिनेटिंग / टर्मिनेटिंग एवं ठहराव वाले स्टेशनों पर सोशल डिस्टैंसिंग, स्वच्छता और सैनिटाइजेशन् आदि की वृहद व्यवस्था की है।