राजस्थान रॉयल्स की विजयी शुरुआत, चेन्नई सुपर किंग्स को 16 रन से हराया
September 23, 2020 • Mr Arun Mishra

मैच में लगे कुल 33 छक्के

> सैमसन को उनकी शानदार पारी के लिए मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया।

> राजस्थान रॉयल्स से स्मिथ और सैमसन ने दूसरे विकेट के लिए 121 रन की जबरदस्त साझेदारी की।

> चेन्नई की तरफ से सैम करेन ने 33 रन पर तीन विकेट लिए

> अपना पदार्पण मैच खेलने उतरे गायकवाड का खाता नहीं खुला।

> डू प्लेसिस ने 37 गेंदों पर 72 रन में एक चौका और 7 छक्के लगाए।

> कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने आखिरी ओवर में लगातार तीन छक्के मारे।

दूसरी पारी के 13 . 4 ओवर में टॉम कुरन की गेंद पर केदार जाधव की आउटसाइड एज का कैच लपकते संजू सैमसन।

अनअकादेमी लेट्स क्रैक इट सिक्सेस अवार्ड, ड्रीम 11 गेम चेंजर ऑफ़ मैच अवार्ड, एलट्रोज़ सुपर स्ट्राइकर ऑफ़ द मैच अवार्ड और मैन ऑफ़ द मैच अवार्ड से संजू सैमसन को मिले।

शारजाह (वार्ता)। विकेटकीपर संजू सैमसन की 9 छक्कों से सजी 74 रन की तूफानी पारी और कप्तान स्टीवन स्मिथ की 69 रन की सधी हुई पारी की बदौलत राजस्थान रॉयल्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को मंगलवार को आईपीएल के एकतरफा मुकाबले में 16 रन से मात देकर टूर्नामेंट में विजयी शुरुआत कर ली। राजस्थान ने 20 ओवर में 7 विकेट पर 216 रन का विशाल स्कोर बनाया और चेन्नई को फाफ डू प्लेसिस की 7 छक्कों से सजी 72 रन की पारी के बावजूद 20 ओवर में 6 विकेट पर 200 रन पर रोक दिया। चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने आखिरी ओवर में जरूर लगातार तीन छक्के मारे लेकिन तब तक बाजी हाथ से निकल चुकी थी क्योंकि चेन्नई को अंतिम ओवर में जीत के लिए 38 रन बनाने थे। राजस्थान के जोफ्रा आर्चर के अपनी पारी के आखिरी ओवर में 4 छक्कों सहित मारे गए 30 रन निर्णायक साबित हो गए। सैमसन को उनकी शानदार पारी के लिए मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया। चेन्नई को दो मैचों में पहली हार का सामना करना पड़ा। चेन्नई ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। राजस्थान ने आईपीएल में पदार्पण कर रहे युवा बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल (6) को हालांकि 11 रन के स्कोर पर गंवाया लेकिन इसके बाद स्मिथ और सैमसन ने दूसरे विकेट के लिए 121 रन की जबरदस्त साझेदारी की। सैमसन ने तूफानी अंदाज में खेलते हुए छक्कों की झड़ी लगा दी। सैमसन ने मात्र 32 गेंदों पर 74 रन की पारी में 1 चौका और 9 छक्के उड़ाए। सैमसन ने मात्र 19 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया जिसमें 6 छक्के शामिल थे। स्मिथ ने 47 गेंदों पर 69 रन में 4 चौके और 4 छक्के लगाए। सैमसन ने चेन्नई के किसी भी गेंदबाज को नहीं बक्शा और क्लीन हिट लगाते हुए छक्के उड़ाए। सैमसन ने पांचवें ओवर में तेज गेंदबाज सैम करेन पर छक्का, छठे ओवर में तेज गेंदबाज दीपक चाहर पर छक्का, सातवें ओवर में लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा पर लगातार दो छक्के ,आठवें ओवर में लेग स्पिनर पीयूष चावला पर तीन छक्के, 10वें ओवर में चावला पर छक्का और 11वें ओवर में जडेजा पर छक्का उड़ाया। चावला के पारी के आठवें ओवर में स्मिथ ने भी छक्का मारा और इस ओवर में 28 रन पड़े। सैमसन 12वें ओवर में लुंगी एनगिदी की गेंद पर आउट हुए। उस समय टीम का स्कोर 132 रन पहुंच चुका था। डेविड मिलर खाता खोले बिना रन आउट हुए। रोबिन उथप्पा (5) को चावला ने आउट किया। राहुल तेवतिया 10 रन बनाकर करेन की गेंद पर पगबाधा हो गए। करेन ने रियान पराग को आउट किया। पराग ने छह रन बनाये। स्मिथ 19वें ओवर में करेन की गेंद पर आउट हुए। इस समय लग रहा था कि चेन्नई ने कुछ हद तक वापसी कर ली है लेकिन आखिरी ओवर में जोफ्रा आर्चर ने खलबली मचा दी। आर्चर ने एनगिदी के इस ओवर में 4  छक्के उड़ाए। इस ओवर में कुल 30 रन पड़े और राजस्थान का स्कोर 216 रन पहुंच गया। आर्चर आठ गेंदों में 27 रन बनाकर नाबाद रहे। टॉम करेन ने नाबाद 10 रन बनाये। चेन्नई की तरफ से सैम करेन ने 33 रन पर तीन विकेट लिए। एनगिदी ने 56, चावला ने 55 और जडेजा ने 40 रन लुटाये। लक्ष्य का पीछा करते हुए चेन्नई ने ठोस शुरुआत की और शेन वाटसन ने कुछ कमाल के शॉट खेले। वाटसन ने मुरली विजय के साथ पहले विकेट के 56 रन जोड़े। वाटसन 1 चौका और 4 छक्के उड़ा चुके थे लेकिन लेग स्पिनर राहुल तेवतिया ने उन्हें छकाते हुए बोल्ड कर दिया। वाटसन ने 21 गेंदों पर 33 रन बनाये। रन बनाने के लिए संघर्ष कर रहे विजय को श्रेयस गोपाल ने अगले ओवर में अपना शिकार बना लिया। विजय ने 21 गेंदों में तीन चौकों की मदद से 21 रन बनाये। कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने सैम करेन को बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजा। करेन ने तेवतिया की गेंदों पर 2 छक्के उड़ाए लेकिन तेवतिया ने उन्हें विकेटकीपर संजू सैमसन के हाथों स्टंप कर दिया। करेन ने 6 गेंदों में 17 रन की पारी खेली। इस मुकाबले में अनफिट अंबाटी रायडू की जगह एकादश में शामिल किये रुतुराज गायकवाड ने आने के साथ ही तेवतिया को बाहर निकलकर मारने की कोशिश की और स्टंप हो गए। अपना पदार्पण मैच खेलने उतरे गायकवाड का खाता नहीं खुला। नए बल्लेबाज केदार जाधव ने 16 गेंदों पर तीन चौकों की मदद से 22 रन बनाये और उन्हें टॉम कुरन ने सैमसन के हाथों कैच कराया। मैदान पर फाफ डू प्लेसिस का साथ देने उतरे धोनी। डू प्लेसिस ने 17वें ओवर में जयदेव उनादकट पर तीन छक्के उड़ाकर आईपीएल में अपना 14वां अर्धशतक पूरा कर लिया। इस ओवर में 21 रन गए। डू प्लेसिस ने अगले ओवर में टॉम करेन पर भी छक्का मारा। इस ओवर में 10 रन गए। अब चेन्नई को आखिरी 12 गेंदों में 48 रन चाहिए थे। लेकिन धोनी के बल्ले कोई बॉउंड्री नहीं निकल रही थी। सारी जिम्मेदारी डू प्लेसिस पर थी। डू प्लेसिस ने 19वें ओवर में जोफ्रा आर्चर की चौथी गेंद पर छक्का मारा लेकिन अगली गेंद पर सैमसन के हाथों कैच हो गए। डू प्लेसिस ने 37 गेंदों पर 72 रन में एक चौका और 7 छक्के लगाए। आखिरी ओवर में चेन्नई को 38 रन चाहिए थे और राजस्थान की जीत सुनिश्चित हो चुकी थी। धोनी ने अंतिम ओवर में हाथ खोलते हुए टॉम करेन पर 3 छक्के मारे। उनका एक छक्का तो स्टेडियम से बाहर सड़क पर गिरा। धोनी 17 गेंदों पर 29 रन बनाकर नाबाद रहे। इस मैच में कुल 33 छक्के लगे। राजस्थान की तरफ से तेवतिया ने 37 रन पर तीन विकेट लिए।