साफ - सफाई व्यवस्था हेतु 'गंदगी भारत छोड़ो' की तर्ज पर 'गंदगी कानपुर छोड़ो' अभियान चलाएं : केशव प्रसाद मौर्य
August 11, 2020 • Mr Arun Mishra

> कानपुर नगर के सर्किट हाउस में पार्टी पदाधिकारियों, स्थानीय जनप्रतिनिधियों तथा वरिष्ठ अधिकारियों के साथ उप मुख्यमंत्री जी ने की बैठक।

> यह परीक्षा की घड़ी है विभिन्न विभाग अच्छा माहौल बनाकर टीम वर्क के साथ बेहतर परिणाम देना सुनिश्चित करें : उप मुख्यमंत्री 

> कोरोना के बढ़ते प्रकोप को ध्यान में रखते हुये वेन्टीलेटर की अतिरिक्त व्यवस्था सुनिश्चित की जाए : उप मुख्यमंत्री

> आपसी समन्वय बनाकर कार्यों के निस्तारण हेतु एक नोडल अधिकारी कोरोना मामलों के त्वरित निपटारे हेतु नामित करें पुलिस प्रशासन, जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग : उप मुख्यमंत्री

> प्राइवेट अस्पताल में इलाज के दौरान अधिक धनराशि लेने वाले अस्पतालों के लिये मानक निर्धारित कर कार्यवाही हो : उप मुख्यमंत्री

> जनपद के अस्पतालों में कोरोना से संबंधित मरीजों के लिये उपलब्ध सुविधायें की अद्यतन सूचना प्रस्तुत की जाए : उप मुख्यमंत्री

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य 10 अगस्त 2020 को कानपुर के सर्किट हाउस में पार्टी पदाधिकारियों, स्थानीय जनप्रतिनिधियों तथा वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए।  (फोटो : कानपुर उजाला)

कानपुर (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कोविड-19 महामारी के रोकथाम हेतु सर्किट हाउस कानपुर नगर में सोशल डिस्टेंसिंग रखते हुए संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि जनपद में कोरोना के बढ़ते प्रकोप को ध्यान में रखते हुये वेन्टीलेटर की अतिरिक्त व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने आवश्यकतानुसार वेन्टीलेटर की व्यवस्था कराये जाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने कोरोना मरीजों की जांच रिपोर्ट समय से आने व पॅाजिटिव केसों में त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश दिए। जांच रिपोर्ट अधिक समय तक लंबित नहीं रहने पाए। उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन, जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग आपसी समन्वय व सामजस्य बनाकर कार्यों के निस्तारण हेतु एक नोडल अधिकारी कोरोना से संबंधित मामलों के त्वरित निपटारे हेतु नामित करें। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि सरकार कोरोना के नियन्त्रण हेतु निरन्तर प्रयास कर रही है इसलिये जनपद में कोरोना के संक्रमण की रोकथाम के लिये प्रभावी कदम उठाए जाएं। जिससे कि संक्रमण का अधिक विस्तार न होने पाए। उन्होंने वर्तमान में कोरोना के मरीजों की अधिक मृत्यु होने पर चिन्ता व्यक्त करते हुए इसकी रोकथाम हेतु हर सम्भव कदम उठाने के कड़े निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि उनके संज्ञान में आया है कि कतिपय प्राइवेट अस्पताल में कोरोना मरीजों से इलाज के दौरान अधिक धनराशि ली जा रही है। इस पर उन्होंने अस्पतालों के लिये मानक निर्धारित करने व उसी के अनुरुप कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा जनपद के किन - किन अस्पतालों में कोरोना से संबंधित मरीजों के लिये क्या - क्या सुविधायें उपलब्ध है, इसकी अद्यतन सूचना प्रस्तुत की जाए। जिले में कोरोना मरीजों के उपचार की व्यवस्था और अधिक बढाने हेतु तेजी से प्रयास किए जाएं। बैठक में बताया गया कि कोरोना पाॅजिटिव मरीज पूर्णतः ठीक होने पर वह दूसरों को कोरोना नहीं फैला सकता है। उन्होंने लोगों में जागरुकता लाने हेतु इसका व्यापक प्रचार प्रसार कराने के निर्देश दिए। श्री मौर्य ने कहा कि यह परीक्षा की घड़ी है जिला प्रशासन, पुलिस व स्वास्थ्य विभाग अच्छा माहौल बनाकर टीम वर्क के साथ बेहतर परिणाम देना सुनिश्चित करें। कोरोना मरीजों के हित में जो भी आवश्यक कदम उठाने हों व निर्णय लेने हों, लिए जाएं। उन्होंने अपील की कि कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु शरीरिक दूरी - बहुत जरुरी को अवश्य बनाए रखें तथा इससे बचाव के लिये मास्क लगाने, बार-बार हांथ धोने के साथ कोरोना के अन्तर्गत अन्य साधनों को अपनाएं। उन्होंने कोरोना से बचाव हेतु ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र में सफाई की समुचित व्यवस्था कराये जाने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्देश दिए कि साफ - सफाई व्यवस्था हेतु 'गंदगी भारत छोड़ो' की तर्ज पर 'गंदगी कानपुर छोडो़' अभियान चलायें। उत्तर प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने कोविड मरीजों के साथ - साथ नाॅन कोविड के मरीजों का प्राइवेट / सरकारी अस्पतालों में उपचार की समुचित व्यवस्था कराए जाने के संबंध में अवगत कराया जिस पर श्री मौर्य ने कोविड एवं नाॅन कोविड मरीजों की समुचित उपचार की व्यवस्था कराए जाने के चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिये। बैठक में महापौर  प्रमिला पाण्डेय, उच्च शिक्षा राज्यमंत्री नीलिमा कटियार, सांसद देवेन्द्र सिंह भोले सहित विधायकगण सर्वश्री सुरेंद्र मैथानी, महेश त्रिवेदी, भगवती प्रसाद सागर, सलिल विश्नोई, एमएलसी अरुण पाठक, रघुनंदन सिंह भदौरिया, मण्डलायुक्त डा सुधीर एम बोबडे़, नोडल अधिकारी मयूर महेश्वरी, पुलिस महानिरीक्षक कानपुर परिक्षेत्र मोहित अग्रवाल, जिलाधिकारी डॉ ब्रह्मदेव राम तिवारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रीतिन्दर सिंह, नगर आयुक्त अक्षय त्रिपाठी, मुख्य चिकित्साधिकारी डा अनिल कुमार मिश्रा सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।