समस्याओं का कराया जाए गुणवत्तापूर्ण निस्तारण: अपर मुख्य सचिव, नियुक्ति
May 8, 2020 • Mr Arun Mishra
卐 मण्डलायुक्त द्वारा नामित अधिकारी ने उर्सला अस्पताल में स्थापित कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया।
卐 नामित अधिकारी ने उर्सला के डाटा फीडिंग कंट्रोल रूम का भी निरीक्षण किया।
卐 नामित अधिकारी ने नगर निगम कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया। 
卐 नामित अधिकारी ने टेलीमेडिसिन सेवाओं के विषय में प्राप्त की जानकारी।
卐 नामित अधिकारी के कहने पर जिलाधिकारी ने टेलीमेडिसिन परामर्श हेतु काॅल कर, सेवाओं की पुष्टि की।
卐 नामित अधिकारी ने कानपुर विकास प्राधिकरण परिसर में स्थापित भोजन वितरण व्यवस्था की जानकारी प्राप्त की।
卐 नामित अधिकारी ने रेलवे लोको प्रशिक्षण केंद्र का निरीक्षण किया।
 

कानपुर। अपर मुख्य सचिव, नियुक्ति अनुभाग - 1 उत्तर प्रदेश द्वारा बुधवार 6 मई को नोवल कोरोना वायरस कोविड 19 से प्रभावित मरीजों के उपचार व इसके संक्रमण के प्रसार की रोकथाम हेतु मण्डलायुक्त के नियंत्रणाधीन अधिकारियों को संबद्ध किया गया है जो  मण्डलायुक्त द्वारा आवंटित जनपद में 1 सप्ताह प्रवास  कर आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करेंगे। जिस पर मण्डलायुक्त डॉ सुधीर बोबड़े द्वारा गोविंदराजू एनएस, आईएएस, प्रभारी आयुक्त एवं निदेशक, उद्योग कानपुर नगर में प्रवास कर जनपद में संचालित कम्युनिटी किचन, शेल्टर होम्स, अन्य प्रदेशों से लौटने वाले प्रवासी मजदूरों की समस्त व्यवस्थाएं, क्वारेन्टाइन सेंटर की समस्त व्यवस्थाएं तथा कोविड 19 की रोकथाम हेतु शासन द्वारा निर्गत समस्त आदेशों का सम्यक अनुपालन सुनिश्चित करेंगे। इसी के क्रम में गोविंद राजू एनएस द्वारा गुरुवार 7 मई को शहर के विभिन्न क्षेत्रों का भ्रमण किया गया। जिसके अंतर्गत उन्होंने सबसे पहले उर्सला अस्पताल में स्थापित कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि आने वाली शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण  निस्तारण हो और निस्तारित शिकायतों का रिकार्ड भी रहे। उन्होंने उर्सला के डाटा फीडिंग कंट्रोल रूम का भी निरीक्षण किया जहाँ पर सभी प्रकार  की फीडिंग की जा रही थी उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि बहुत ही सावधानी के साथ फीडिंग की जाए ताकि मॉनिटरिंग करने में समस्या न हो। तत्पश्चात उन्होंने नगर निगम कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने वर्तमान में आने वाली समस्याओं के विषय में जानकारी की। उपस्थित अधिकारियों द्वारा बताया गया कि अब समस्याएं कम आ रही हैं। उन्होंने कहा कि जो भी समस्याएं आएँ उनका गुणवत्तापूर्ण निस्तारण कराया जाए, निस्तारण इस प्रकार का हो कि संबंधित व्यक्ति पूर्ण रूप से संतुष्ट हो इस बात का भी विशेष ध्यान रहे। तत्पश्चात उन्होंने नगर निगम में ही स्थित टेलीमेडिसिन कक्ष का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने अभी तक कुल कितने मरीजों को टेलीमेडिसिन की सुविधा दी गई इसके विषय में जानकारी की तो उपस्थित कर्मी द्वारा बताया गया कि कुल 1310 लोगों को टेलीमेडिसिन के माध्यम से सलाह दी गई। इस पर उन्होंने कहा कि जो सलाह दी जाती है उसकी दवा का नाम भी उन्हें व्हाट्सएप व टेक्स्ट मैसेज के द्वारा भेजी जाए ताकि मेडिकल स्टोर में उसे कोई असुविधा न हो इस पर उपस्थित कर्मी ने बताया कि जो दवा डॉक्टर द्वारा बताई जाती है वह व्हाट्सएप व टेक्स्ट  मैसेज के द्वारा संबंधित को भेजा जाता है। उन्होंने इस समय डॉक्टर की उपस्थिति न होने के विषय में जानकारी की तो कर्मी द्वारा बताया गया कि अब सुबह 11:00 बजे से 2:00 बजे तक का समय है। इस पर श्री गोविंद द्वारा पूछा गया कि क्या वर्तमान समय पर भी डॉक्टर उपलब्ध होंगे ? इस पर उपस्थित तल कर्मी ने कहा, हाँ। उन्होंने टेलीमेडिसिन के नंबर लेकर कॉल करने के लिए कहा जिस पर जिलाधिकारी ने टेलीमेडिसिन परामर्श हेतु व्हाट्सएप कॉलिंग की। जिस पर डॉक्टर अमित सिंह द्वारा फोन अटेंड किया गया और जिलाधिकारी महोदय को उनके द्वारा पूछी गई सलाह के विषय में डॉ अमित सिंह द्वारा उनको जानकारी दी गई। तत्पश्चात उन्होंने कानपुर विकास प्राधिकरण परिसर में स्थापित भोजन वितरण व्यवस्था की जानकारी करने हेतु निरीक्षण किया। इस समय इस्कॉन मंदिर द्वारा बनाए गए उनके कम्युनिटी किचन के भोजन पैकेट जो केडीए में पहुँचे ही थे को देखा और उसकी  गुणवत्ता को देखा जो बहुत ही अच्छी थी। उन्होंने पूछा कि यह किस प्रकार वितरित किया जाता है इस पर जिलाधिकारी डॉ ब्रह्मदेव तिवारी ने बताया कि संबंधित थानों द्वारा इस भोजन को वितरण करने की व्यवस्था की गई है। उन्होंने केडीए में एकत्रित सूखे राशन को भी देखा। तत्पश्चात उन्होंने रेलवे लोको प्रशिक्षण केंद्र का निरीक्षण किया। जिसमें क्वारेन्टाइन  सेंटर बनाया गया है। यहाँ की कैंटीन को देखा, जहाँ पर क्वारेन्टाइन में रहने वालों के लिए रेलवे की कैंटीन में ही भोजन बनाया जाता है कैंटीन का निरीक्षण किया निरीक्षण के दौरान कैंटीन साफ मिली। तत्पश्चात उन्होंने  चमनगंज हॉटस्पॉट क्षेत्र का निरीक्षण किया।