सीजीएसटी अधिकारीयों द्वारा उद्यमियों को प्रदान किया जा रहा है सराहनीय सहयोग
November 12, 2019 • Mr Arun Mishra

> सर्विस टैक्स और एक्साइज के विवादों में ब्याज एवं पेनल्टी की पूर्ण छूट के साथ साथ आरोपित कर में भी 40 -70  प्रतिशत तक छूट प्रदान की जायगी।


कानपुर (का ० उ सम्पादन)।  सोमवार दिनांक 11 नवंबर को केंद्र सरकार द्वारा पूर्व के उत्पाद कर एवं सर्विस टैक्स से सम्बंधित विवादों के निस्तारण हेतु दिनांक 1 सितम्बर 2019 से 31 दिसंबर 2019 तक लायी गई सबका विश्वास लेगेसी डिस्प्यूट रेगुलेशन स्कीम 2019 के सम्बन्ध में एक कार्यशाला का आयोजन आईआईए भवन में किया गया। इस संगोष्ठी में सीजीएसटी के विभाग से जितेंद्र सिंह (जॉइंट कमिश्नर), विजय सिंह (असिस्टेंट कमिश्नर), विजय मीणा (असिस्टेंट कमिश्नर), पंकज मीणा (असिस्टेंट कमिश्नर), अजय श्रीवास्तव (असिस्टेंट कमिश्नर), संदीप बाली (सुपरिंटेंडेंट) ने भाग लिया। सर्व प्रथम उद्यमियों को सरकार द्वारा लायी गई योजना सबका विश्वास लेगेसी डिस्प्यूट रेगुलेशन स्कीम 2019 के सम्बन्ध में जानकारी देते हुए बताया गया की पूर्व के सर्विस टैक्स और एक्साइज की जिन कमियों के निम्मन प्रकार के केस विभाग में विचाराधीन चल रहे हैं। 

१- 30 जून 2019 तक जारी किये गए कारण बताओ नोटिस लंबित हैं , जिसमें अंतिम सुनवाई न हुई हो।

२- 30 जून 2019 तक दायर की गई कोई अपील जो लंबित हो जिसमें अंतिम सुनवाई न हुई हो।

३- 30 जून 2019 तक जारी किये गए आदेश य अपीलीय आदेश जिनके विरुद्ध आगे अपील न की गई हो।

४-30 जून 2019 से पहले शुरू की गई विभागीय जांच , ऑडिट य इन्क्वारी जिसमें कर देयता निर्धारित की जा चुकी हो।

५-सर्विस टैक्स य एक्साइज विवरणी में दिखाया गया देय कर जो की अभी तक चुकाया न गया हो।

६- ऐसे मामले जिसमें 30 जून 2019 से पहले कोई जांच ऑडिट य इन्क्वारी न चल रही हो, से सम्बंधित स्वेच्छित डिक्लेरेशन भी किया जा सकता है।

उपरोक्त का सभी प्रकार के विवादों में ब्याज एवं पेनल्टी की पूर्ण छूट के साथ साथ आरोपित कर में भी 40 -70  प्रतिशत तक छूट प्रदान की जायगी। विभाग से आये अधिकारीयों ने बताया कि विभाग में अभी तक 64  केस रजिस्टर्ड हुए हैं जिसमें से 18 केस का निस्तारण विभाग द्वारा किया जा चुका है। तत्पश्चात एक ओपन हाउस का आयोजन किया गया जिसमें सम्मानित उद्यमी भाइयों ने अपनी अपनी समस्याएं रखीं जिन्हें जानकारी का अभाव था उन्हें जानकारी दे कर संतुष्ट किया गया। इसके साथ ही सी जी एस टी विभाग द्वारा कानपुर कार्यालय में स्थापित हेल्प डेस्क के सम्बन्ध में जानकारी देते हुए अपनी समस्याओं के संधान के लिए आमंत्रित किया गया।  संगोष्ठी का संचालन संस्था के महामंत्री संजय जैन ने किया।  आये हुए अतिथियों का स्वागत आई आई ए  कानपुर चैप्टर के अध्यक्ष अलोक अग्रवाल ने किया। तत्पश्चात संस्था के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष तरुण खेतरपाल ने सभी उद्यमियों तथा अधिकारीयों को बैठक में आने के लिए धन्यवाद दिया। इस अवसर पर सी जी एस टी विभाग के उपरोक्त अधिकारीयों के साथ ही संस्था के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष तरुण खेतरपाल, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नवीन खन्ना, अध्यक्ष अलोक अग्रवाल, महामंत्री संजय जैन, दिनेश बरासिया, जय हेमराजानी, सतीश गुप्ता, मनमोहन राजपाल, विक्रांत अग्रवाल, संदीप पाटनी सहित काफी संख्या में उद्यमियों ने भाग लिया।